लापरवाह अफसरों के खिलाफ कार्रवाई शुरु ,8 को नोटिस जारी

राजस्थान सम्पर्क पोर्टल के मामले में जिला प्रशासन हुआ सख्त

अब तक 13 को जारी हो चुके हैं नोटिस

By: bhupendra singh

Published: 22 Jul 2021, 08:51 PM IST

अजमेर. सरकार से गुहार लगाने के बाद भी आमजनता की नहीं सुन रहे विभिन्न विभागों के अफसरों के खिलाफ जिला प्रशासन ने सख्त रुख अपनाया है। ऐसे 8 लापरवाह अफसरों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए जिला प्रशासन ने इन्हें नोटिस जारी कर दिए। प्रशासन ने राजस्थान सम्पर्क पार्टल के मामलों के निस्तारण नहीं करने को राजकाज में लापरवाही तथा उदासीनता माना है। चिन्हित अफसरों को विभागीय कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई है। ये अफसरो महीनों तक आमजनता की शिकायतों की सुनवाई नहीं कर रहे हैं। अब तक 13 अधिकारियों को नोटिस जारी किए जा चुके है।

इन्हें जारी हुए नोटिस

पीडब्ल्यूडी के नगर खंड एक्सईएन मनोज कुमार जैन, केकड़ी खंड के एक्सईएन केदार शर्मा, एनएचआई के एक्सएन दीन मोहम्मद,जलदाय विभाग के एक्सईएन गोपाल शर्मा, एईएन सुदर्शन दयाल, एइएन भुवन लादिया तथा बीडीओ मसूदा तथा बीडीओ पंचायत समिति अजमेर ग्रामीण को नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब तलब किया गया है।

इन्हें पूर्व में दिए गए नोटिस

इनसे पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चंद्र शर्मा ने नगर निगम के राजस्व अधिकारी प्रकाश डूडी, जलदाय विभाग एईएन अक्षय गुप्ता, जे. सिंह, श्रीनगर बीडीओ मधुसूदन रत्नू, आयुक्त नगर परिषद ब्यावर को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया था।

रैंकि में सुधार जारी

जिला प्रशासन की सख्ती के कारण अजमेर राजस्थान सम्पर्क पोर्टल की शिकायतों के निस्तारण में अपनी रैंकिग में सुधार कर रहे हैं। अजमेर जिला 24 से 21 वें नम्बर पर आ गया है। जिला स्तर पर इसकी लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है। विभागों के अधिकारी भी शिकायतों के निपटारे में जुटे हुए हैं। परिवादियों से फोन के जरिए सम्पर्क साधा जा रहा है।

नरेगा

परिवादी ने 19 जून को नरेगा में मनमर्जी से मेट लगाने तथा नरेगा भुगतान को लेकर दो शिकायतें दर्ज करवाई लेकिन विकास अधिकारी पंचायत समिति अजमेर ग्रामीण ने ध्यान नहीं दिया। अन्य मामले में परिवादी ने 17 जून को सम्पर्क पोर्टल पर नरेगा भुगतान को लेकर दो शिकायत दर्ज करवाई लेकिन विकास अधिकारी पंचायत समिति मसूदा ने इन पर ध्यान नहीं दिया।

जलदाय विभाग

परिवादी ने 12 जून को पानी सप्लाई सुचारू नहीं होने की शिकायत दर्ज करवाई,16 जून को पुन: शिकायत दर्ज करवाई लेकिन जलदाय विभाग नगर उपखंड द्वितीय के अधिशाषी अभियंता ने कार्रवाई नही ंकी। परिवादी ने 28 जून को पानी सप्लाई सुचारू नहीं होने, 22 मई को पानी की पाइप लाइन नहीं होने से सम्बन्धित परिवाद पर जलदाय विभाग के सहायक अभियंता उपखंड पंचम ने कार्रवाई नहीं की। सम्पर्क पोर्टल पर 16 जून को अवैध कनेक्शन की शिकायत तथा अवैध कनेक्शन काटने की शिकायत पर सहायक अभियंता उपखंड सरवाड़ ने कोई कार्रवाई नहीं की।

पीडब्ल्यूडी

12 जून को परिवादी ने बिजयनगर को जाने वाली रोड खराब होने तथा दुर्घटना से सम्बन्धित शिकायत दर्ज करवाई। वहीं 27 मई को दो माह पूर्व बनी रोड को जेसीबी के जरिए नुकसान पहुंचाने की शिकायत पर पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन नगर खंड ने कोई कार्रवाई नहीं की। 15 अप्रेल को सम्पर्क पोर्टल पर सड़कों की मरम्मत से दर्ज शिकायत तथा 5 अप्रेल को नई सड़क पर डली मिट्टी को हटावाने को लेकर दर्ज शिकायत के मामले में पीडब्ल्यूडी के केकड़ी खंड के एक्सईएन ने कोई कार्रवाई नहीं की।

एनएचआई

16 अप्रेल को टोल बूथ पर अधिक राशि काटे जाने, 25 मार्च को नेशनल हाईवे संख्या 8 पर नसीराबाद पुलिया के पास अतिक्रमण हटाने तथा 4 मार्च को भीलवाड़ा रोड पर जबरदस्ती अतिक्रमण को लेकर शिकायत दर्ज हुई लेकिन एनएचआई के एक्सईएन ने कोई कार्रवाई नहीं की।

read more: बारिश की बेरुखी से 11 जिलों में 11 फीसदी बढ़ी बिजली की मांग

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned