Cyber Fraud: हर तरह के फ्रॉड से बचने के लिए सुरक्षित है कार्ड प्रोटेक्शन प्लान (CPP)

  • कार्ड प्रोटेक्शन प्लान में क्रेडिड कार्ड और डेबिट कार्ड के साथ-साथ स्टोर, लॉयलटी, आधार, पैन कार्ड सभी शामिल हैं।
  • पर्स खोने के बाद हर कार्ड को ब्लॉक करने के लिए अलग-अलग बैंकों में फोन नहीं करना पड़ेगा।

By: ashutosh kumar

Published: 21 Aug 2021, 01:47 AM IST

कोरोनाकाल में पूरे देश में डिजिटल ट्रांजैक्शन में बढ़ोतरी हुई है। जिसके कारण नेटबैंकिंग, यूपीआई और क्रेडिट व डेबिट कार्ड का बहुत ज्यादा इस्तेमाल होने लगा है। वहीं डिजिटल ट्रांजैक्शन की ग्रोथ के साथ-साथ साइबर अपराध भी काफी तेजी से बढ़े हैं फिशिंग, हैकिंग आईडेंटिटी थेफ्ट जैसे अपराध आम हो चले हैं। साइबर चोर आपकी जेब में सेंध मारने के नए-नए पैंतरे अपनाते रहते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप अपने क्रेडिट व डेबिट कार्ड को लेकर ज्यादा सतर्क रहें।

  • कार्ड प्रोटेक्शन प्लान
    अपनी सुरक्षा के लिए आप चाहें तो कार्ड प्रोटेक्शन प्लान (सीपीपी) ले सकते हैं। कार्ड प्रोटेक्शन प्लान ऐसी ही एक स्कीम है, जिसके जरिए आप खुद को इन चोरियों और फ्रॉड से बचा सकते हैं। सभी बैंक अपने ग्राहकों को प्रोटेक्शन प्लान की सेवा देते हैं। इसमें आपके कार्ड के साथ होने वाले धोखाधड़ी को कवर किया जाता है। जिसमें ऑनलाइन फ्रॉड, कार्ड की चोरी, यूपीआई पिन के जरिए फ्रॉड आदि शामिल होता है। कार्ड प्रोटेक्शन प्लान में क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के साथ-साथ स्टोर, लॉयलटी, आधार, पैन कार्ड सभी शामिल हैं। इसके अलावा इस प्लान की खास बात यह है कि अगर आपके वॉलेट में एक से ज्यादा कार्ड थे तो आपको हर कार्ड को अलग-अलग ब्लॉक नहीं करवाना होगा।
  • कार्ड प्रोटेक्शन प्लान का सालाना प्रीमियम
    कार्ड प्रोटेक्शन प्लान के लिए आपको बैंक कई तरह के पैकेज देते हैं। जैसे भारतीय स्टेट बैंक आपके क्लासिक सिंगल, प्रीमियम ज्वाइंट या प्लैटिनम फैमली जैसे प्लान देती है। इसमें आपको 1599 रुपए से लेकर 2499 रुपए तक सालाना प्रीमियम देना होता है। ऐसे ही प्राइवेट बैंक एक्सिस बैंक भी ग्राहकों को प्रीमियम और प्लैटिनम प्लान ऑफर करता है। इसमें 1999 रुपए से लेकर 2499 रुपए सालाना प्रीमियम देना होता है। इसे आप चाहे तो इसे छह और तीन माह की ईएमआई अवधि के रूप में दे सकते हैं।
Cyber Fraud: हर तरह के फ्रॉड से बचने के लिए सुरक्षित है कार्ड प्रोटेक्शन प्लान
  • बैंक करता है फाइनेंशियल हेल्प
    आपके डेबिट या क्रेडिट कार्ड (Debit Card/Credit Card) के साथ धोखाधड़ी होने पर बैंक आपको फाइनेंशियली हेल्प करता है। इसमें आपके प्रोटेक्शन प्लान के हिसाब से करीब 2 लाख रुपए की सहायता दी जाती है। यात्रा के दौरान धोखाधड़ी होने के दौरान आपको आपके होटल के खर्चों और रिटर्न टिकट के लिए भी बैंक पैसे देती है। ये सेवा ख़ासतौर पर तब मददगार है जब आप देश में ही सफ़र कर रहे हों। यदि आपके साथ यह धोखाधड़ी विदेश यात्रा के दौरान हुई है, तो यह राशि कुछ अधिक हो सकती है। वार्षिक प्रीमियम का भुगतान करके इस प्लान को रीन्यू कराना होता है।
  • कार्ड प्रोटेक्शन प्लान में क्या है शामिल?
  • इसमें डेबिट-क्रेडिट कार्ड खो जाने के बाद उससे होने वाले ट्रांजेक्शन का कवर मिलता है।
  • अगर कार्ड खो जाता है तो आपके द्वारा टोलफ्री नंबर पर फोन करते ही सभी कार्ड ब्लॉक कर दिए जाते हैं।
  • इसके साथ ही आपको बैंक से नया कार्ड लेने के लिए कोई फीस नहीं चुकानी पड़ती।
  • कैसे करें धोखाधड़ी की शिकायत
    क्रेडिट व डेबिट कार्ड से जुड़ी किसी भी तरह की धोखधड़ी में आप कार्ड प्रोटेक्शन प्लान की हेल्पलाइन नंबर 1800-419-4000 पर कॉल कर सकते हैं। वहीं अपने शहर के STD कोड के साथ आप 60004000 नंबर पर भी डायल कर सकते हैं। यह सर्विस 24×7 उपलब्ध है।
  • कार्ड प्रोटेक्शन प्लान ऐसा इंश्योरेंस प्लान है, जो आपके क्रेडिट, डेबिट या सरकारी आईडी (आधार, पैन, लाइसेंस आदि) के गुम, चोरी या उनके दुरुपयोग से होने वाले नुकसान का कवर देते हैं।
ashutosh kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned