Video : खुदाई करते टूटी पेयजल पाइप, हजारों लीटर शुद्ध पानी गलियों में बहा

इसमें सीवरेज लाइन डालने के साथ-साथ पेयजल पाइप लाइनें भी नई डाली जा रही है जिनसे 24 घंटे पेयजल आपूर्ति दी जाएगी।

By: vikas meel

Published: 03 Nov 2017, 08:26 PM IST

श्रीगंगानगर.

शहर में सीवरेज का द्वितीय चरण का काम चल रहा है। इसमें सीवरेज लाइन डालने के साथ-साथ पेयजल पाइप लाइनें भी नई डाली जा रही है जिनसे 24 घंटे पेयजल आपूर्ति दी जाएगी। इन सुविधाओं का लाभ कब मिलेगा यह तो समय ही बताएगा पर आए दिन पाइप लाइनें टूटने से लोग परेशानी भोग रहे हैं।


वार्ड 30 सरस्वती नगर में नगर विकास न्यास कार्यालय के सामने से एलएंडटी कंपनी ने 75 एमएम की पेयजल पाइप लाइन डालने के लिए एक्सकेवेटर की सहायता से गुरुवार को खुदाई का काम शुरू किया। खुदाई शुरू करते ही थोड़ी देर बाद पेयजल पाइप टूट गई। इसके बाद मोहल्लावासियों ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को भी सूचित किया परन्तु उन्होंने सीवरेज कंपनी का काम बताकर पल्ला झाड़ लिया। पेयजल पाइप लाइन को दूसरे दिन शुक्रवार को भी नहीं जोड़ा जा सका जिसका कारण बार-बार आने वाली पेयजल सप्लाई रहा। मजबूरन मोहल्लावासियों के लिए पानी का टैंकर मंगवाना पड़ा।

पाइप लाइन टूटने से पानी को तरसे
सीवर कंपनी की खुदाई के दौरान पाइप लाइन टूटी है। दो दिन गुजरने पर भी इसकी मरम्मत नहीं हो पाई। इससे जलसंकट पैदा हो गया है।
-प्रभुदयाल गोदारा, वार्डवासी

शिकायत पर भी नहीं हुई कार्रवाई
हमने जलदाय विभाग के अधिकारियों को पाइप लाइन टूटने की शिकायत की थी परन्तु कोई कार्रवाई नहीं हुई।
-भूमिका रानी, वार्डवासी

मजबूरी में मंगवाना पड़ा टैंकर
जिस समय पाइप लाइन टूटी सीवरेज कंपनी के कार्मिक मौके पर मौजूद थे। घरों में जल संकट के चलते पानी का टैंकर मंगवाया है।
-मीनू सेठी, वार्डवासी

साइट इंजीनियर कर रहे सहयोग
खुदाई कार्य के चलते पेयजल पाइप लाइन टूटी है परन्तु कंपनी के साइट इंजीनियर सहयोग कर रहे हैं।
-मनोज शर्मा, वार्डवासी

बार-बार जलापूर्ति से हो रहा काम बाधित
खुदाई कार्य के चलते पाइप लाइन टूट गई थी। इसे जोडऩे के काम शुरू करते ही बार-बार पेयजल सप्लाई शुरू होने से गड्ढे में पानी भरने से काम बाधित हुआ। शाम को फिर श्रमिक लगाए हैं शीघ्र ही काम पूरा कर लोगों को राहत पहुंचाई जाएगी।
-शिवमंगल पांडेय, साइट इंचार्ज, एल एंड टी

vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned