जेल प्रशासन की लापरवाही उजागर, जेल के आइसोलेशन वार्ड की जाली काटकर भागे दो बंदी

ड्यूटी पर तैनात प्रहरी सोते रहे और दो बंदी रविवार रात करीब 11.39 बजे जिला कारागृह के आइसोलेशन वार्ड के दरवाजे की जाली तोड़ फरार हो गए।

By: kamlesh

Published: 29 Jun 2020, 08:13 PM IST

सिरोही। ड्यूटी पर तैनात प्रहरी सोते रहे और दो बंदी रविवार रात करीब 11.39 बजे जिला कारागृह के आइसोलेशन वार्ड के दरवाजे की जाली तोड़ फरार हो गए। तड़के करीब तीन बजे सूचना मिलते ही पुलिस ने नाकाबंदी करवाई। फिलहाल आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा है।

जेल सूत्रों के अनुसार पिछले दिनों छह जेल प्रहरी कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद बंदियों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया। नए बंदी को आइसोलेशन वार्ड में रखा जाता है। रविवार रात 11 बंदी वार्ड में थे। इनमें दो बंदी दरवाजे के निचले भाग की जाली तोडकऱ फरार हो गए। विडम्बना तो यह है कि आइसोलेशन वार्ड से दस कदम दूर संतरी आरएसी क्वार्टर पर राइफल लेकर तैनात था। जिम्मेदार जेल उप अधीक्षक प्रदीप लखावत यह तक बताने से इनकार करते रहे कि वहां किस-किस प्रहरी की ड्यूटी लगी थी और घटना के वक्त वे कहां थे?

एक साल से फरार हत्या के आरोपी में रणसाराम गमेती उर्फ रमेश को गिरफ्तार कर 21 जून को जेल भेजा गया था। दूसरा बाइक चोरी का आरोपी पप्पू उर्फ पपीया है, जो 24 जून को जेसी हुआ था।

इन्होंने बताया...
ड्यूटी पर तैनात संतरी की लापरवाही से घटना हुई है। आरोपियों को पकडऩे के लिए पुलिस व जेल प्रशासन की ओर से कार्रवाई जारी है।
प्रदीप लखावत, उप अधीक्षक, जिला कारागृह, सिरोही

भागने की सूचना देरी से मिली...
जेल के आइसोलेशन वार्ड से बंदी रात करीब 11.39 बजे भागे और हमें सूचना तीन बजे मिली। सूचना मिलते ही जिले के चारों तरफ नाकाबंदी कार्रवाई।
कल्याणमल मीना, पुलिस अधीक्षक, सिरोही

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned