scriptThe village in Tamil Nadu where wearing shoes and slippers are Banned | भारत के इस गांव में अगर आप पहनते हैं जूते-चप्पल तो मिल सकती है सजा, लोग हाथों में चप्पल लिए आते हैं नजर | Patrika News

भारत के इस गांव में अगर आप पहनते हैं जूते-चप्पल तो मिल सकती है सजा, लोग हाथों में चप्पल लिए आते हैं नजर

भारत के तमिलनाडु राज्य में एक ऐसा गांव है जहां जूते-चप्पल पहनने पर पाबंदी है। यहां रहने वाला कोई भी व्यक्ति गांव के अंदर जूते-चप्पल नहीं पहनता है। अगर किसी ने यह नियम तोड़ा तो उसे कठोर सजा भी मिलती है।

Published: April 04, 2022 08:47:25 pm

दुनियाभर में ना जाने कितने ऐसे रहस्य छुपे हुए हैं जिनके पीछे की वजह और कारण आज तक किसी को समझ में नहीं आया है। कई आपने कभी ऐसे गांव के बारे में सुना है जहाँ पर जूते चप्पल पहनना सख्त मना है, पुरे गांव के सभी लोग नंगे पैर ही गांव में घूमते है, अब आप सोच रहे होंगे ऐसा कैसे हो सकता है की पूरे गांव में कोई चप्पल जूते नहीं पहनता है।
भारत के इस गांव में अगर आप पहनते हैं जूते-चप्पल तो मिल सकती है सजा, लोग हाथों में चप्पल लिए आते हैं नजर
भारत के इस गांव में अगर आप पहनते हैं जूते-चप्पल तो मिल सकती है सजा, लोग हाथों में चप्पल लिए आते हैं नजर
अगर हम आपसे यह पूछें कि आप क्या बिना जूते और चप्पल पहने पूरे दिन इधर-उधर घूम सकते हैं? तो यकीनन आपका जवाब ना में ही होगा। आजकल के समय में लोग बिना जूता या चप्पल पहने एक कदम भी नहीं चल सकते हैं। दुनिया में अक्सर एक से बढ़कर एक अजीबो-गरीब किस्से सुनने को मिल जाते हैं। कोई किस्से तो ऐसे होते हैं जिन पर लोगों को विश्वास करना मुश्किल हो जाता है। वहीं कुछ किस्से ऐसे होते हैं जो हर किसी को हैरत में डाल देते हैं।
मगर भारत के इस गांव में चप्पल और जूते पहनना मना है। यहां रहने वाला एक भी शख्स गांव के अंदर जूते या चप्पल नहीं पहनता। गांव के लोग ऐसा एक देवी के सम्मान में करते हैं। खास बात ये है कि यहां पर किसी से ये नियम जबरदस्ती मनवाना नहीं पड़ता है, बल्कि लोग खुद-ब-खुद इसका पालन करते हैं। गांव के बाहर जाने के लिए लोग हाथों में जूते-चप्पल पहनकर जाते हैं।

barefoot_4.jpg
तमिलनाडु के मदुराई से लगभग 20 किलोमीटर दूर एक ऐसा गांव है जहां पर लोगों को जूते चप्पल पहनना सख्त मना है। इस गांव का नाम कलिमायन है। गांव में सालों से किसी ने अपने पैर में चप्पल या फिर जूते नहीं पहने। इस गांव के लोग अपने बच्चों को भी चप्पल-जूते पहनने से मना करते हैं। अगर गलती से भी कोई उस गांव का व्यक्ति जूता या चप्पल पहन लेता है तो ऐसी स्थिति में उसको कठोर सजा भुगतनी पड़ती है।
कहा जाता है कि इस गांव के लोग अपाच्छी नाम के देवता की सदियों से पूजा करते आ रहे हैं। उनका मानना है कि ये देवता ही उनकी रक्षा करते हैं। अपने इसी देवता के प्रति आस्था दिखाने के लिए गांव की सीमा के अंदर जूते-चप्पल पहनना मना है।

यह भी पढ़ें

इस गांव में लड़कियां बड़े होते ही बन जाती हैं लड़का, इस रहस्य का वैज्ञानिक भी नहीं लगा पाए पता

barefoot_1.jpg
गांव से बाहर निकलने पर वो इंसान जूते चप्पल पहन लेता है और लौटते समय गांव की सीमा से पहले ही जूता चप्पल उतार हाथ में लेकर अपने घर पहुंचता है। इस गांव में यह अजीब परंपरा कब से चली आ रही है इसकी जानकारी किसी के पास नहीं है, स्थानीय लोगो का मानना है की कई पीढ़ियों से गांव के सभी लोग इस परंपरा को बहुत अच्छे से निभा रहे हैं। गांव के बच्चे भी स्कूल नंगे पांव ही जाते हैं।
आपको जानकर हैरानी होगी कि इस गांव के लोग सदियों से इस अजब-गजब परंपरा को निभाते चले आ रहे हैं। ऐसे में अगर इस गांव के लोगों को बाहर जाना होता है तो हाथ में चप्पल लेकर गांव की सीमा के बाहर जाने के बाद उसे पहनते हैं और फिर जब वापस आते हैं तो गांव की सीमा से पहले ही जूता चप्पल उतार देते हैं। ऐसे में यहां के लोग जूते -चप्पल पहनने के नाम पर नाराज भी हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें

एक नहीं बल्की 4 लड़कों के साथ भागी युवती, तय नहीं कर पाई किससे करे शादी, लकी ड्रा से चुना पति

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Bharat Drone Mahotsav 2022: दिल्ली में ड्रोन फेस्टिवल का उद्घाटन कर बोले मोदी- 2030 तक ड्रोन हब बनेगा भारतपहली बार हिंदी लेखिका को मिला International Booker Prize, एक मां की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचलपाकिस्तान में 30 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, Pak सरकार को घेरते हुए इमरान खान ने की मोदी की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातचांदी के गहने-सिक्के की भी हो सकती है हॉलमार्किंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.