scriptThese unclaimed dead bodies are also waiting for 10 March | Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : इन लावारिस लाशों को भी है 10 मार्च का इंतजार,कारण जान हो जाएंगे हैरान | Patrika News

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : इन लावारिस लाशों को भी है 10 मार्च का इंतजार,कारण जान हो जाएंगे हैरान

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 मेरठ मंडल के जिलों में इस समय विधानसभा चुनाव के दौरान थानों में सभी काम रूके हुए हैं। सभी प्रकार की कानूनी जांचें अटकी हुई है। इस समय सभी थानों का अधिकांश फोर्स चुनाव डयूटी में व्यस्त है। इसलिए थाने के भीतर कोई काम नहीं हो रहे हैं। यहां तक कि जो लाशें लावारिस रूप में मिली थीं उनका अंतिम संस्कार तो कर दिया गया लेकिन उनको अभी तक पहचान नहीं मिल पाई है।

मेरठ

Updated: March 07, 2022 02:27:11 pm

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 गत फरवरी माह से प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की प्रक्रिया जोरों पर है। आज मतदान का अंतिम चरण के लिए वोट डाले जा रहे हैं। इसके बाद चुनाव समाप्त हो जाएगा और फिर मतगणना की तैयारी होगी। मतगगणना आगामी 10 मार्च को होगी। उप्र विधानसभा चुनाव 2022 का सात चरणों में मतदान हुआ। मतदान के इन चरणों में पुलिस की डयूटी लगी। लिहाजा अन्य सभी कामों पर रोक सी लग गई। इनमें थानों में अपराधों की समीक्षा के अलावा जिलों में मिलने वाली लावारिश लाशों की शिनाख्त का काम भी शामिल हैं।
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : इन लवारिस लाशों को भी है 10 मार्च का इंतजार,कारण जान हो जाएंगे हैरान
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : इन लवारिस लाशों को भी है 10 मार्च का इंतजार,कारण जान हो जाएंगे हैरान
जिलों की मोर्चरी में रखी लावारिस लाशें पुलिस कर्मियों का इंतजार कर रही है। कब पुलिसकर्मी चुनावी डयूटी से वापस लौटकर आए और लावारिस लाश की शिनाख्त कर उनका क्रिया कर्म करवाए या फिर उनके परिजनेां केा सौंपे। जिससे मरने वालों की आत्मा को शांति मिल सके। फरवरी माह में मेरठ मंडल के जिलों में करीब 10 लाशें विभिन्न जिलों में अब तक मिल चुकी हैं। जिनकी अभी तक शिनाख्त नहीं हो सकी की। इन लाशों को मोर्चरी में रखवाया गया है। एक माह के भीतर मिले इन शवों की पहचान अभी तक नहीं हो सकी है। पुलिसकर्मियों के चुनाव ड्यूटी में लगे होने से लाशों की शिनाख्त और उनकी पहचान का काम अधूरा पड़ा हुआ है। जिससे ये काम अब पूरी तरह से बाधित है।
यह भी पढ़े : UP assembly election 2022 seventh phase: आजमगढ़ में धीमी शुरूआत के बाद बढ़ा वोटिंग का ग्राफ, 11 बजे तक 20.09 प्रतिशत मतदान

इन लावारिस लाशों को भी 10 मार्च तक इंतजार करना होगा। उसके बाद ही इनको अपनों की पहचान मिल सकेगी। हालांकि लावारिस लाशों को अधिक समय तक रोका नहीं जाता है। इन लावारिस लाशों का मिलने के 72 घंटे बाद पोस्टमार्टम कराकर अंतिम संस्कार करा दिया जाता है। लेकिन मृतक कौन था, कहां से था, इन सब सवालों का जवाब खोजना बाकी रह जाता है। ये भी अब 10 मार्च के बाद ही पता चलेगा। जब जिलों के थानों में पुलिसकर्मियों की वापसी होगी और वे इन लावारिस लाशों के बारे में जांच पड़ताल कर पता करेंगे कि आखिर लाश कहां से आई और किसकी थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

सिर्फ पेट्रोल और डीजल ही नहीं, पांच चीजें हुईं सस्ती, केरल सरकार ने भी घटाया वैट, चेक करें आपके शहर में क्या हैं दामIPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ में'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.