Bharat Bandh Live: सवर्णों की हूंकार से फैली दहशत, पथराव, लाठीचार्ज, रोकी ट्रेन, देखें वीडियो

Bharat Bandh Live: सवर्णों की हूंकार से फैली दहशत, पथराव, लाठीचार्ज, रोकी ट्रेन, देखें वीडियो

Dhirendra yadav | Publish: Sep, 06 2018 12:28:53 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 12:33:07 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

एससी एसटी एक्ट के विरोध में पिनाहट के भदरौली रेलवे स्टेशन पर एकत्रित हुआ सर्व समाज, खेरागढ़ थाना क्षेत्र में बस में तोड़फोड़, पुलिस ने लाठियां फटकार कर भगाए उपद्रवी

आगरा। एससी एसटी एक्ट के विरोध में सवर्णों द्वारा भारत बंद किया। आगरा में सवर्ण समाज द्वारा दुकानों को बंद कराया गया। जहां जहां से सवर्ण निकले, उधर ही मार्केट बंद होते चले गये। जहां दुकानें खुली हुईं थी, वहां पर दुकानों को बंद करा दिया गया। आगरा में इस दौरान कई जगह से हिंसा की सूचनायें भी मिलीं, जिसमें खेरागढ़ में उपद्रवियों ने वाहनों को सड़क पर रोका। बाजार बंद करा रहे लोगों द्वारा बसों पर पथराव किया गया। वहीं प्रदर्शनकारियों द्वारा आगरा इटावा डीएमयू ट्रैन को रोक कर प्रदर्शन किया।

नेशनल हाईवे 2 पर जाम
सवर्णों द्वारा किये गये बंद के ऐलान से बाजार दहशत में रहा। शांतिपूर्ण बंद का ऐलान था, लेकिन जब हिंसक घटनायें हुईं, तो लोगों में दहशत फैल गई। खेरागढ़ की घटना की जानकारी जब लोगों को हुई तो लोग दहशत में आ गये। उधर कई स्कूलों ने तो अवकाश किये हुए थे, लेकिन जिन स्कूल में आज भी बच्चे पढ़ने गये थे, उन स्कूलों में पेरेंट्स खुद ही अपने बच्चों को लेने पहुंच गये। उधर प्रदर्शनकारियों ने नेशनल हाईवे 2 पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारियों के होश उड़ गये। पुलिस अधिकारियों के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया।

अपील का नहीं दिखा असर
भारत बंद को शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए सर्व समाज ने अपील की थी, लेकिन इस अपील का असर दिखाई नहीं दिया। खेरागढ़ में उपद्रवियों ने बस में तोड़फोड़ कर दी। इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया। उधर आगरा में इस आंदोलन के दौरान सवर्ण समाज के लोगों ने जबरन दुकानों को बंद कराया। लोगों ने एससी एसटी एक्ट के विरोध में बाजार बंद रखकर अपना समर्थन दिया है।

ये भी पढ़ें - Live: 'रानी' की विधानसभा क्षेत्र में सवर्णों ने ट्रेन रोककर दिखाया विरोध

ये भी पढ़ें - भारत बंद के बीच सामाजिक ताना-बाना ध्वस्त होने से कौन बचाएगा?

Ad Block is Banned