इस मंदिर में 30 दिनों तक धरना देने पर हर मनोकामना हो जाती है पूरी

इस मंदिर में 30 दिनों तक धरना देने पर हर मनोकामना हो जाती है पूरी

Devendra Kashyap | Updated: 02 Jul 2019, 12:42:35 PM (IST) मंदिर

maa netula mandir : मां नेतुला के दरबार में आने वाले लोगों का नेत्र से संबंधित विकार दूर होता है। मान्यता है कि इस मंदिर में सच्चे भक्तिभाव से 30 दिनों तक धरना देने पर मनवांछित फल की प्राप्ति होती है।

हमारे देश में कई मंदिरें है, जिनकी अलग-अलग मान्यताएं हैं। आज हम आपको ऐसे मंदिर के बारे में बताएंगे, जिसके बारे में कहा जाता है कि यहां 30 दिनों तक धरना देने पर हर मनोकामना पूर्ण हो जाती है। यह मंदिर बिहार के जमुई में है। यह मंदिर जमुई रेलवे स्टेशन के ठीक सामने ( मलयपुर ) है। इस मंदिर को जमुई का गौरव माना जाता है। इस काली मंदिर को मां नेतुला मंदिर ( Maa Netula mandir jamui ) के नाम से जाना जाता है।

इस मंदिर के बारे में मान्यता है कि मां नेतुला ( mata netula ) के दरबार में आने वाले लोगों का नेत्र से संबंधित विकार दूर होता है। यही कारण है कि जमुई काली मंदिर में सालों भर नेत्र रोग से परेशान पुरूष और महिला श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। मान्यता है कि इस मंदिर में सच्चे भक्तिभाव से 30 दिनों तक धरना देने पर मनवांछित फल की प्राप्ति होती है।

maa netula mandir jamui

हजारों साल पुराना है इस मंदिर का इतिहास

मां नेतुला मंदिर ( Maa Netula ) का इतिहास हजारों साल पुराना है। बताया जाता है कि भगवान महावीर जब घर त्याग कर ज्ञान की तलाश में निकले थे, तब उन्होंने पहला दिन मां नेतुला मंदिर परिसर स्थित वटवृक्ष के नीचे रात्रि विश्राम किया था। कहा जाता है कि भगवान महावीर ने इसी स्थान पर अपना वस्त्र त्याग कर दिया था। इसका उल्लेख जैन धर्म के प्रसिद्ध ग्रंथ कल्पसूत्र में भी वर्णित है।

maa netula mandir jamui

मंगलवार को उमड़ती है श्रद्धालुओं की भीड़

मां नेतुला के दरबार में प्रत्येक मंगलवार को भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है। वहीं नवरात्रा के दौरान मां नेतुला की पूजा अर्चना का विशोष महत्व है। मान्यता है कि मां नेतुला के दरबार में कष्टी देने से नेत्र से संबंधित विकार दूर हो जाता है। मनचाही मुराद पूरी होने के बाद श्रद्धालु सोने या चांदी की आंखें चढ़ाते हैं। यही कारण है कि सालों भर माता के दरबार में नेत्र रोग से परेशान पुरूष एवं महिला श्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहता है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned