scriptISI की चाल और सेना की शह पर शहबाज़ होंगे पाकिस्तान के नए पीएम, बिलावल का मिलेगा साथ तो इमरान का सूपड़ा साफ | Shehbaz Sharif to be Pakistan new PM, announcement could be made soon | Patrika News

ISI की चाल और सेना की शह पर शहबाज़ होंगे पाकिस्तान के नए पीएम, बिलावल का मिलेगा साथ तो इमरान का सूपड़ा साफ

locationनई दिल्लीPublished: Feb 21, 2024 11:32:33 am

Submitted by:

Tanay Mishra

Pakistan’s New PM: पाकिस्तान के नए पीएम के नाम की आधिकारिक घोषणा जल्द ही हो सकती है। इस पद के लिए एक पुराने पीएम के नाम पर ही सहमति बनी है।

pakistan_political_scene.jpg

पाकिस्तान (Pakistan) में चुनाव होने से पहले राजनीतिक अस्थिरता बनी हुई थी और उम्मीद जताई जा रही थी कि चुनाव होने के बाद यह अस्थिरता खत्म हो जाएगी। पर ऐसा नहीं हुआ। पाकिस्तान में चुनाव होने के बावजूद भी राजनीतिक अस्थिरता बनी हुई है। देश में 8 फरवरी को हुए चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला। इतना ही नहीं, चुनाव में बेहिसाब धांधली भी हुई। लेकिन अब तक देश में नई सरकार नहीं बनी। पर अब जल्द ही देश में नए पीएम के नाम की घोषणा हो सकती है। जानकारी के अनुसार नए पीएम का नाम तय हो चुका है।


शहबाज़ शरीफ फिर बनेंगे पाकिस्तान के पीएम

नवाज़ शरीफ के भाई शहबाज़ शरीफ फिर से पाकिस्तान के पीएम बनेंगे। उनके नाम पर मुहर लग चुकी है।


shehbaz_sharif_.jpg


हुआ समझौता, बिलावल का मिलेगा साथ

शहबाज़ को पीएम बनाने के लिए नवाज़ की पार्टी और बिलावल भुट्टो जरदारी की पार्टी में समझौता हो गया है। मंगलवार देर रात दोनों पार्टियों में समझौता फाइनल हुआ है। बिलावल ने शहबाज़ का साथ देने को मंज़ूरी दे दी है। इसके तहत उनके पिता आसिफ अली जरदारी फिर से देश के राष्ट्रपति बनेंगे।

ISI ने चली चाल और सेना की भी मिली शह

पाकिस्तान में खुफिया एजेंसी ISI और देश की सेना के पास काफी पावर है। ऐसे में शहबाज़ को पीएम बनाने के लिए आईएसआई ने भी चल चली और सेना ने भी इसमें शह दी। इसके तहत ही धांधली भी की गई। और अब आईएसआई, सेना और बिलावल की पार्टी के समर्थन से शहबाज़ एक बार फिर पाकिस्तान के पीएम पद की कुर्सी संभालेंगे।

इमरान का सूपड़ा साफ

चुनाव में इमरान की पीटीआई पार्टी समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों को सबसे ज़्यादा सीटें मिली। ऐसे में लग रहा था कि पाकिस्तान का नया पीएम इमरान की मर्ज़ी का बन सकता है। लेकिन इमरान की एक न चली और बिलावल के समर्थन के साथ ही आईएसआई और सेना की बैकिंग के चलते शहबाज़ को तो पीएम पद मिलेगा और इमरान का सूपड़ा साफ हो गया है।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो