scriptप्रशासन व पुलिस नशे के विरुद्ध चलाएगा जनजागरण अभियान | Patrika News
खास खबर

प्रशासन व पुलिस नशे के विरुद्ध चलाएगा जनजागरण अभियान

जिले को नशा मुक्त बनाना वर्तमान में सबसे बड़ी जरूरत, आमजन की सहभागिता से जल्द घोषित करेंगे कार्ययोजना

हनुमानगढ़Jun 22, 2024 / 09:54 pm

Manoj

हनुमानगढ़ जिला कलक्टर कानाराम से बातचीत

हनुमानगढ़ जिला कलक्टर कानाराम से बातचीत

हनुमानगढ़. प्रशासन और पुलिस जिले में नशे के विरुद्ध आमजन की सहभागिता से जनजागरण अभियान चलाएगा। इसके लिए जल्द ही विस्तृत कार्ययोजना बनाकर घोषित की जाएगी। जिले में बढ़ रहा नशा चिंताजनक है और जिले को नशा मुक्त बनाना वर्तमान में सबसे बड़ी जरूरत है। ‘राजस्थान पत्रिका’ से बातचीत में हनुमानगढ़ जिला कलक्टर कानाराम ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि हनुमानगढ़ जिले में बढ़ रहा नशा चिंता का विषय है। नशा खत्म करना किसी एक व्यक्ति अथवा संस्था का विषय नहीं है और ना ही इसे एक-दो दिन में खत्म किया जा सकता है। इसके लिए सामूहिक प्रयासों की जरूरत है। नशा खत्म करने के लिए दीर्घकालिक योजना की जरूरत है। नशे को समाज से खत्म करने के लिए सामूहिक प्रयासों की आवश्यकता है और इसके लिए जनजागरण बहुत जरूरी है।
जिला कलक्टर ने कहा कि जिले से नशा मुक्ति के लिए प्रशासन-पुलिस आमजन के साथ मिल कर जनजागरण अभियान चलाएगा। इसके लिए प्रशासन के स्तर पर विस्तृत कार्ययोजना बनाई जा रही है। समाज के हर वर्ग को शामिल कर नशामुक्ति के लिए कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए ऐसी रूपरेखा बनाई जाएगी कि भावी पीढ़ी नशे के दुष्प्रभावों को समझे ओर नशे से दूर रहे। उन्होंने कहा कि नशा मुक्त हनुमानगढ़ के लिए जनजागरण अभियान से ऐसे व्यक्तियों को जोड़ा जाएगा, जो कभी स्वयं नशा करते थे और अब नशा मुक्त अच्छा जीवन व्यतीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नशे ग्रस्त अथवा उससे जुड़ा रहा व्यक्ति नशे के दुष्प्रभावों से बखूबी वाफिक होता है। ऐसे में नशा छोड़ चुके व्यक्तियों को जनजागरण अभियान से जोड़ा जाएगा।
उन्होंने कहा कि हनुमानगढ़ में नशा चिंताजनक स्थिति तक फैल गया है। इसके लिए एक-दो व्यक्ति अथवा कुछ संस्थाओं और विभागों को नहीं बल्कि सबको सामूहिक प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि 26 जून को विश्व नशा मुक्ति मनाया जाता है। इसके पश्चात जिले में जनजागरण अभियान आरंभ किया जाएगा। जनजागरण अभियान में प्रशासन ओर पुलिस प्रमुख भूमिका में रहेंगे। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग को प्रमुखता से जोड़ा जाएगा। युवाओं और खिलाडिय़ों को इस अभियान से विशेष रूप से जोड़ा जाएगा।
जिला कलक्टर ने कहा कि जिले में चिट्टा नशा बहुत तेजी से बढ़ा है, इसकी रोकथाम के लिए कानून के तहत तो कार्रवाई हो ही रही है और भविष्य में भी होगी लेकिन युवा पीढ़ी नशे की तरफ नहीं बढ़े, इसके लिए नशा मुक्त अभियान चलाएगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा और हेल्थ में हुए कार्य का असर दूरगामी रहता है, उसी तरह जनजागरण अभियानों का असर भी तत्काल नहीं होता है, उससे भावी पीढ़ी में सुधार आता है। हमारा प्रयास रहेगा कि नशा मुक्ति के लिए ऐसा जनजागरण अभियान चलाया जाए कि भावी पीढ़ी नशे से ग्रस्ति नहीं हो और उसके (नशे) दुष्परिणामों से वाफिक रहें।
जिले की समस्याओं पर चर्चा करते हुए जिला कलक्टर कानाराम ने कहा कि हनुमानगढ़ क्षेत्र की कई अन्य स्थानों की तुलना में बहुत समृद्ध और सम्पन्न है लेकिन प्रमुख समस्या नशावृत्ति है और इस पर हम फोकस करेंगे। उन्होंने कहा कि बिजली और पानी की समस्या है लेकिन यह ऐसी जन समस्याएं हैं, जिनके सुधार के लिए बहुत कार्य हो रहा है और अभी भी बहुत कुछ किया जाना जरूरी है। बाड़मेर क्षेत्र के ग्रामीण इलाके का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि वहां पर तो कई-कई गांवों में पानी नहीं पहुंच रहा है, लेकिन वहां की तुलना में हनुमानगढ़ में पेयजल का वितरण कहीं ज्यादा अच्छा है। यहां के पानी संकट पर उन्होंने कहा कि यदि व्यक्तिगत रूप से चलने वाली मोटरें बंद हो जाएं तो पेयजल संकट का काफी हद तक समाधान हो सकता है।
जिला कलक्टर ने कहा कि रात्रि चौपाल के अच्छे परिणाम आ रहे हैं। प्रशासन का जनता से सीधा जुड़ाव हो रहा है। जनता के बीच जा कर अधिकारी जनता के दुख दर्द को समझ रहे हैं। चौपाल में जनता अपनी बात सीधे उच्चाधिकारियों के समक्ष रख रही है। चौपाल में जिला स्तरीय अधिकारियों की उपस्थिति से सामान्य कार्य तत्काल हो रहे हैं। चौपाल से प्रशासन और जनता का संवाद हो रहा है और राज्य सरकार की मंशा के अनुसार जनता को राहत दी जा रही है।

Hindi News/ Special / प्रशासन व पुलिस नशे के विरुद्ध चलाएगा जनजागरण अभियान

ट्रेंडिंग वीडियो