पाटन में हत्या के बाद फरार हुए टीलू ने आबूरोड में व्यापारी से 6 लाख की थी डकैती, तेरह माह बाद गिरफ्तार

- वर्ष 2019 में विष्णु धर्मशाला के पास स्थित गोदाम से घर जा रहे पान मसाला व्यापारी के साथ बंदूक की नोक पर गैंग के साथ की थी 6 लाख रुपए की लूट
- जिला पुलिस की टॉप टेन वांछित अपराधियों की सूची में शामिल जितेंद्र सिंह उर्फ टीलू को शहर पुलिस ने मध्यप्रदेश के मुरैना से किया गिरफ्तार

By: Darshan Sharma

Updated: 31 Jan 2021, 02:41 PM IST

दर्शन शर्मा. आबूरोड. शहर के विष्णु धर्मशाला के पास करीब एक वर्ष पूर्व पान मसाला व्यापारी के साथ बंदूक की नोक पर छह लाख रुपए से भरा बैग डकैती के मामले में शहर पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने वारदात के बाद से फरार चल रहे मुख्य सरगना जितेंद्रसिंह उर्फ टीलू को मध्यप्रदेश के मुरैना से गिरफ्तार किया। आरोपी टीलू जिला पुलिस की वर्ष 2020 की टॉप टेन वांछित अपराधियों की सूची में शामिल था।
थानाधिकारी ओमप्रकाश के अनुसार करीब एक वर्ष पूर्व 23 दिसम्बर 2019 की रात्रि शहर के विष्णु धर्मशाला के पास पान मसाला व्यापारी रीको कॉलोनी निवासी विमल पुत्र विनोदचंद पटेल अपनी दुकान बंद कर इनोवा कार में 6 लाख रुपए से भरा बैग ले जा रहे थे। तभी करीब पांच-छह जने बंदूक दिखाकर उसकी कार से छह लाख रुपए का बैग लूट कर फरार हो गए। घटना से आक्रोशित शहर के व्यापार मंडल ने लुटेरों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की थी। जिस पर पुलिस ने मामले में आरोपी ज्योतिष उर्फ ज्योतिया, किशोरकुमार, कुलदीपसिंह, हितेश पुरीा, हमीद खां व अमितसिंह तोमर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की थी, लेकिन वारदात के मुख्य आरोपी व गैंग के सरगना बरेह थाना अम्बाह जिला मुरैना (मध्यप्रदेश) निवासी जितेंद्रसिंह उर्फ टीलू पुत्र रामनरेश सिंह उर्फ पप्पूसिंह तोमर फरार चल रहा था। आरोपी बार-बार अपना निवास स्थान बदलते रहने के कारण पुलिस को गिरफ्तारी में खासी मशक्कत करनी पड़ रही थी।

टीम के अथक प्रयास रंग लाए


सिरोही जिला पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक के निर्देश पर जिले में चोरी, नकबजनी, लूट व वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत माउंट आबू वृताधिकारी प्रवीणकुुमार के सुपरविजन में थानाधिकारी ओमप्रकाश के नेतृत्व में मामले की गम्भीरता को देखते हुए विशेष टीम गठित की गई। टीम में शामिल थानाधिकारी, एएसआई नरपतसिंह, कांस्टेबल मांगीलाल, गोगाराम व रमेशकुमार ने अथक प्रयास कर आरोपी के वर्तमान निवास स्थान का पता लगाया गया। आरोपी के अपने निवास स्थान जिला मुरैना में होने की सूचन मिलने पर एएसआई नरपतसिंह मय टीम ने दबिश देकर आरोपी जितेंद्रसिंह उर्फ टीलू को गिरफ्तार कर थाने लाया गया।

छोटा-मोटा व्यापार तो कभी मजदूरी कर काटी फरारी


जितेंद्र उर्फ टीलू आबूरोड मेें व्यापारी से लूट के बाद से ही फरार चल रहा था। फरारी की अवधि में आरोपी कभी आगरा में मजदूरी तो कभी दिल्ली आदि शहरों में छोटा-मोटा व्यापार कर गुजर बसर व पुलिस से छुप रहा था। आरोपी जीवनयापन के लिए अलग-अलग स्थानों पर काम व मजदूरी करता था। आरोपी के एक स्थान विशेष पर नहीं रहने के चलते पुलिस को काफी प्रयास करने पड़े।

पाटन में हत्या के मामले में पेरोल में हुआ था फरार


पुलिस के मुताबिक आरोपी जितेंद्र उर्फ टील आदतन लुटेरा व शातिर बदमाश है। आरोपी गुजरात राज्य में भी हत्या व अन्य मामलों में लम्बे समय से वांछित है। आरोपी टीलू वर्ष 2011 में पुलिस थाना शंखेश्वर जिला पाटन में हत्या के मामले में गिरफ्तार होकर वर्ष 2015 में सब जेल पालनपुर से पैरोल पर जाने के बाद फरार हो गया था। जिसके बाद आरोपी ने आबूरोड में वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी से अन्य राज्यों से सम्बंधित कई प्रकरणों का खुलासा होने की सम्भावना है। आरोपी से पूछताछ व अनुसंशान जारी है।

Show More
Darshan Sharma Correspondent
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned