सेंट्रल जेल के बंदी की मौत, उसका भाई चीखता रहा, लेकिन किसी ने न सुनी

Dhirendra yadav

Publish: Feb, 15 2018 09:19:17 AM (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
सेंट्रल जेल के बंदी की मौत, उसका भाई चीखता रहा, लेकिन किसी ने न सुनी

सेंट्रल जेल में वर्ष 2016 से दोहरे हत्याकांड में था बंद।

 

आगरा। सेंट्रल जेल में बंद सजायाफ्ता बंदी मनोज गौतम (40 वर्ष) की मौत ने जेल प्रशासन के होश उड़ा दिए हैं। उसके सीने में तेज दर्द हुआ, सूत्रों की मानें तो जब उसके दर्द हुआ, तो उसके साथ जेल में बंद उसका भाई चीखता रहा, लेकिन उसकी किसी ने नहीं सुनी। उसे एसएन अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। आशंका है कि बंदी की मौत हार्टअटैक से हुई है। डीआईजी जेल संजीव त्रिपाठी ने जांच में लापरवाही उजागर होने पर बंदीरक्षक हरविलास को निलंबत कर दिया है।

2016 से है बंद
थाना सहपऊ जिला हाथरस के नगला कली का रहने वाला मनोज गौतम और उसके दो भाई दोहरे हत्याकांड में सेंट्रल जेल में वर्ष 2016 से बंद हैं। वर्ष 2007 में नगला कली में दो लोगों की हत्या हुई थी। इसमें मनोज गौतम, उसका भाई सतेंद्र उर्फ संजय, उनके चालक समेत चार लोगों को नामजद किया गया था। मनोज समेत सभी आरोपी पहले अलीगढ़ जेल में बंद रहे थे। बंदी मनोज गौतम और उसका भाई सतेंद्र उर्फ संजय भी उसी के साथ एक ही बैरक में बंद था।


ये लगाया आरोप
संजय का कहना है कि रात करीब एक बजे उसके भाई मनोज गौतम के सीने में अचानक तेज दर्द हुआ। उसने बंदीरक्षक हरविलास से कहा कि तुरंत चिकित्सक को सूचना दो। आरोप है कि बंदीरक्षक ने तत्काल चिकित्सक को सूचना नहीं दी। बंदी को गंभीर हालत में पहले जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में तबियत बिगड़ने पर एसएन अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि बंदी की मौत कैसे हुई है। जेल प्रशासन ने हार्टअटैक की आशंका जताई है। जेल प्रशासन ने उसके परिजनों को सूचना भेज दी है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।

बंदीरक्षक पर गंभीर आरोप
भाई के साथ जेल में बंद संजय बंदीरक्षक पर गंभीर आरोप लगाए हैं। सूत्रों के मुताबिक भाई की मौत से परेशान संजय रात में चीखता रहा, लेकिन बंदीरक्षक ने उसकी नहीं सुनी। अन्य बंदियों ने भी हल्ला मचाया, तब जाकर बंदीरक्षक आया। संजय का आरोप है कि वह चीखता रहा, फिर भी बंदीरक्षक ने चिकित्सक को नहीं बुलाया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned