उत्तर प्रदेश के आगरा में आरक्षण की मांग को लेकर रोक दी ट्रेन, जमकर हुआ हंगामा

आरक्षण की मांग को लेकर निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फतेहाबाद में पेसेंजर ट्रेन रोक दी।

By: धीरेंद्र यादव

Published: 07 Jun 2018, 02:49 PM IST

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में आरक्षण की मांग को लेकर निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फतेहाबाद में पेसेंजर ट्रेन रोक दी। आज सुबह 9 बजे निषाद पार्टी के कार्यकर्ता सैकड़ों की संख्या में ट्रेन को रोकने के लिए एकजुट होकर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। दस मिनट तक कार्यकर्ता ट्रेन के आगे रेलवे ट्रैक पर खड़े रहे, इस दौरान जमकर नारेबाजी भी की गई। पुलिस ने आंदोलनकारियों को रेलवे ट्रैक से समझा बूझाकर हटा दिया और ट्रेन को कैंट रेलवे स्टेशन के लिये रवाना किया।

यहां रोकी ट्रेन
निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार निषाद के आह्वान पर वीर शहीद अखिलेश निषाद की आत्मा शांति हेतु एवं आरक्षण की मांग को लेकर निषाद पार्टी के कार्यकर्ता सैकड़ों की संख्या में एकजुट होकर ट्रेन रोकने के लिये फतेहाबाद स्टेशन पर पहुंचे। मैनपुरी से चलकर बाह बटेश्वर के रास्ते आगरा कैंट जा रही डीएमयू 71910 ट्रेन को निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फतेहाबाद रेलवे स्टेशन पर 9 बजकर 20 मिनट पर रोक लिया। करीब 10 मिनट तक ट्रेन रुकी रही। निषाद पार्टी के कार्यकर्ता आरक्षण की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे। सूचना मिलते ही फतेहाबाद सर्किल की पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। पुलिस ने ट्रेन को गंतव्य के लिये रवाना कराया। निषाद पार्टी के प्रदेश सचिव होतम सिंह निषाद, मंडल अध्यक्ष बाबा बालक दास व जिलाध्यक्ष कोमल निषाद ने सीओ फतेहाबाद व तहसील के अधिकारियों को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार व जिलाधिकारी आगरा को एक सम्बोधित ज्ञापन सौंप कर रेल रोको आंदोलन व धरना समाप्त किया।

ये रहे मौजूद
होतम सिंह प्रदेश सचिव युवा दल, बाबा बालक दास मंडल अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष कोमल सिंह, विधान सभा अध्यक्ष, अमर सिंह, पूर्ण सिंह, जिला महासचिव संतोष शास्त्री निषाद , विधान सभा अध्यक्ष राज कुमार निषाद, बेताल सिंह निषाद, मान सिंह निषाद, रवि कुमार निषाद, प्रताप सिंह, अवधेश निषाद, मालती देवी, गुड्डी देवी, हरिओम निषाद, सरोज निषाद, जवाहर सिंह, पूरन सिंह निषाद सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे ।

धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned