शनि 2021 : इस साल करेंगे न्याय, आपकी राशि पर ये होगा असर

2021 में राशियों पर शनि का प्रभाव...

By: दीपेश तिवारी

Updated: 07 Dec 2020, 12:39 PM IST

सूर्य पुत्र शनिदेव को कर्मफल दाता या न्याय का देवता माना जाता है। लेकिन शनि ग्रह के सम्बन्ध में अनेक भ्रान्तियां होने के साथ ही इसे मारक, अशुभ और दुख कारक माना जाता है। वहीं पाश्चिमी ज्योतिषी भी इसे दुख देने वाला मानता है। लेकिन जानकारों के अनुसार शनि उतना अशुभ और मारक नही है, जितना उसे माना जाता है।

दरअसल शनि की कृपा हो तो व्यक्ति के सभी बिगड़े काम बनने लगते हैं और उसे हर काम में सफलता मिलती है, वहीं अगर शनि की बुरी दृष्टि पड़ जाए तो व्यक्ति बने बनाए काम भी बिगड़ने लगते हैं। वहीं शनि का गोचर (Saturn Transit), शनि की साढ़ेसाती और शनि की महादशा से जीवन में बड़े-बड़े परिवर्तन होते हैं।

शनि ही एकमात्र मोक्ष को देने वाला ग्रह है। सत्य तो यह ही है कि शनि प्रकृति में संतुलन पैदा करता है, और हर प्राणी के साथ उचित न्याय करता है। जो लोग अनुचित विषमता और अस्वाभाविक समता को आश्रय देते हैं, शनि केवल उन्ही को दण्डिंत (प्रताडित) करते हैं। अनुराधा नक्षत्र के स्वामी शनि हैं। इसलिए वह शत्रु नहीं मित्र है।

कोरोना के संक्रमण में बीत रहे साल 2020 की समाप्ति के चंद दिन ही बाकि रह गए हैं। ऐसे में हर कोई आने वाले 2021 को लेकर काफी आशांवित बना हुआ है, खास बात ये है कि साल 2021 में शनि देव (Shani 2021) अपनी राशि नहीं बदलेंगे और वो पूरे साल अपनी स्वराशि यानी की मकर राशि में ही विराजमान रहेंगे। इस साल राशि की जगह शनि का केवल नक्षत्र परिवर्तन होगा। साल की शुरुआत में शनि उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में होंगे, जिसका स्वामी सूर्य माना जाता है और इसके बाद 22 जनवरी को श्रवण नक्षत्र में प्रवेश कर जाएंगे। जिसके बाद इस साल शनि देव का उत्तराषाढ़ा और श्रवण नक्षत्रों में गोचर होगा।

पंडितों व ज्योतिष के जानकारों के अनुसार ऐसे में साल 2021 में शनि नक्षत्र परिवर्तन (Shani Nakshatra Transit 2021) के आधार पर जातकों फल देंगे। इस दौरान मुख्यरूप से 03 राशि वालों को संभलकर रहना होगा। आइए जानते हैं कि शनि 2021 में किन राशियों पर मेहरबान रहेंगे और किन राशियों इस समय संभल कर रहना होगा।

1. मेष राशि पर 2021 में शनि का असर-
शनि गोचर 2021 (Saturn Transit 2021) के चलते आपको शनि के गोचर के मिले-जुले परिणाम मिलेंगे। इस दौरान आपको कार्यक्षेत्र में बहुत ज्यादा मेहनत करनी होगी, साथ ही पिताजी से आपके संबंध कुछ बिगड़ सकते हैं। इस दौरान आपको उनकी सेहत का भी खास ख्याल रखने होगा। किन्ही कारणवश आपके पारिवारिक जीवन से भी आपकी थोड़ी दूरी बन सकती है।

वर्ष की शुरुआत में शनि उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में भ्रमण भी करेंगे। जिसके चलते आप अपने ज्ञान का सदुपयोग कर अपने कार्य क्षेत्र में हर सफलता हासिल करने में कामयाब होंगे। जबकि 22 जनवरी के बाद शनि चंद्रमा के नक्षत्र श्रवण में जाएंगे, जिसके चलते आपके पिता से संबंधों में कुछ मधुरता आएगी, लेकिन सेहत को लेकर सावधानी रखनी होगी। कुल मिलाकर शनि का गोचर आपके पिता के लिए अच्छा नहीं, हालांकि कार्यक्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी।

उपाय: हर शनिवार सुबह किसी मंदिर अथवा धार्मिक स्थल की सीढ़ियों की साफ़ सफाई का कार्य करें।


2.वृषभ राशि पर 2021 में शनि का असर-
शनि वर्ष की शुरुआत में उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में रहेंगे, जिसके चलते आपको पारिवारिक सुख मिलेगा। आर्थिक स्थिति बेहतर होगी क्योंकि आय के कई नए स्त्रोत मिलेंगे, इस राशि के जो जातक विदेश जाना चाहते हैं तो इन्हें इस गोचर के दौरान इसकी कोशिश करनी चाहिए, उन्हें सफलता मिल सकती है।

अभी यदि कोई नई प्रॉपर्टी या वाहन खरीदने की सोच रहे हैं तो आपको सफलता मिलेगी। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे जातकों को उनकी मेहनत का फल मिलेगा। वहीं इस दौरान आपका मानसिक तनाव बढ़ सकता है। आपके भाई-बहनों के लिए समय अच्छा नहीं है और उन्हें कुछ समस्या हो सकती है। कुल मिलाकर ये गोचर आपके लिए बहुत अच्छा रहने वाला है, आप जो भी मेहनत करेंगे, आपको उसका फल मिलेगा।

उपाय: नियमित रूप से नील शनि स्तोत्र का पाठ करें।

3. मिथुन राशि पर 2021 में शनि का असर-
शनि देव साल 2021 में आपकी जिंदगी में कई तरह के उतार-चढ़ाव लाएंगे। ऐसे में आपको कई कामों में असफलता मिल सकती है, इसकी वजह से आप मानसिक तनाव में भी आ सकते हैं। साथ ही इस गोचर का असर आपके छोटे भाई बहनों पर भी होगा जिसकी वजह से उन्हें भी कुछ कष्ट उठाना पड़ सकता है।

इस दौरान अपने स्वास्थ का विशेष ख्याल रखें अन्यथा कोई गंभीर रोग होने की भी संभावना है। इसके अलावा आर्थिक मामलों में भी आपको संभल कर रहने की जरूरत है वरना धन हानि उठानी पड़ सकती है। वहीं इस समय ससुराल पक्ष से तनाव भी हो सकता है। कुल मिलाकर शनि का ये गोचर आपके लिए कई परेशानियां लेकर आया है, जिसके चलते आपको इस साल बहुत धैर्य से काम लेना होगा।

उपाय: किसी भी शनिवार से श्री राधा-कृष्ण दिव्य युगल की आराधना प्रारंभ करें।


4. कर्क राशि पर 2021 में शनि का असर-
कर्क राशि के जातकों को शनि गोचर 2021 (Saturn Transit 2021) से मिले-जुले परिणाम मिलेंगे। इस दौरान कारोबार से जुड़े जातकों के लिए ये समय बेहतर रहने की उम्मीद है। व्यापार में सफलता मिलने की पूरी संभावना है। लेकिन, शनि के उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में प्रवेश से आपके जीवनसाथी को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां झेलनी पड़ सकती है।

इस दौरान आपके दाम्पत्य जीवन में भी इस गोचर की वजह से तनाव होने की आशंका हो सकती है। साथ ही व्यापार में पार्टनर के साथ कुछ विवाद हो सकता है। वहीं इस दौरान ससुराल पक्ष का पूरा सहयोग मिलेगा, इसाके अलावा प्रेमी जातकों के लिए भी ये समय काफी अच्छा जाने वाला है।

उपाय: शनिवार के दिन लोहे अथवा मिट्टी के किसी बर्तन में कच्चे सरसों का तेल भरकर उसमें अपनी सूरत देखें और फिर उसे छाया दान करें।

5. सिंह राशि पर 2021 में शनि का असर-
शनि के इस गोचर (Saturn Transit 2021) का सबसे ज्यादा प्रभाव सिंह राशि के जातकों की सेहत पर पड़ेगा, जिसके कारण इन्हे बहुत सावधान रहने की जरूरत है। इस साल आपको अपने विरोधियों पर दबाव बनाने में सफलता मिलेगी, वहीं प्रतियोगी परीक्षा में हिस्सा लेने वाले लोगों को सफलता मिलेगी। अगर आपने बैंक से किसी भी तरह का कोई लोन अप्लाई किया है, तो इस गोचर के दौरान उसमें भी आपको सफलता मिल सकती है।

हालांकि प्रेम जीवन के लिए ये गोचर अच्छा नहीं है, पार्टनर से किसी बात पर तकरार हो सकती है। इस साल आपको खर्चे भी बढ़ सकते हैं, साथ ही विदेश यात्रा के लिए प्रबल योग बन सकते हैं कोर्ट कचहरी में कोई मामला चल रहा है तो उसमें आपको सफलता मिलने के अलावा आमदनी की तुलना में खर्चे ज्यादा होंगे।

उपाय: शनिवार के दिन अपने सहकर्मियों को कोई छोटा सा तोहफ़ा ज़रूर भेंट करें।


6. कन्या राशि पर 2021 में शनि का असर-
आपके लिए शनि का ये गोचर मिलेजुले परिणाम लेकर आ रहा है। शनि के उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में जाने से आपके संतान के विदेश जाने के योग प्रबल होंगे, जबकि वहीं कुछ छात्रों को पढ़ाई में रुकावट झेलनी पड़ सकती है। इस दौरान आपके जीवन में धन आगमन के स्रोत बढ़ेंगे, लेकिन गोचर के दौरान आपको ज्यादा मेहनत करनी होगी। बुद्धि का सोच समझकर इस्तेमाल करने से इस समय आपको अच्छा लाभ मिल सकता है। इस दौरान मानसिक तनाव में वृद्धि हो सकती है। लेकिन, प्यार के मामले में ये गोचर अच्छा है और कुछ लोगों का प्रेम विवाह भी हो सकता है। श्रवण नक्षत्र में शनि के संचरण से आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होने के योग हैं।

उपाय: बजरंगबली जी की उपासना के साथ ही रोज़ाना शनि देव के मंत्र का जाप करें।

7.तुला राशि पर 2021 में शनि का असर-
यह गोचर प्रॉपर्टी के क्षेत्र में आपको लाभ हो सकता है, अगर आप प्रॉपर्टी खरीदने की सोच रहे हैं तो इस गोचर काल में ही खरीदना आपके लिए शुभ होगा। आपका अपना मकान बनाने का भी सपना पूरा हो सकता है। सामाजिक दृष्टि से आपका मान-सम्मान बढ़ेगा. कार्यक्षेत्र में सफलता मिलेगी और आपका आर्थिक पक्ष काफी मजबूत होगा।

लेकिन गोचर काल के दौरान माता के स्वास्थ का विशेष ध्यान रखें, क्योंकि उन्हें कुछ परेशानियां उठानी पड़ सकती हैं। किसी काम में बहुत मेहनत करने के बावजूद उसक सही फल ना मिलने से निराश होंगे। उचित होगा अपनी प्रोफेशनल और पर्सनल जिंदगी के बीच सामंजस्य बैठा कर चलें।

उपाय: शनिवार के दिन या शनि होरा में उत्तम गुणवत्ता वाला नीलम रत्न किसी जानकार की सलाह के बाद ही अपनी मध्यमा अंगुली में धारण करें।

 

8. वृश्चिक राशि पर 2021 में शनि का असर-
इस शनि गोचर से आपको काफी सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। आपको हर कार्यों में सफलता मिलने के साथ ही जिंदगी में खुशियां ही खुशियां रहेंगी। इस गोचर काल के दौरान अपने घर के सदस्यों के और करीब आएंगे, लेकिन आपके छोटे भाई-बहनों को किसी बात से परेशानी हो सकती है। आपको इस दौरान होने वाली यात्राओं से लाभ मिलेगा।

इस समय आपको अचानक से धन लाभ होने के भी आसार है, साथ ही इस दौरान भाई-बहनों के विदेश जाने के भी योग बन सकते हैं। अगर लम्बे समय से कोई काम अटका है, तो वो भी इस समय पूरा हो सकता है। आर्थिक दृष्टि से भी आप मजबूत रहेंगे। अपने माता-पिता के स्वास्थ का खास ख्याल रखें। कुल मिलाकर गोचर काल के दौरान आपका भाग्य आपका पूरा-पूरा साथ देगा।

उपाय: आटे और चीनी की गोलियां चींटियों को खिलाएं।

9. धनु राशि पर 2021 में शनि का असर-
2021 का शनि गोचर आपको सकारात्मक फल देने वाला है। इस दौरान आपको भाग्य का पूरा साथ मिलने के साथ ही आपका पारिवारिक माहौल काफी बेहतर होने की उम्मीद है। लम्बे समय से चल रही कोई समस्या जल्द खत्म हो सकती है। इस गोचर के प्रभाव से आपको आपके छोटे भाई-बहनों का भरपूर सहयोग मिलेगा, लेकिन इस दौरान आपको किन्ही कारणों से परिवार से दूर जाना पड़ सकता है।

श्रवण नक्षत्र में शनि के आने से आपके जीवन में अचानक से धन प्राप्ति के योग बनेंगे। इस दौरान आपको कोई पैतृक संपत्ति का लाभ भी मिल सकता है। माता-पिता के सेहत पर ध्यान देने की जरूरत होगी, क्योंकि इस दौरान आपके पिता जी का स्वास्थ थोड़ा कमजोर हो सकता है। इस दौरान अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें।

उपाय: शनिवार के दिन गरीब व ज़रूरतमंदों को भरपेट भोजन कराएं।


10. मकर राशि पर 2021 में शनि का असर-
आपके जीवन में इस गोचर से उतार-चढ़ाव की स्थिति बन सकती है। शनि के उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में भ्रमण के दौरान आपको कहीं से अचानक ही धन की प्राप्ति होने की भी संभावना है। इसके अलावा इस दौरान आपको आपके पिता का भरपूर सहयोग मिलेगा। स्वास्थ के प्रति सजग रहें। पैतृक संपत्ति से जुड़े कामों में तेजी आ सकती है। मकर जातकों के दांपत्य जीवन में तनाव रहने के आसार हैं, लेकिन आपको आपके ससुराल पक्ष की तरफ से भरपूर सहयोग मिलेगा। आपके दांपत्य जीवन में भी उतार-चढ़ाव आने के साथ ही व्यापार के क्षेत्र से जुड़े जातकों को किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है। इस यात्रा से उन्हें लाभ हो सकता है।

उपाय: शनिवार के दिन शनि मंदिर जाकर “ॐ शं शनैश्चराये नमः” मंत्र का 108 बार जाप करें।

11. कुंभ राशि पर 2021 में शनि का असर-
2021 के इस शनि गोचर का कुंभ राशि के जातकों पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ने के संभावना है। आपके दांपत्य जीवन में कुछ बड़ी समस्याएं आ सकती हैं। इसके अलावा सेहत के लिहाज से भी आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है। इस दौरान अपने और अपने जीवन-साथी के स्वास्थ का विशेष ध्यान रखें, आपके आर्थिक खर्चों में बढ़ोतरी आने के योग के चलते आप सोच-समझकर ही धन खर्च करें। इस समय पैरों में दर्द शुरू हो सकता है और साथ ही नींद से जुड़ी समस्या भी आपको परेशान कर सकती है। वहीं व्यापार के क्षेत्र से जुड़े जातकों को सफलता मिलने के योग हैं, अगर आप कहीं धन निवेश करने की सोच रहे हैं तो ये समय आपके लिए काफी सही साबित हो सकता है।

उपाय: शनि के बीज मंत्र “ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराये नमः” का प्रतिदिन कम से कम 108 बार जप करें।

 

12. मीन राशि पर 2021 में शनि का असर-
मीन जातकों को शनि के इस गोचर में काफी सकारात्मक प्रभाव मिलने की संभावना है। इस समय के दौरान आपकी कई इच्छाएं पूरी होंगी, साथ ही इस गोचर के दौरान धन लाभ का भी योग बन रहा है। इस समय आप अपने विरोधियों पर विजय पाने में कामयाब रहेंगे। ये गोचर मीन राशि के उन जातको के लिए बहुत अच्छा रहने वाला है जो लोग शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हैं, इसके अलावा प्रतियोगी परीक्षाओं में हिस्सा लेने वालों के लिए भी ये समय बेहतरीन है।

इस दौरान किसी विदेशी स्रोत से लाभ हो सकता है, जिसकी वजह से आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होने की भी प्रबल उम्मीद है। शारीरिक रूप से भी ये समय आपके लिए काफी अनुकूल रहने वाला है। इसके अलावा इस समय आपको आपकी मेहनत का फल मिलेगा, वहीं कार्यक्षेत्र में आप अपनी बुद्धि और विवेक के बल पर सफलता अर्जित करने में सफल होंगे।

उपाय: हर शनिवार संध्या काल में पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का एक दीपक ज़रूर जलाएं।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned