यमुना को बचाने के लिए उत्तराखंड की राज्यपाल से मांगा समर्थन तो मिला ये जवाब

यमुना को बचाने के लिए उत्तराखंड की राज्यपाल से मांगा समर्थन तो मिला ये जवाब
Babyrani maurya, Uttarakhand governor, Allahabad High Court, Allahabad High Court order, River Police, Yamuna, District Magistrate, DM, SSP, Senior Superintendent of Police, Dev Pratima, Pratima Visarjan, Loksar, India Rising, Rajiv Gupta, Rajeev Saxena, Nitin Johari, Dr Manju Gupta, BJP MLA, Agra, Bhartiya Janta Party, Agra South Legislative, Navratri, Allahabad, Agra news, Agra ki news, Latest news, Agra ki news, Allahabad High Court news, River Police news, Yamuna news, Babyrani maurya news, Uttarakhand governor news

Dhirendra yadav | Publish: Jun, 25 2019 08:41:43 AM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

उत्तराखंड की राजपाल बेबीरानी मौर्या से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा।

आगरा। ऐतिहासिक ताजमहल के शहर आगरा में यमुना प्रदूषित हो रही है। त्योहारों पर यमुना में देव प्रतिमाएं विसर्जित की जाती हैं। इससे समस्या और बढ़ जाती है। लोकस्वर के साथ अन्य सामाजिक संस्थाएं आगामी त्योहारों पर मूर्ति स्थापना एवं नदियों में देव प्रतिमा विसर्जन से होने वाले प्रदूषण के खिलाफ अभियान चला रही हैं। इसी संदर्भ में उत्तराखंड की राजपाल बेबीरानी मौर्या से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। लंबी चर्चा भी की। राज्यपाल ने हर तरह के सहयोग का आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें - योगी सरकार ने दिया बेरोजगारों को बड़ा तोहफा, 30 जून तक करें आवेदन, यूपी सरकार देगी 10 से 25 लाख रुपये

विभागों को लिखेंगी
राज्यपाल ने संस्थाओं द्वारा किया जा रहे प्रयास की सराहना की। साथ ही प्रदूषण व पर्यावरण को लेकर चिंता व्यक्त की। इसे सुधारने के लिए प्रतिबद्धता जताई। राज्यपाल ने पर्यावरण एवं नदियों के अस्तित्व से हो रहे खिलवाड़ को लेकर चिंता भी जाहिर की। उन्होंने गंगा, यमुना के उद्गम राज्य उत्तराखंड में इन मुद्दों के प्रति काफी गंभीरता से कार्य करने की बात कही साथ ही अपने निर्णय के साथ ही सम्बंधित विभागों को निर्देशित भी करने का आश्वासन दिया। उन्होंने जनता से भी पौधारोपण, पर्यावरण एवं नदियों के संरक्षण के लिए जागरूक रहने को भी कहा। बेबीरानी मौर्य ने अश्वासन दिया कि वे संस्था के कार्य के संबंध में प्रशासन और शासन को लिखेंगी।

ये भी पढ़ें - 25 जून 1975 को इमरजेंसी लगते ही पूरा देश बन गया था जेलखाना

Babyrani maurya,  <a href=Uttarakhand governor , allahabad High Court, Allahabad High Court order, River Police , Yamuna , District Magistrate , DM , SSP , Senior Superintendent of Police , Dev Pratima, Pratima Visarjan , Loksar, india rising , rajiv gupta , Rajeev Saxena , Nitin Johari , Dr Manju Gupta, bjp mla , Agra , Bhartiya janta party , Agra South Legislative, Navratri , Allahabad, agra news , agra ki news , latest news , Agra ki news, allahabad high court news , River Police news, Yamuna news , Babyrani Maurya news, Uttarakhand governor news" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/06/25/a2_4752231-m.jpg">

इन्होंने की मुलाकात
लोकस्वर संस्था के अध्यक्ष राजीव गुप्ता के नेतृत्व में इंडिया राइजिंग के अध्यक्ष संदीप अग्रवाल, नितिन जौहरी, वरिष्ठ पत्रकार राजीव सक्सेना व पार्षद अमित अग्रवाल "ग्वाला" आदि ने देवप्रतिमा विसर्जन पर राज्यपाल से मुलाकात की थी। उनसे मांग की कि पीओपी की प्रतिमाओं पर रोक लगे। उच्च न्यायालय ने भी इस बारे में आदेश दिया है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यमुना की सुरक्षा के लिए रिवर पुलिस का गठन किया है। इसका भी कुछ अतापता नहीं है।

ये भी पढ़ें - नयन उत्सव में भक्तों को दर्शन देंगे भगवान श्री जगन्नाथ, रथयात्रा महोत्सव की तारीख तय

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned