सीएम योगी ने दी थी तूफान पीड़ित​ किसानों को बड़ी राहत, अभी तक नहीं पहुंची

सीएम योगी ने दी थी तूफान पीड़ित​ किसानों को बड़ी राहत, अभी तक नहीं पहुंची

Dhirendra yadav | Publish: May, 17 2018 08:15:15 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

किसानों के 52.59 करोड़ रुपये दबाए बैठा है जिला प्रशासन

आगरा। 11 अप्रैल चक्रवाती तूफान से नष्ट हुई फसलों की शासन से मिली 52.59 करोड़ मुआवजा धनराशि को 1 माह गुजरने पर भी प्रशासन द्वारा किसानों को वितरण न किए जाने पर किसान संघ में आक्रोष व्याप्त है।

ये भी पढ़ें - Ramzan mubarak: रमजान का पाक महीना हुआ शुरू, देखें वीडियो
जताया आक्रोश
भारतीय किसान संघ जिलाध्यक्ष मोहन सिंह चाहर, लक्ष्मण सिंह, हमवीर सिंह, शिशुपाल चौधरी, रामवीर चाहर , महेन्द्र सिंह प्रधान ने 11 अप्रैल को आए चक्रवाती तूफान से नष्ट हुई गेहुं की फसल के शासन से मिले 52.59 करोड़ रुपये मुआवजे को एक माह गुजरने पर भी प्रशासन द्वारा अभी तक किसानों को वितरण नहीं किये जाने पर कड़ा आक्रोष जताया।

ये भी पढ़ें - सीतापुर ही नहीं, पूरे यूपी के कुत्ते हो सकते हैं नरभक्षी, जानिए क्या है कारण

ये बोले किसान नेता
किसान संघ नेता मोहन सिंह चाहर ने कहा है कि 11 अप्रैल को ओलावृष्टि वर्षा के साथ चक्रवाती तूफान आया था, जिससे गेहूं की पकी फसल नष्ट हो गयी। शासन ने किसानों को राहत देने के लिये 52.59 करेाड रुपये मुआवजा एक माह पूर्व ही आगरा प्रशासन को दे दिया था, लेकिन एक महीना गुजरने के बाद भी प्रसाशन किसानों को शासन से मिला 52.59 करोड़ मुआवजा अभी तक वितरण नहीं कर पाया है, जोकि किसानों के साथ अन्याय है। श्री चाहर ने कहा कि बर्बाद किसान भुखमरी की स्थिति में हैं, लेकिन प्रशासन मुआवजा धनराशि को दबा के बैठा है। यही नहीं जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिये गये थे कि प्रभावित किसानों की सूची गांव में चस्पा होगी लेखपालों ने आज तक किसी भी गांव में सूची चस्पा नहीं की है। डीएम का आदेश भी हवा में उड़ा दिया। श्रीचाहर ने चेतावनी दी है कि शासन से मिले 52.59 करोड़ रुपये को जल्द ही किसानों में वितरण नहीं किया गया तो किसान संघ मुख्यमंत्री से शिकायत कर आन्दोलन करेगा।

ये भी पढ़ें - वर्ल्ड हाइपरटेंशन डे: स्वस्थ रहना है तो रिश्तों को एडजस्ट नहीं इंजॉय करें

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned