scriptNDRF saved 2 youths life drowning in Ganga | दिल्ली के युवकों को काशी में गंगा में डूबने से बचाया एनडीआरएफ ने | Patrika News

दिल्ली के युवकों को काशी में गंगा में डूबने से बचाया एनडीआरएफ ने

वाराणसी में गंगा में डूबने का सिलसिला लगातार जारी है। खास तौर पर बाहरी लोगों का। मंगलवार को भी दो युवक दशाश्वमेध घाट के सामने उस पार गंगा में डूबने लगे। वो तो रुटीन विजिट पर रहे एनडीआरएफ की टीम ने उन्हें देख लिया और आनन-फानन में उन दोनों को बाहर निकाल लिया।

वाराणसी

Published: June 21, 2022 02:37:49 pm

वाराणसी. काशी में गंगा में डूबने का सिलसिला जारी है। वो भी बाहरी लोगों का। मंगलवार को भी प्राचीन दशाश्वमेध घाट के उस पार दो युवक नहाते-नहाते अचानक गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। वो इन डूबते युवको को समय रहते एनडीआरएफ की टीम ने देख लिया आनन-फानन में रेस्क्यू ऑपरेशन चला कर उन्हें बचा लिया। बताया जा रहा है कि दोनों युवक दिल्ली के मूल निवासी हैं।
दिल्ली के युवकों को गंगा में डूबने से बचाने में जुटी एनडीआरएफ टीम
दिल्ली के युवकों को गंगा में डूबने से बचाने में जुटी एनडीआरएफ टीम
शुक्रगुजार हैं एनडीआरएफ के जिन्होंने बचाई जान

गंगा से सकुशल बाहर आने के बाद दिल्ली से आए बिट्‌टू ने बताया कि वो अपने मित्र विकास के साथ दर्शन-पूजन के लिए काशी आए थे। आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर गंगा किनारे घाटों पर लोग योगाभ्यास कर रहे थे तो उन दोनों ने नाव कर उस पार जा कर स्नान का फैसला किया। बताया कि गंगा में उतर कर स्नान के दौरान अचानक गहरे पानी में चले गए। युवक ने कहा कि ऊपर वाले का शुक्रिया कि जब हम दोनों डूब रहे थे तभी एनडीआरएफ टीम ने हमें देखा और फौरन बचाव के लिए आगे आए और कुछ ही देर में बाहर निकाल लिया। बिट्‌टू ने कहा कि हम एनडीआरएफ के शुक्रगुजार हैं और ताजिंदगी रहेंगे।
इन दोनों युवकों को डूबने से बचाया एनडीआरएफ नेरूटीन गश्त पर थे एनडीआरएफ के जवान

दरअसल जिस वक्त युवक गंगा में डूब रहे थे तब एनडीआरएफ के जवान रुटीन गश्त पर थे। एनडीआरएफ की 11वीं बटालियन के इंस्पेक्टर विनीत सिंह टीम के साथ दशाश्वमेध घाट से मोटरबोट से गंगा में रूटीन गश्त पर थे। उसी दौरान गंगा पार रामनगर की ओर से कुछ लोगों की आवाज सुनाई दी। उनकी आवाज सुन कर टीम तेजी से मौके पर पहुंची और आनन-फानन टीम के सदस्यों ने गंगा में छलांग लगा कर दोनों युवकों को बचा लिया।
जो तैरना नहीं जानते वो गहरे पानी में न जाय

घटना के बाद एनडीआएफ 11वीं बटालियन के इंस्पेक्टर विनीत सिंह ने कहा कि नदी या बड़े जलाशय में स्नान करते वक्त हमेशा सतर्क रहना चाहिए। अगर तैरना नहीं जानते तो नदी या जलाशय तट से ज्यादा आगे नहीं जाना चाहिए। थोड़ी सी लापरवाही भारी पड़ सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल 2 बजे लेंगे शपथ, मंत्रिमंडल में बन सकते हैं 35 मंत्रीनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?पश्चिम बंगाल के बीरभूम में दर्दनाक हादसा, ऑटोरिक्शा और बस की टक्कर में 9 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजाना23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुकMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.