scriptबेटी को बचाने के लिए जंगली सूकर से भिड़ी मां, खुद गंवा बैठी जान, बेटी ने रो-रोकर बताई आपबीती | To save the daughter, mother fought with wild boar, lost life herself | Patrika News

बेटी को बचाने के लिए जंगली सूकर से भिड़ी मां, खुद गंवा बैठी जान, बेटी ने रो-रोकर बताई आपबीती

locationरायपुरPublished: Feb 27, 2023 02:27:51 pm

Submitted by:

Sakshi Dewangan

कोरबा जिले के वनांचल क्षेत्र में एक महिला अपनी बेटी की जान बचाने के लिए जंगली सूकर से इस कदर भिड़ गई कि संघर्ष में महिला और जंगली सूकर दोनों की जान चली गई. वहीं डरी सहमी हुई बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

suar.jpg

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक महिला अपनी बेटी के साथ खेत से काली मिट्टी की खुदाई कर रही थी. इसी दौरान बेटी पर जंगली सूकर (wild boar) ने हमला कर दिया. बेटी के जान को बचाने के लिए महिला ने अपनी जान की परवाह किए बगैर जंगली सूकर से भिड़ (fight) गई. दोनों के बीच करीब 30 मिनट तक जंग जारी रहा. इस दौरान महिला मां के पेट में जंगली सूकर का दांत चला गया और वे गंभीर रूप से घायल हो गई. फिर भी वे सूकर से लड़ती रही. अंत में महिला की सांसे थम गई. वहीं जंगली सूकर की भी जान चली गई.

जानिए पूरा मामला
दरअसल कोरबा जिला मुख्यालय से करीब 75 किलोमीटर दूर पसान थाना क्षेत्र के वनांचल ग्राम तेलियामार की रहने वाली दुवशिया बाई अपने 11 साल की पुत्री रिंकी के साथ घर से करीब 1.5 किलोमीटर दूर पर काली मिट्टी की खुदाई कर रही थी. इसी दौरान जंगली सूकर बेटी रिंकी की तरफ बढ़ा और उसे नीचे गिरा दिया. बेटी पर जंगली सूकर का हमला देख दुवाशिया बाई जान की परवाह किए बगैर उससे भीड़ गई. दोनों के बीच करीब आधे घंटे तक लड़ाई होती रही. जंगली सूकर ने महिला दुवाशिया बाई के पेट में सिर से वार किया, जिससे इनके पेट में जंगली सूकर का नुकीला दांत आ गया.

महिला के शव के ऊपर मिली सूकर की लाश
बेटी की जान बचाने के लिए सूकर से संघर्ष के दौरान महिला की साड़ी खुल गई, जिससे सूअर उलझ गया. वहीं जहां बूरी तरह से जख्मी महिला की जान चली गई. तो दूसरी तरफ महिला की दम घूटने से सूकर की भी जान चली गई. इस घटना के बारे में बताया जा रहा है कि पहले महिला की मौत हुई, उसके बाद सूकर की मौत हुई. वन परिक्षेत्र के रेंजर के अनुसार महिला के लाश के ऊपर सूअर की लाश थी. घटनास्थल पर दोनों के संघर्ष के निशान हैं.

परिजन को दिया गया 25 हजार का मुआवजा
फिलहाल पूरे मामले में पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिजनों को सौंप दिया. वन विभाग की तरफ से मृतक महिला के परिवार को 25 हजार रुपए सहायता राशि प्रदान की जाएगी. वहीं इस घटना में डरी हुई बच्ची को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

ट्रेंडिंग वीडियो