जिले में अब तक तीन लाख से अधिक बच्चों के लगाया खसरा-रूबेला टीका

जिले में अब तक तीन लाख से अधिक बच्चों के लगाया खसरा-रूबेला टीका
जिले में अब तक तीन लाख से अधिक बच्चों के लगाया खसरा-रूबेला टीका

Pawan Kumar Sharma | Publish: Aug, 26 2019 09:19:16 AM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

Measles-rubella vaccination: खसरा-रूबेला टीकाकरण अभियान के तहत जिले में अब तक 3 लाख 17 हजार 8 04 बच्चों का टीकाकरण हो चुका है, और यह अभियान लगातार जारी है।

टोंक. खसरा-रूबेला टीकाकरण अभियान के तहत जिले में अब तक 3 लाख 17 हजार 8 04 बच्चों का टीकाकरण हो चुका है, और यह अभियान लगातार जारी है। वंचित बच्चों को रोजाना विभिन्न शिक्षण संस्थानों में व आंगनबाडिय़ों में टीकाकरण किया जा रहा है। इस बीच चिकित्सा विभाग की टीम व यूनिसेफ की टीम द्वारा भी निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी जा रही है।

read more: राजकीय अस्पताल की बॉयोमेट्रिक्स खराब, कर्मचारियों की बढ़ी लेटलतीफी


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.एस. अग्रवाल ने सीएमएचओ कार्यालय में डिप्टी. सीएमएचओ डॉ. महबूब खान व समस्त अधिकारियों, स्टाफ के साथ बैठक आयोजित कर इस अभियान को सफल बनाने के लिए चर्चा की। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि खसरा रूबेला टीकाकरण को लेकर बच्चों के साथ अभिभावकों में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है।

 

आगामी दिनों में हर संभव प्रयास कर लक्षित बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण पूर्ण करवाने के प्रयास किए जाएंगे। जिला अस्पताल में खसरा रूबेला का टीका लगाया जा रहा है। शहर के काफला स्थित जामा मस्जिद में नमाज के दौरान मौलवी सईद व यूनिसेफ के प्रतिनिधि फुजैल अहमद द्वारा लोगों को जागरूक किया गया। इससे पूर्व चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर चेतन जैन ने डीएसओ से मिलकर शहर के सभी राशन डीलरों को पत्र लिखकर अभियान में पूर्ण सहयोग कर अभियान को सफल बनाने के लिए का कहा।

read more:बीसलपुर में पानी की आवक जारी, बांध से बनास नदी में बढ़ाई पानी निकासी की मात्रा

अज्ञात बीमारी से 15 दुधारू पशुओं की हुई मौत

निवाई. ग्राम पंचायत करेडा बुजुर्ग की सूरतरामपुरा बैरवा की ढ़ाणी में दो दिन में अज्ञात बीमारी से अब तक 15 पालतू मवेशियों की मौत हो गई हैं। लेकिन कई बार सूचना के बाद भी पुशपालन विभाग की ओर से कोई भी प्रतिनिधि मौके पर नहीं पहुंचा जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त हैं।

 

सरपंच बनवारीलाल बैरवा और सूरतरामपुरा ढ़ाणी के प्रहलाद जाट, गंगाराम ,बाबूलाल, मायाराम, प्रहलाद, श्योजीराम, हरिनारायण, जयराम, मदनलाल, दिनेश चौधरी व गुलाब सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि पिछले दो दिन में दुधारू पशुओं में महामारी फैल गई जिससे अब तक 10 भैसें और 5 गायें अज्ञात बीमारी का शिकार हो चुकी हैं और गांव में अभी दर्जनों दुधारू पुश बीमार हैं जिससे ग्रामीणों में खौफ पैदा हो गया।

 

ग्रामीणों ने यह भी बताया कि इस अज्ञात बीमारी के बारे पशुपालन विभाग के उच्चाधिकारियों और उपखंड अधिकारी जेपी बैरवा को सूचना दे दी गई लेकिन अभी तक प्रशासन की ओर मौके पर कोई नहीं पहुंचा हैं और अभी कई पुश बीमार हैं और कभी भी मर सकते हैं।

 

यदि पुशपालन विभाग ने तुरंत कार्यवाही नहीं की तो ढ़ाणी के सभी पशु बीमार होकर अकाल मौत का ग्रास बन जाएंगे। ग्रामीणों ने बताया कि पुश शाम को बीमार होते और सुबह हो होते मवेशी मर जाते हैं और रात में पशु चिकित्सकों को बुलाने पर भी नहीं आते। ग्रामीणों ने यह भी मांग की हैं कि तत्काल पशुपालन विभाग की टीम मौके पर पहुंच कर बीमार पशुओं का उपचार किया जाएं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned