Ahmedabad News स्पर्धा में टिके रहने को शोध में करें निवेश : गोपालकृष्णन

IIT Gandhinagar, Kris Gopalakrishnan, Connections 2019, Startup, Industry, Development, Sudheer jain कनेक्शन-२०१९ में विभिन्न क्षेत्र के ५० से ज्यादा उद्योग के लोगों ने की शिरकत

 

By: nagendra singh rathore

Published: 09 Nov 2019, 10:17 PM IST

अहमदाबाद. इन्फोसिस के सह संस्थापक एवं IIT Gandhinagar आईआईटी गांधीनगर रिसर्च पार्क सलाहकार समिति एवं इनोवेशन एंड एन्टरप्रिन्योरशिप सेंटर (आईआईईसी) के अध्यक्ष Dr. Kris Gopalakrishnan डॉ. क्रिस गोपालकृष्णन ने कहा कि हम तेजी से और कभी अचानक होने वाले परिवर्तन के दौर में जी रहे हैं। इसमें टिके रहने के लिए उद्योगों को क्षमताओं को बढ़ाना चाहिए और शोध के क्षेत्र में निवेश करना चाहिए। लगातार नवीनीकरण हर व्यापार, उद्यम एवं कंपनी के डीएनए का भाग हो यह जरूरी है।
वे शनिवार को आईआईटी गांधीनगर में आयोजित अकादमिक-इंडस्ट्री कॉन्क्लेव Connections 2019 कनेक्शन-२०१९ को संबोधित कर रहे थे। इसमें ऑटो, कैमिकल, कंस्ट्रक्शन, आईटी एवं डाटा साइंस, मटीरियल्स, फार्मा, इंजीनियरिंग सहित ५० विभिन्न क्षेत्र के उद्योग से जुड़े लोगों ने शिरकत की।
गोपालकृष्णन ने उद्यमियों को उनके उद्योग को विकसित करने के लिए सुझाव देते हुए कहा कि वे इसके लिए शैक्षणिक संस्थानों और स्टार्टअप कंपनियों के साथ जुड़ाव करें, क्योंकि शैक्षणिक संस्थानों में नए विचारों वाले युवा आते हैं जो पूर्वाग्रह से ग्रसित नहीं होते बल्कि नए तरीके से सोचते हैं। इसी प्रकार स्टार्टअप भी नए तरह से काम करते हैं। गोपालकृष्णन ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्धि में आने वाले समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, थ्री डी प्रिटिंग, बायोलॉजी, जिनोमिक्स का अहम योगदान होगा।
आईआईटी गांधीनगर का रिसर्च पार्क उद्योगों के लिए शैक्षणिक एवं रिसर्च संस्था के साथ मिलकर करने के लिए बेहतर मैकेनिज्म एवं स्टार्टअप के लिए बेहतर इकोसिस्टम प्रदान करता है।
आईआईटी गांधीनगर के निदेशक Professor Sudheer jain प्रो.सुधीर जैन ने कहा कि आईआईटी गांधीनगर पहले विद्यार्थी, प्रभाव के लिए शोध और सामाजिक जिम्मेदारी के भाव वाले तीन विचारों पर केन्द्रित होकर आगे बढ़ रहा है।
कार्यक्रम को उद्यमियों, आईआईटी के प्राध्यापक व विद्यार्थियों के बीच लंबे समय के संबंध बनाने का प्लेटफॉर्म बनाया गया। इस दौरान कई प्रोजेक्ट प्रदर्शित किए गए। विद्यार्थियोंने संस्थान की लैब, प्रयोगशाला एवं परिसर का दौरा किया।

Ahmedabad News स्पर्धा में टिके रहने को शोध में करें निवेश : गोपालकृष्णन
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned