चाहते हुए भी अटल जी के पैतृक निवास नहीं पहुंच पाये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, जानिये बड़ा कारण

चाहते हुए भी अटल जी के पैतृक निवास नहीं पहुंच पाये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, जानिये बड़ा कारण

Dhirendra yadav | Publish: Sep, 08 2018 06:44:41 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

योगी आदित्यनाथ ने आज बटेश्वर के रानी घाट पर भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां यमुना में विसर्जित की

आगरा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बटेश्वर के रानी घाट पर भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां यमुना में विसर्जित की, लेकिन मुख्यमंत्री योगी उनके पैतृक आवास तक नहीं पहुंच पाये। मुख्यमंत्री के वहां जाने का कार्यक्रम था, लेकिन बारिश के कारण ये कार्यक्रम रद्द हो गया।

ये भी पढ़ें - मुख्यमंत्री योगी ने अटल जी के गांव में की ये बड़ी घोषणा, बताया किस तरह होगा गांव का विकास

वहां जाना था खतरनाक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जैन भवन में आयोजित श्रद्धांजलि सभा को संबोधित किया। इसके बाद मुख्यमंत्री का अटल जी के पैतृक आवास जो गांव के अंदर है, वहां जाने का कार्यक्रम था, लेकिन कुछ ही देर पूर्व ही बारिश के कारण वहां जाने का कार्यक्रम रद्द हो गया। कारण था कि जहां अटल जी का पैतृक आवास है, वो जमीन से करीब 20 फीट की उंचाई पर बना है। खंडहर में तब्दील हो चुकी इस हवेली तक जाने का रास्ता है, लेकिन उंचाई होने के कारण फिसलने का डर था, जिसके चलते मुख्यमंत्री का यहां जाने का कार्यक्रम रद्द किया गया।

ये भी पढ़ें - अटल जी की अस्थि विसर्जन के दौरान इस खास मेहमान पर रहीं सबकी निगाहें, पहली बार आईं बटेश्वर

इंतजार करती रही हवेली
मुख्यमंत्री के आगमन की खबर से बटेश्वर के लोगों को विकास की उम्मीद जाग उठी है। कई दिनों से उनके आगमन को लेकर गांव में तैयारियां भी चल रही थीं। मुख्यमंत्री के आगमन का पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हवेली भी इंतजार करती रही, लेकिन आज मुख्यमंत्री का यहां जा ने का कार्यक्रम रद्द हुआ, तो लोगों में निराशा दिखी। इसका बड़ा कारण था, कि लोग चाहते थे, कि मुख्यमंत्री देखें, कि किस प्रकार अटल जी के गांव को अपेक्षाओं का शिकार बनाया गया है। यहां तक विकास की गंगा क्यों नहीं पहुंची।

ये भी पढ़ें - अटल बिहारी वाजपेयी का जानिये क्या था असली नाम, शैक्षिक दस्तावेजों से हुआ बड़ा खुलासा

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned