Somvati Amavasya 2021 सोमवती अमावस्या पर उज्जैन में क्षिप्रा में स्नान प्रतिबंधित

Somvati Amavasya 2021 कलेक्टर ने जारी किया आदेश

By: deepak deewan

Published: 05 Sep 2021, 03:00 PM IST

उज्जैन. धार्मिक नजरिए से 6 सितंबर 2021 का दिन अहम है. इस दिन सोमवार है और अमावस्या भी है. सोमवार और अमावस्या तिथि के इस संयोग को सोमवती अमावस्या कहा जाता है. इस पर्व पर पावन नदियों में स्नान कर शिव पूजन का विधान है पर इस बार उज्जैन में भक्त ऐसा नहीं कर पाएंगे. उज्जैन में क्षिप्रा नदी में नहाना प्रतिबंधित कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है.

कलेक्टर आशीषसिंह ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है. आदेश के अनुसार सोमवार को शहर के सभी तटों पर नहाना प्रतिबंधित किया गया है. महाकाल की भादों की अंतिम सवारी होने के कारण सोमवार को रामघाट व नरसिंह घाट पर आमजनों का आना—जाना पहले से ही प्रतिबंधित किया गया था। इसके साथ ही अन्य घाटों पर भी नहाना मना किया गया है और इसके उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई है.

shipra.jpg

कलेक्टर ने कहा है कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण में बड़ी मुश्किल से कामयाबी मिली है। कोरोना अभी गया नहीं है इसलिए सावधानी जरूरी है। कोरोना पर काबू पाने के लिए समाज के हर वर्ग, धर्म व संप्रदाय को महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। कोरोना संक्रमण से आमजन की सुरक्षा हेतु राज्य शासन द्वारा जारी की गई गाइड लाइन में ऐसे आयोजनों को प्रतिबंधित किया है जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है।

भोपाल में बनेगा अंडर वॉटर एक्वेरियम, पानी के नीचे से देख सकेंगे जलीय जीवन

जनसमूह एकत्रित होने पर कोरोना संक्रमण फैलने की आशंका है. इसके लिए सख्ती जरूरी है। ऐसे में कलेक्टर ने लोगों से आग्रह किया है कि सोमवती स्नान घरों में करें और पूजा भी यथासंभव घर पर ही की जाना चाहिए। कलेक्टर ने कहा है कि क्षिप्रा तटों पर पुलिस, होमगार्ड व अन्य सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। नावों के माध्यम से आ रहे लोगों को भी हर हाल में रोका जाएगा।

Show More
deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned