वास्तु टिप्स : घर में बरकत के लिए हमेशा रहेगा आपके पास पैसा

दिन दुनी रात चौगुनी होगी तरक्की...

By: दीपेश तिवारी

Published: 06 Oct 2020, 08:18 AM IST

आज के दौर में अपनी सारी ख्वाइशें पूरी करना किसी के लिए भी संभव नहीं है। वहीं पैसे की कई बार छोटी सी छोटी ख्वाइश को भी दम तोड़ने के लिए मजबूर कर देती है। वहीं जिनके पास पैसा है वे काफी हद तक अपनी ख्वाइशें पूरी कर लेते हैं। ऐसे में हर कोई आज आपनी व अपनों की ख्वाइशों को पूरा करने के लिए किसी भी तरह से ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना चाहता है, ताकि उसे व उसके अपनों को न तो किसी कमी का सामना करना पड़े साथ ही उनकी कोई भी ख्वाइश दम न तोड़े।

इस संबंध में वास्तु की जानकार रचना मिश्रा के अनुसार इन्ही सब बातों के चलते हर कोई यही चाहता है कि उसकी आमदनी अच्छी हो और वो ज्यादा से ज्यादा बचत भी कर सकें, ताकि जरूर पड़ने पर वह उसका उपयोग कर अपनी सभी ख्वाइशों को पूरा कर सके। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि ये दोनों ही इच्छाएं पूरी नहीं हो पाती है। जी हां क्योंकि कई लोग ऐसे हैं जिनकी कमाई तो अच्छी हो जाती है, लेकिन उनके हाथ में पैसा नहीं टिक पाता है। ऐसे में लोग ज्यादा परेशान हो जाते हैं, हालांकि कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो कमाते कम हैं, लेकिन फिर भी उनके यहां बरकत बनी रहती है। इसका कारण वास्तु दोष हो सकता है, ऐसे में कुछ वास्तु टिप्स हैं, जो हमारे घर में बरकत लाने में मदद करते हैं।

ये कुछ ऐसे टिप्स हैं जिनके संबंध में माना जाता है कि अगर आपकी आमदनी अच्छी है पर बचत कर पाने में असफल हैं तो इन वास्तु के नियमों का पालन करें आप दिन दुनी रात चौगुनी तरक्की कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं कि आखिर वो कौन-कौन से कारण हैं जिसकी वजह से घर की तरक्की रुक जाती है।

धन प्राप्ति के वास्तु टिप्स : Vastu Tips for Money

इस दिशा में न रखें कूड़ादान...
आपको जानकर हैरानी होगी कि कुड़ादान कहा रखा है इसका भी प्रभाव भी हमारे आर्थिक जीवन पर पड़ता है। वास्तु की मानें तो घर के उत्तर पूर्व यानी ईशान कोण में कूड़ादान या फिर घर का कचड़ा नहीं रखना चाहिए, क्योंकि इस कोण पर गंदगी होने से धन का नाश हो जाता है।

नल से नहीं टपकना चाहिए पानी...
अक्सर हममें से कई लोग के घरों के बाथरूम या फिर किसी भी एरिया में नल से पानी टपकते रहता है, लेकिन वास्तु शास्त्र की मानें तो नल से पानी टपकना शुभ नहीं माना जाता है, क्योंकि यह आर्थिक नुकसान का बड़ा कारण माना जाता है। नल से पानी का टपकते रहना धीरे-धीरे धन के खर्च होने का संकेत होता है इससे बरकत नहीं होती है।

इस दिशा में होनी चाहिए रसोई...
ध्यान रहे कि वास्तु के अनुसार घर की रसोई आग्नेय कोण यानि (दक्षिण-पूर्व) में होनी चाहिए। पश्चिम दिशा में रसोई घर होने पर धन का आगमन अच्छा रहता है लेकिन बरकत नहीं रहती है यानी धन जैसे आता है वैसे खर्च भी हो जाता है।

घर की इस दिशा में न हो रुकावट...
वास्तु की मानें तो घर की उत्तर-पूर्व दिशा एकदम सपाट होनी चाहिए। वास्तु का नियम कहता है कि घर की ढलान अगर उत्तर पूर्व में ऊंची है तो धन के आगमन में रुकावट आती रहती है और आय की अपेक्षा खर्च ज्यादा होता है।

यह दीवार है बेहद खास...
वास्तु के नियमानुसार, शयनकक्ष में कमरे के प्रवेश द्वार के सामने वाली दीवार के बाएं कोने पर धातु की कोई चीज लटकाकर रखनी चाहिए। वास्तु में यह स्थान भाग्य और संपत्ति का होता है। इस दिशा में दीवार में दरारें हों तो उसकी मरम्मत करवा दें। इस दिशा का कटा होना भी आर्थिक नुकसान का कारण होता है।

ढलान का रखें ध्यान...
जब आप अपना घर बनवा रहे हों तो इस बात का ध्यान रखें कि मकान का उत्तर पश्चिम का भाग ऊंचा होना चाहिए क्योंकि वास्तु की मानें तो जिस मकान का ढाल उत्तर पश्चिम में नीचा होता है तो उस घर में बरकत नहीं होती है। यानी घर के उत्तर पूर्व में ढलान होना चाहिए और पानी की निकासी इसी ओर से होनी चाहिए।

तिजोरी की दिशा...
घर में रखी तिजोरी के दिशा का भी ध्यान रखना चाहिए क्योंकि इसका सीधा प्रभाव हमारे आर्थिक जीवन पर पड़ता है। वास्तु कहता है कि कभी भी तिजोरी को दक्षिण की दीवार से सटा कर इस प्रकार रखें कि इसका मुंह उत्तर दिशा की ओर रहे। पूर्व की दिशा की ओर अलमारी का मुंह होने पर भी धन में वृद्धि होती है, लेकिन उत्तर दिशा उत्तम मानी गयी है। किसी अन्य दिशा में तिजोरी होने पर घर में बरकत नहीं होती है।

घर में नहीं होना चाहिए टूटा हुआ बेड...
ध्यान रहे कि कभी भी अपने घर में घर में टूटी-फूटी चीजें न रखें, खासकर टूटा हुआ बेड और पलंग घर में भूल से भी न रखें क्योंकि इससे आर्थिक लाभ में कमी आती है और खर्च बढ़ता है।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned