script पुलिस जवानों के अभ्यास के दौरान चली बंदूक की गोली, महिला की मौत | Gunshot fired during police practice, woman dies | Patrika News

पुलिस जवानों के अभ्यास के दौरान चली बंदूक की गोली, महिला की मौत

locationश्री गंगानगरPublished: Dec 07, 2023 03:19:26 am

Submitted by:

yogesh tiiwari

सुबह खुशी-खुशी स्कूल गए मासूमों और बाजार में मजदूरी करने गए पति को क्या पता था कि शाम होते-होते हंसते खेलते परिवार की दुनिया उजड़ जाएगी। बुधवार को अनूपगढ़ रोड पर स्थित ठाकरी फायरिंग रेंज में पुलिसकर्मियों की ओर से किए जा रहे फायरिंग अभ्यास के दौरान चली गोली से गांव रामजीवाला की 31 वर्षीय महिला की मौत हो गई। घटना के समय वह खेत में हरा चारा काट रही थी।

पुलिस जवानों के अभ्यास के दौरान चली बंदूक की गोली, महिला की मौत
पुलिस जवानों के अभ्यास के दौरान चली बंदूक की गोली, महिला की मौत
-ठाकरी फायरिंग रेंज में हुई घटना, खेत में चारा काट रही थी महिला
रायसिंहनगर (अनूपगढ़). सुबह खुशी-खुशी स्कूल गए मासूमों और बाजार में मजदूरी करने गए पति को क्या पता था कि शाम होते-होते हंसते खेलते परिवार की दुनिया उजड़ जाएगी। बुधवार को अनूपगढ़ रोड पर स्थित ठाकरी फायरिंग रेंज में पुलिसकर्मियों की ओर से किए जा रहे फायरिंग अभ्यास के दौरान चली गोली से गांव रामजीवाला की 31 वर्षीय महिला की मौत हो गई। घटना के समय वह खेत में हरा चारा काट रही थी। पुलिस के अनुसार के अनुसार मृतका अपनी बड़ी बहन माया के साथ खेत में दोपहर करीब 1 बजे हरा चारा लेने गई थी। जैसे ही दोनों खेत में पहुंची पास में ही स्थित फायङ्क्षरग रेंज में पुलिस के जवानों का फायङ्क्षरग अभ्यास चल रहा था। इसी दौरान गोली उक्त महिला के सिर में जा लगी। इससे वह मौके पर ही गिर गई। पास में मौजूद उसकी बड़ी बहन माया ने शोर मचा कर आस पास खेतों में काम कर रहे लोगों को बुलाया। उन्होंने निजी कार से उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया।जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद आक्रोशित परिजनों ने मृतका का पोस्टमार्टम करवाने से इनकार करते हुए शव को मिनी सचिवालय के समक्ष रखकर धरना लगा दिया। मामले को लेकर उपखंड अधिकारी भारती फूलफकर व पुलिस उप अधीक्षक अन्नु बिश्नोई ने धरना स्थल पर पहुंचकर परिजनों से समझाइश की। परिजनों ने फील्ड फायङ्क्षरग रेंज को अन्यत्र स्थापित करने, पीडि़त परिवार को 50 लाख का मुआवजा देने, दोषी कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई करने और पीडि़ता के पति को सरकारी नौकरी देने की मांग करते हुए शव उठाने से इनकार कर दिया। उधर, घटना की जानकारी मिलते ही नवनिर्वाचित विधायक सोहन नायक ने घटना की जानकारी ली और एसपी व कलक्टर से बात कर मामले में प्रभावी कार्रवाई की मांग की। उधर, ग्रामीणों ने बताया कि बीएसएफ जब भी फायङ्क्षरग रेंज में अभ्यास करती है तो इससे पहले गांव में मुनियादी करवाकर ग्रामीणों को सचेत किया जाता है। सुरक्षा की ²ष्टि से रेंज में बनाई गई मिट्टी की दीवार पर लाल झंडियां लगाने के अलावा एक जवान निगरानी रखता है ताकि फायङ्क्षरग के दौरान को ग्रामीण गोली का शिकार नहीं हो। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस के जवानों की ओर से अभ्यास के दौरान न तो ग्रामीणों को सूचना दी जाती है और ना ही सुरक्षा व्यवस्था के पर्याप्त बंदोबस्त किए जाते हैं।
-----------------------------------------
तीसरे दौर की वार्ता हुई सफल
प्रशासन की ओर से उपखण्ड अधिकारी भारती फूलफकर, अनूपगढ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसिंह बेनीवाल, पुलिस उप अधीक्षक अन्नु बिश्नोई, नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी अभिषेक गहलोत, रायङ्क्षसहनगर थानाधिकारी महावीर बिश्नोई, समेजा थाना प्रभारी हरबंस ङ्क्षसह मुकलावा थानाधिकारी इमरान खान, श्री बिजयनगर और विकास बिश्नोई आदि अधिकारियों ने पीडि़त पक्ष से वार्ता की। इसमें प्रशासन की मृतका के पति को संविदा पर नौकरी देने, पांच लाख रुपए नकद, कृषि उपज मण्डी समिति से पांच लाख रुपए देने, चिरंजीवी योजना की राशि दिलवाने और मृतका पति को सरकारी नौकरी व मुख्यमंत्री राहत कोष से सहायता दिलवाने के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव भिजवाने पर पीडि़त पक्ष में सहमति बन गई। इसके बाद परिजन शव लेने पर सहमत हो गए। कानून व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने देर रात पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया।
-----------------------------------------
मिनी सचिवालय बना छावनी
मृतक महिला का शव मिनी सचिवालय के समक्ष रखकर प्रदर्शन करने की सूचना मिलते पुलिस प्रशासन में हडक़ंप मच गया। कानून बनाए रखने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया। इस दौरान रायङ्क्षसहनगर के अलावा श्रीबिजयनगर, मुकलावा, समेजा पुलिस थाने की पुलिस को तैनात किया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो