ट्रेन से बिहार रवाना हुए 1105 श्रमिक व जायरीन

स्क्रीनिंग और अन्य मेडिकल जांच के बाद किया रवाना
रास्ते के लिए दिए फू ड पैकेट और पानी की बोतल

By: bhupendra singh

Published: 10 May 2020, 09:08 PM IST

अजमेर. लॉकडाउन lock down में फं से अन्य राज्यों के लोगों को घर पहुंचाने के लिए किए जा रहे लगातार प्रयासों के तहत रविवार को अजमेर से बिहार Bihar राज्य के 1105 श्रमिकों laborers व जायरीन को विशेष ट्रेन train से रवाना किया गया। अजमेर के साथ ही पाली pali , नागौर nagur,जयपुर jaipur व सिरोही जिलों में फंसे श्रमिकों को इस ट्रेन से भेजा गया है। रवानगी से पूर्व सभी की सघन स्वास्थ्य जांच कर उन्हें भोजन के पैकेट व पानी की बोतल दी गई। जिले के प्रभारी सचिव भवानी सिंह देथा, जिला कलक्टर विश्व मोहन शर्मा, पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप सहित जिला प्रशासन की टीम बिहार से मंजूरी मिलने के साथ ही रेलवे के साथ समन्वय कर इन श्रमिकों व जायरीन को भेजने के लिए तैयारियां शुरू कर दी थी। रेलवे द्वारा रविवार शाम 4 बजे ट्रेन चलाने की मंजूरी देने के साथ ही राज्य के विभिन्न जिलों में रह रहे श्रमिकों व अजमेर में फ ंसे जायरीन को सूचना दी गई।

संवाद बनाए रखा

अजमेर जिला प्रशासन की टीमों ने लगातार श्रमिकों व जायरीन से सम्पर्क व संवाद बनाए रखा। इनके खाने पीने व चिकित्सा सहित अन्य सुविधाओं का ख्याल रखा गया। जैसे ही इन लोगों को घर रवानगी की सूचना दी गई सभी ने प्रशासन का धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बावजूद प्रशासन की ओर से उनकी हरसंभव मदद की गई।

स्टेशन पर प्रभारी सचिव भवानी सिंह देथा,जिला कलक्टर विश्व मोहन शर्मा तथा पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप, नगर निगम आयुक्त चिन्मयी गोपाल,एडीए आयुक्त गौरव अग्रवाल, जिला परिषद के सीईओ गजेन्द्र सिंह राठौड़, एडीए सचिव किशोर कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र सिंह भाटी सहित रेलवे एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों ने ट्रेन के यात्रियों को विदाई दी। सभी ने ताली बजाकर उनका उत्साहवद्र्धन किया और हाथ हिलाकर घर के लिए रवाना किया।

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned