कोरोना का अद्भुत असर, सालों बाद काठमांडू से दिखे माउंट एवरेस्ट के पहाड़

  • काठमांडू से दिखने लगा माउंट एवरेस्ट
  • सालों बाद दिखा ये खूबसूरत नज़ारा

By: Piyush Jayjan

Published: 18 May 2020, 11:57 AM IST

नई दिल्ली। कोरोनावायरस ( coronavirus ) ने जहां एक ओर इंसानी दुनिया की काया पलट कर दी है वहीं नेचर ने इस मुश्किल दौर में अपना पुराना रंग दिखाया है। कोरोना महामारी की वजह से इंसानों की जिंदगी और वातावरण दोनों को बदल रहा है। अब नदियों का पानी फिर पीने लायक हो रहा है वहीं पिछले कुछ दिनों से आबोहवा भी काफी साफ हुई है।

भारत के अलग-अलग हिस्सों से पास की कई पर्वत श्रृंखलाओं को देखा गया। ऐसा काफी लंबे अरसे बाद हुआ है।सोशल मीडिया पर खूब तस्वीरें भी वायरल हुई हैं। इसी तरह का मंजर ताजा तस्वीर नेपाल से भी सामने आया है, जहां कई वर्षों बाद काठमांडू घाटी से फिर माउंट एवरेस्ट के खूबसूरत पहाड़ दिखाई देने लगे हैं।

ऋतिक रोशन की तरह डांस करके TikTok यूजर बना इंटरनेट सनसनी, देखिए Viral Video

इन तस्वीरों को कई ट्वीटर हैंडल के जरिए ट्वीट किया गया है। ये तस्वीर शेयर करते हुए नेपाल की एक वेबासाइट ने कैप्शन में लिखा, ‘कोरोना वायरस के कारण जारी लॉकडाउन ने नेपाल और उत्तरी भारत की हवा को साफ कर दिया है। कई वर्षों बाद माउंट एवरेस्ट फिर से काठमांडू घाटी से देखा जा सकता है।

eycibsmxsaadoja.jpeg

आपको बता दें कि काठमांडू ( Kathmandu ) से माउंट एवरेस्ट ( Mount Everest ) की दूरी तकरीबन 200 किमी. है। इन बेहतरीन तस्वीरों को फोटोग्राफर Abhushan Gautam ने कैमरे में कैद किया है। हालांकि कई लोग इन तस्वीरों पर यकीन नहीं कर रहे, उनका कहना है कि यह मुमकिन नहीं है।

जेब में खाना खाने के लिए नहीं बचे थे पैसे, दिल्ली से पैदल ही जौनपुर के लिए निकल पड़ा दिव्यांग शख्स

काठमांडू में अप्रैल महीने में धादिंग, नुवाकोट और चितवन में जंगलों में आग और घाटी में जलाए जा रहे कचरे की वजह से घाटी के ऊपर वायु प्रदूषण का गुबार बना हुआ था। इसलिए माउंट एवरेस्ट ( Mount Everest ) नहीं दिखाई दे रहा था। लेकिन प्रदूषण का स्तर कम होने के बाद काठमांडू से माउंट एवरेस्ट को देखा जा सकता है।

coronavirus
Show More
Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned