scriptAn very special Mata kali Mandir and know its power | नवरात्रि विशेष : काली यंत्र पर बना महाकाली मंदिर, जिसके ठीक सामने मौजूद है शिव पंचायत | Patrika News

नवरात्रि विशेष : काली यंत्र पर बना महाकाली मंदिर, जिसके ठीक सामने मौजूद है शिव पंचायत

- दूर दूर से दर्शन के लिए यहां आते हैं लोग
- एक पत्थर में बनी देवी महाकाली की 17 फीट ऊंची प्रतिमा

Published: April 09, 2022 10:22:23 am

सभी प्रदेशों के साथ साथ पूरे देश में इन दिनों नवरात्रि की धूम मची हुई है। जिसके चलते देवी माता के सिद्ध दरबारों से लेकर गली मोहल्लों के मंदिरों तक में माता के भक्त आस्था भाव के साथ पूजन दर्शन करने बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। ऐसेे में आज हम आपको एक ऐसे महाकाली मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपनी निर्माण शैली और प्रतिमा के लिए जाना जाता है।

maha kali special temple
maha kali special temple

इस मंदिर की खासियत है कि इसका निर्माण सिद्ध मंत्रों के आधार पर हुआ है। साथ ही ग्रहों व नक्षत्रों को ध्यान में रखते हुए इसका गुंबद बनकर तैयार हो रहा है। मध्यप्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में मौजूद ये एकमात्र काली यंत्र पर बना महाकाली मंदिर, श्री सिद्ध महाकाली पीठ रैंगवा पाटन रोड पर स्थित है।

पॉजीटिव एनर्जी का रखा गया है विशेष ध्यान :
पुजारी पंडित सुधीर दुबे का कहना है कि माता महाकाली को रौद्र रूप के लिए जाना जाता है, लेकिन इनका पूजन व दर्शन सौम्यता के लिए भी होता है। वहीं इनकी पूजा केवल तंत्र मंत्र से ही नहीं, बल्कि सामान्य ध्यान पूजा से भी होती है। इसलिए यहां इनकी प्रतिमा का मुख उत्तर दिशा में रखा गया है।
सामान्यत: दक्षिणमुखी काली माता के रूप को उग्र माना जाता है। वहीं इस मंदिर का निर्माण काली यंत्र के आधार पर हुआ है, जिसका काम अभी चल रहा है। गुंबद पर काली यंत्र स्थापित किया जा रहा है। जो कि मंदिर के भीतर आने वालों को पॉजीटिव एनर्जी प्रदान करेगा।

यहां मंत्रोच्चारण करने पर उसकी ध्वनि व कंपन को स्वयं महसूस किया जा सकता है। मंदिर की कुल ऊंचाई 57 फीट रहेगी।

शिव पंचायत भी है यहां
पंडित सुधीर दुबे के अनुसार यहां माता के मुख के ठीक सामने शिव पंचायत की भी स्थापना की गई है ताकि महाकाली माता का जो तेज है वह आम श्रद्धालुओं के बजाए महादेव के पास चला जाएगा। क्योंकि इनकी शक्ति को सीधे तौर पर कोई अन्य ग्रहण नहीं कर सकता है। मंत्रों के आधार पर इसका एक एक कोना निर्मित किया गया है।

एक पत्थर पर बनी
पं. सुधीर दुबे ने बताया कि यहां देवी महाकाली की 17 फीट ऊंची प्रतिमा एक ही पत्थर में बनी है। यह महाकाली की प्रतिमा जबलपुर में ही मौजूद गढ़ाफाटक वाली महाकाली की हूबहू प्रतिकृति है। जिनके प्रति अगाध आस्था है। पहली नजर में कोई भी इतनी बड़ी पत्थर की खूबसूरत प्रतिमा देखकर आश्चर्यचकित हो जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टपूनियां हत्याकांड में बड़ा अपडेट : चौथे दिन भी नहीं हुआ पोस्टमार्टम, शव उठाने को लेकर मृतक के भाई के घर पर चस्पा किया नोटिसहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का साया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.