Tokyo Paralympics 2020: उद्घाटन समारोह कल, दिल्ली के तीन पैरा एथलीट्स से पदक की उम्मीदें

Tokyo Paralympics 2020: 24 अगस्त को टूर्नामेंट का उद्घाटन समारोह होगा। इस उद्घाटन समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व 11 सदस्यीय दल करेगा।

By: Mahendra Yadav

Updated: 23 Aug 2021, 10:16 AM IST

Tokyo Paralympics 2020: टोक्यो पैरालंपिक 2020 मंगलवार 24 अगस्त से शुरू होने जा रहा है। 24 अगस्त को टूर्नामेंट का उद्घाटन समारोह होगा। इस उद्घाटन समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व 11 सदस्यीय दल करेगा। हालांकि उद्घाटन समारोह में खिलाड़ियों की संख्या पर कोई सीमा नहीं है, लेकिन अभी तक सिर्फ सात भारतीय प्रतिस्पर्धी टोक्यो पहुंचे हैं। इन सात में से भी दो टेबल टेनिस खिलाड़ियों सोनल पटेल और भाविना पटेल की बुधवार को स्पर्धाएं हैं और इसलिए वे उद्घाटन समारोह में हिस्सा नहीं लेंगी। उद्घाटन समारोह में पांच खिलाड़ियों के हिस्सा लेने की उम्मीद जताई जा रही हैं। इनमें ध्वजवाहक मरियप्पन थंगावेलु, चक्का फेंक खिलाड़ी विनोद कुमार, भाला फेंक खिलाड़ी टेकचंद और पावरलिफ्टर जयदीप और सकीना खातून शामिल हैं। टोक्यो पैरालंपिक 2020 में दिल्ली के तीन एथलीटों से पदक की उम्मीद जताई जा रही है। जानते हैं इन एथलीट के बारे में।

सिमरन शर्मा
बुराड़ी निवासी पैरा एथलीट सिमरन शर्मा को बचपन से ही उनकी दोनों आंखों में थोड़ी परेशानी है। हालांकि उन्होंने दिव्यांगता को अपनी कमजोरी नहीं बनने दिया। सिमरन ने स्कूल में दौड़ में हिस्सा लिया और कई पदक भी जीते। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण वह बड़े स्तर पर हिस्सा नहीं ले पाई,लेकिन शादी के बाद पति ने सिमरन को सपोर्ट किया। इसके बाद सिमरन ने चंडीगढ़ में आयोजित नेशनल 100 मीटर दौड़ में दो स्वर्ण पदक, वर्ष 2019 में चाइना में आयोजित वर्ल्ड ग्रैंड प्रिक्स चैंपियनशिप स्वर्ण पदक, वर्ष 2020 दुबई वर्ल्ड 100 मीटर चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीते हैं। अब सिमरन टोक्यो पैरालंपिक में देश के लिए मेडल जीतना चाहती हैं।

यह भी पढ़ें— टोक्यो पैरालंपिक 2020 में हिस्सा नहीं ले पाएंगे अफगानिस्तान के एथलीट, टूटे सपने

para_athletes.png

प्रवीण कुमार
हाई जंप के पैरालंपिक एथलीट प्रवीण कुमार से भी टोक्यो पैरालंपिक 2020 में पदक की उम्मीदे हैं। मुबारकपुर गांव निवासी प्रवीण बचपन से ही एक पैर से दिव्यांग रहे है, उनका एक पैर सामान्य व्यक्ति के पैर से छोटा है। प्रवीण पैरा कमेटी ऑफ दिल्ली के माध्यम से विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेते रहे हैं। प्रवीण ने ऊंची कूद प्रतियोगिताओं में कई पदक जीते हैं। वर्ष 2019 में प्रवीण ने स्विट्जरलैंड में जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत पदक, दुबई में आयोजित सीनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में चौथा स्थान प्राप्त किया। इसके साथ ही उन्होंने वर्ल्ड पैरा गाइड प्रिक्स चैंपियनशिप गोल्ड मेडल जीतने के साथ एशियाई रिकार्ड भी बनाया।

यह भी पढ़ें— पीएम मोदी ने पैरालंपियनों से की बात, कहा-नया भारत पदक जीतने के लिए एथलीटों पर दबाव नहीं देगा

कशिश लाकड़ा
कुश्ती की पैरा एथलीट कशिश लाकड़ा से भी इस टूर्नामेंट में पदक की उम्मीदें हैं। कशिश को कुश्ती प्रशिक्षण के दौरान रीढ़ की हड्डी में चोट लग गई थी। उनकी सर्जरी हुई लेकिन वह पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाईं। इसके बाद कशिश ने क्लब थ्रो एफ-51 में कई स्तर पर पदक जीते। कशिश ने कई राज्य व राष्ट्रीय स्तर की चैंपियनशिप में हिस्सा लिया। उन्होंने वर्ष 2019 में दिल्ली स्टेट क्लब थ्रो इवेंट में स्वर्ण पदक जीता। कशिश का कहना है कि वह टोक्यो पैरालंपिक में भी पदक जीतने की पूरी कोशिश करेंगी।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned