नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस की हार पक्की, भाजपा 50 सीटों में लहराएगी झंडा - रमन सिंह

भाजपा की दोहरी तैयारी, चुनाव भी लड़ेंगे और प्रक्रिया के खिलाफ कोर्ट भी जाएंगे .

रायपुर. छत्तीसगढ़ में उपचुनाव संपन्न हो चुके हैं अब कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टी नगरीय निकाय चुनाव के लिए जमीनी स्तर पर कार्य करना शुरू कर चुके हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा चुनाव प्रक्रिया में बदले नियम पर पूर्व सीएम रमन सिंह भी तमाम बातें कह रहे हैं उसी बीच छत्तीसगढ़ भाजपा के दोहरी रणनीति भी देखने को मिली है। जब पूर्व सीएम ने कहा, हम चाहते हैं कि जनता का अधिकार बना रहे और जनता के माध्यम से ही महापौर का निर्वाचन हो, लेकिन भूपेश सरकार ने पहले ही हार मान ली है और अप्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव करा रही है।

राजधानी पुलिसकर्मी अपने ही विभाग से लूट रहे रुपए, अधिकारी से कर्मचारी तक इस खेल में है शामिल

बैठक को संबोधित करते हुए डॉ. रमन ने कहा, इस चुनाव में सभी कार्यकर्ता अपनी दावेदारी कर सकते हैं। पार्षद से ही राजनीति की शुरुआत होती है। इसके माध्यम से ही राजनीति के चरम पर पहुंचा जा सकता है। इस दो बड़ा उदाहरण में मैं और रमेश बैस है। उन्होंने आगे कहा कि दावेदारी के बाद पार्टी जिसे टिकट देगी, उसके लिए काम करना होगा।

Sex Racket सरगना के खिलाफ लिखवाया था नाबालिग ने FIR, अब लड़की के पिता पर दुष्कर्म का मामला दर्ज

उन्होंने रायपुर निगम में 50 पार्षदों के जीतने का दावा किया है। रमन ने कहा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भयभीत है। सरकार ने एक सर्वे करवाया था। इसमें 90 फीसदी निकायों में हार की रिपोर्ट आई थी। इसके बाद ही प्रक्रिया में बदलाव किया गया है। उन्होंने कहा, कांग्रेस को उसके कर्म ही ले डूबेंगे। बैठक को रायपुर के चुनाव प्रभारी खूबचंद पारख ने भी संबोधित किया।

Exclusive Photo: जान की बाजी लगाकर लोकत्रंत्र के महापर्व में शामिल हुए धुर नक्सल क्षेत्र के मतदाता, नदी पारकर पहुंचे पोलिंग बूथ

जीतने से ही बदलेंगे हालात
संगठन और निकाय चुनाव की तैयारियों को लेकर आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री व विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, पहले की तुलना में अभी परिस्थिति अनुकूल नहीं है। इसके हिसाब से ही हमें संघर्ष करना होगा। जीत मिलने के बाद ही रास्ते आसान हो सकते हैं। सभी कार्यकर्ता पूरी ताकत के साथ चुनाव में अपनी सहभागिता निभाएं।

परिजनों ने खुदकुशी बताकर युवक का कर दिया अंतिम संस्कार, PM रिपोर्ट में हुआ हत्या का खुलासा

30 और 31 को होगा मंडल अध्यक्षों का चुनाव
बैठक में बूथ समितियों के गठन की जानकारी ली गई। इसके साथ ही मंडल अध्यक्षों के चुनाव के लिए 30 और 31 अक्टूबर की तिथि तय कर दी गई है। रायपुर शहर में भाजपा के 16 मंडल है। बैठक में यहां चुनाव कराने के लिए पर्यावेक्षकों के नामों की भी घोषणा कर दी गई। पर्यवेक्षक जाकर एक नाम पर सहमति बनाएंगे। माना जा रहा है कि उसी दिन मंडल अध्यक्षों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी।

Click & Read More Chhattisgarh News.

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned