West Bengal: बाबुल सुप्रियो ने BJP का छोड़ा दामन, अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में TMC में हुए शामिल

West Bengal ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए

By: धीरज शर्मा

Updated: 18 Sep 2021, 03:37 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में भारती जनता पार्टी ( BJP )की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। विधायकों के बाद अब बड़े नेता भी पार्टी का दामन छोड़ रहे हैं। भाजपा के पूर्व मंत्री और आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस का दामना थाम लिया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में बाबुल सुप्रियो ने शनिवार को टीएमसी जॉइन की। इस मौके पर टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रयान भी मजौूद रहे।

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद से ही लगातार बीजेपी के नेता पार्टी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम रहे हैं। मुकुल रॉय से लेकर तन्मय घोष, विश्विजीत दास जैसे कई बड़े नेता इनमें शामिल हैं।

यह भी पढ़ेंः West Bengal By Election: ममता बनर्जी के खिलाफ BJP ने बदली रणनीति, भवानीपुर में इस तरह करेगी प्रचार

पश्चिम बंगाल में तीन सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले ही बीजेपी को लगातार बड़े झटके लग रहे हैं। पहले विधायक पार्टी छोड़ रहे थे, अब दिग्गजों ने किनारा करना शुरू कर दिया है। शनिवार को बीजेपी के कद्दावर नेता बाबुल सुप्रियों ने तमाम अटकलों के बीच बीेजपी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस का दाम थाम लिया।

टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी और डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदी में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।

जुलाई में की थी राजनीति से संन्यास की घोषणा
बाबुल सुप्रियो ने जुलाई के महीने में ही राजनीति से संन्यास लेने की घोषणा की थीष इस दौरान उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिख कहा है कि वे राजनीति में सिर्फ समाज सेवा के लिए आए थे। अब उन्होंने अपनी राह बदलने का फैसला लिया है।

हालांकि इस दौरान उन्होंने ये बात कही थी कि वे किसी पार्टी में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने कहा था कि लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में होना जरूरी नहीं है। वे राजनीति से अलग होकर भी अपने उस उदेश्य को पूरा कर सकते हैं।

उनकी तरफ से पोस्ट में पहले इस बात पर भी जोर दिया गया कि वे हमेशा से बीजेपी का ही हिस्सा रहे हैं और रहेंगे। लेकिन अब उनकी तरफ से अपनी पोस्ट को अपडेट किया गया है और उन्होंने इस लाइन को हटा दिया है।

मुकुल रॉय की विधानसभा सदस्यता रद्द करने को लेकर तो शुभेंदु अधिकारी कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा चुके हैं। इस मामले में 23 सितंबर को सुनवाई होना है। वहीं पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं के खिलाफ भी बीजेपी सख्त रुख अपनाने के मूड में है।

यह भी पढ़ेंः West Bengal: पार्टी छोड़ने वालों के खिलाफ BJP हुई सख्त, अब कोर्ट जाएंगे शुभेंदु अधिकारी

वहीं टीएमसी के कुणाल घोष ने बाबुल सुप्रियो के टीएमसे में शामिल होने पर कहा, 'भाजपा के कई नेता टीएमसी नेतृत्व के संपर्क में हैं। वे भाजपा से संतुष्ट नहीं हैं। एक (बाबुल सुप्रियो) आज शामिल हुए, दूसरा कल शामिल होना चाहता है। यह प्रक्रिया चलती रहेगी। रुकिए और देखते रहिए।'

संपर्क में 24 विधायक
मुकुल रॉय पहले ही इशारा दे चुके हैं कि बीजेपी से बड़ी संख्या में विधायक टीएमसी में आने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने ये भी कहा था कि करीब 24 विधायक तृणमूल कांग्रेस के संपर्क में हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned