रिलेशनशिप टूटने का डर है तो अपनाएं ये 6 टिप्स

कई बार समय की कमी और पार्टनर की अनदेखी से संबंधों में दरार आने लगती है।

By: Navyavesh Navrahi

Published: 22 Mar 2018, 06:04 PM IST

नई दिल्ली। हर रिश्ते की नींव प्यार और भरोसे पर टिकी होती है, लेकिन कई बार समय की कमी और पार्टनर की अनदेखी से संबंधों में दरार आने लगती है। रिश्तों के बीच बनीं ये खाई कभी—कभी इतनी गहरी हो जाती है, कि चाहकर भी इसे भरा नहीं जा सकता। अगर आप भी अपने रिश्ते को लंबे समय तक खुशहाल बनाए रखना चाहते हैं तो अपनाएं ये टिप्स।

1. रिलेशनशिप में अक्सर पार्टनर से कुछ गलतियां हो जाती हैं, लेकिन इस बात को उन्हें तूल नहीं देनी चाहिए। एक अच्छे संबंध की पहचान इसी से होती है कि दोनों पाटनर्स एक—दूसरे को उनकी कमियों और खूबियों देानों के साथ स्वीकार करें। उन्हें गलती के लिए किसी एक को जिम्मेदार नहीं ठहराना चाहिए।

2. एक मजबूत रिश्ते की दूसरी सबसे बड़ी जरूरत समझदारी होती है। सभी लोगों के जीवन में उतार-चढ़ाव आते हैं। कभी खुशहाली वाला महौल रहता है तो कभी परिस्थितियां विपरीत रहती हैं। ऐसे में पार्टनर्स को अपने भविष्य के बारे में सोचकर उस मुसीबत से बाहर निकलने का रास्ता खोजना चाहिए।

3. कई बार संबंधों में दरार की वजह किसी तीसरे व्यक्ति का हस्तक्षेप भी होता है। हम दूसरों की बातों में आकर अपने रिश्ते की अहमियत को भूला देते हैं, जिसके चलते संबंधों में तनाव आने लगता है। इससे बचने के लिए हमें अपने रिश्ते में बाहरी व्यक्तियों के दखल को रोकना होगा।

4. दो लोगों के बीच गलतफहमियां हो जाती हैं, लेकिन इनकों दूर न करना इसे ज्यादा बढ़ावा देता है। कई बार दोनों लोगों में से किसी की गलती नही होती िफर भी कुछ परिस्थितियों के कारण संबंधों में तनाव आ जाता है। वे एक—दूसरे पर गुस्सा करने लगते हैं और बात नही समझते। रिश्ते को आजीवन खुशहाल बनाए रखने के लिए इन गलतफहमियों को मिटाना बहुत जरूरी है। इसके लिए पार्टनर्स को एक—दसूरे से खुलकर बात करनी चाहिए।

5. एक रिश्ता तभी अच्छा चल सकता है जब उसमें भरोसा हो। जीवनसाथी को एक—दूसरे के प्रति वफादार होना चाहिए। उन्हें अपने संबंधों को ईमानदारी से निभाना चाहिए। उन्हें सामने वाले से सारी जिम्मेदारियां निभाने की उम्मीद नही करनी चाहिए, बल्कि उन्हें खुद आगे बढ़कर अपने साथी का सहयोग करना चाहिए।

6. रिश्तों में तल्खी का एक अन्य महत्वपूर्ण कारण है तुलना। यदि आप अपने साथी की तुलना किसी दूसरे व्यक्ति से करते हैं और िफर अपने पार्टनर में कुछ कमी पाते है। तो ये तुलना बिल्कुल गलत है। इससे आप खुद के लिए फैसले को गलत ढहराएंगे। एक बेहतर संबंध के लिए पार्टनर्स का एक—दूसरे को उनका पूरक समझना बहुत जरूरी है।

Show More
Navyavesh Navrahi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned