एम्मा रादुकानू ने जीता यूएस ओपन, 53 वर्ष में यह खिताब जीतने वाली पहली ब्रिटिश महिला

यूएस ओपन के महिला एकल फाइनल में एम्मा का मुकाबला कनाडा की लीलह फर्नांडीज से हुआ। इस मैच में एम्मा ने लीलह को 6-4, 6-3 से हराकर ग्रैंड स्लैम खिताब पर कब्जा किया।

By: Mahendra Yadav

Updated: 12 Sep 2021, 10:47 AM IST

ब्रिटेन की टेनिस प्लेयर एम्मा रादुकानू ने यूएस ओपन में इतिहास रच दिया है। एम्मा रादुकानू ने मात्र 18 वर्ष की उम्र में यूएस ओपन का महिला सिंगल्स का खिताब जीता है। वह 53 वर्षों में यह खिताब जीतने वाली पहली ब्रिटिश महिला बन गई हैं। यूएस ओपन के महिला एकल फाइनल में एम्मा का मुकाबला कनाडा की लीलह फर्नांडीज से हुआ। इस मैच में एम्मा ने लीलह को 6-4, 6-3 से हराकर ग्रैंड स्लैम खिताब पर कब्जा किया। दोनों ही महिला खिलाड़ी पहली बार इस प्रतिष्ठित ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंची थीं।

खत्म हुआ 53 साल का इंतजार
ब्रिटेन की युवा खिलाड़ी एम्मा रादुकानू के महिला एकल का फाइनल जीतने के बाद यूएस ओपन के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया,'53 सालों का इंतजार खत्म हुआ। 1968 के बाद यूएस ओपन का महिला सिंगल्स खिताब जीतने वाली एम्मा रादुकानू पहली ब्रिटिश महिला हैं।' फाइनल में एम्मा ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए खिताब अपने नाम किया।

यह भी पढ़ें— यूएस ओपन: फाइनल में पहुंचे मेदवेदेव, नोवाक जोकोविच से होगा मुकाबला

कोई भी सेट नहीं हारीं रादुकानू
यूएस ओपन में एम्मा रादुकानू ने शुरुआत से ही अच्छा प्रदर्शन किया और इस टूर्नामेंट में बिना कोई सेट हारे फाइनल तक पहुंची। यूएस ओपन में एम्मा ने अपने सभी 18 सेट जीते हैं, जिनमें क्वॉलिफाईंग दौर के 3 और मेन ड्रॉ के 6 मैच शामिल हैं। वहीं वर्ष 1999 के बाद पहली बार यूएस ओपन के फाइनल में दो युवा महिलाएं आमने सामने थीं। वर्ष 1999 में 17 वर्षीय सेरेना विलियम्स और 18 वर्षीय मार्टिना हिंगिस के बीच खिताबी मुकाबला हुआ था। इसके बाद मारिया शारापोव

उम्मीद है फिर से फाइनल में जगह बनाऊंगी: लीलह
एम्मा ने क्वालिफायर के बाद का विमान का टिकट बुक कराया था, जिससे अगर वह मुख्य ड्रॉ में प्रवेश नहीं करती हैं तो वापस लौट सकें। खिताब जीतने के बाद एम्मा रादुकानू ने कहा,‘महिला टेनिस का भविष्य और फिलहाल खेल की गहराई शानदार है। मुझे लगता है कि महिला ड्रॉ में शामिल प्रत्येक खिलाड़ी के पास टूर्नामेंट जीतने का मौका था।’ वहीं ट्रॉफी वितरण समारोह के दौरान लीलह भावुक हो गईं और उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह यहां फिर फाइनल में जगह बनाएंगी और उनके हाथ में सही ट्रॉफी होगी।

यह भी पढ़ें— US Open : भारत की उम्मीदों को बड़ा झटका, सानिया मिर्जा ओर राजीव राम की जोड़ी पहले ही दौर में हारकर हुई बाहर

शारापोवा के बाद खिताब जीतने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी
वर्ष 1977 में विंबलडन में वर्जीनिया वेड के बाद ग्रैंड स्लैम ट्रॉफी जीतने वाली रादुकानू पहली ब्रिटिश महिला हैं। वह 2004 में विंबलडन में मारिया शारापोवा के 17 साल के होने के बाद से महिला खिताब का दावा करने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी भी हैं।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned