पट्टा जारी करने में अजमेर राज्य में पहले पायेदान पर

जिले में 1287 आवेदन, 1139 आवेदकों को पट्टे जारी

823 पट्टे शिविर में तो 303 शिविर के बाद जारी किए

प्रशासन गावों के संग अभियान

By: bhupendra singh

Published: 14 Oct 2021, 06:24 PM IST

भूपेन्द्र सिंह

अजमेर. प्रशासन गावों के संग अभियान के तहत पट्टा जारी करने में अजमेर जिला राज्य में पहले पायदान पर चल रहा है। जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित व जिला परिषद सीईओ डॉ.गौरव सैनी की प्रभावी मॉनीटरिंग के चलते उपखंड व ग्राम पंचायतवार शिविर लगाए जा रहे हैं। इस दौरान हाथोंहाथ ही शिकायतों का समाधान तथा प्रार्थना पत्रों का निस्तारण किया जा रहा है। जिले में 10 अक्टूबर से अब तक आयोजित प्रशासन गावों के संग के शिविरों में जिले में 1287 आवेदन पट्टे जारी करने को लेकर किए गए। इनमें 1139 आवेदकों को पट्टे जारी किए गए। इनमें 823 पट्टे शिविर में तथा 303 पट्टे शिविर के बाद जारी हुए। बीपीएल परिवारों को 13 पट्टे नि:शुल्क जारी किए गए। वहीं 141 आवेदनों को नियमानुसार नहीं पाए जाने पर खारिज भी किया गया है।

भरतपुर दूसरे, टोंक तीसरे नम्बर पर

प्रशासन गावों के संग के शिविरों के तहत पट्टा जारी करने में राज्य में 941 पट्टों के साथ म्बर पर भरतपुर दूसरे तथा 532 पट्टों के साथ टोंक जिला तीसरे नम्बर पर है। नागौर 513 पट्टों के साथ चौथे नम्बर पर है। इनके अलावा अन्य कोई जिला ऐसा नही है जिसने 500 पट्टे जारी किए हों। वहीं पट्टा जारी करने में हनुमानगढ़ सबसे निचले पायदान पर है। अलवर,धौलपुर, प्रतापगढ़ तथा उदयपुर में उप चुनाव की आचार संहिता होने के कारण इन जिलों में प्रशासन गावों के संग अभियान स्थगित है।

यह है राज्य की स्थिति

प्रशासन गावों के संग अभियान के तहत आयोजित शिविरों में राज्यभर में 11 हजार 884 आवेदन पट्टा जारी करने को प्राप्त हुए हैं। इनमें से 9177 आवेदकों को पट्टे जारी किए गए। 479 बीपीएल परिवारों, गडरिया भेड़पालकों को नि:शुल्क भूमि आवंटन किया गया। 1563 आवेदन खारिज किए। 6919 पट्टे शिविर के दौरान जारी किए गए। 1357 पट्टे शिविर के बाद जारी किए गए।

read more: 676 मामलों में हुआ 7.94 करोड़ का फर्जीवाड़ा,फर्जी चालान से जमा करवाई राशि

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned