बीसलपुर बांध में 36 घंटे में आया 63 सेमी पानी

चित्तौडग़ढ़ और भीलवाड़ा और बीसलपुर बांध के आस-पास कैचमेंट एरिया में लगातार बारिश

By: baljeet singh

Updated: 05 Aug 2021, 09:13 PM IST

चित्तौडग़ढ़ और भीलवाड़ा और बीसलपुर बांध के आस-पास कैचमेंट एरिया में लगातार बारिश से बांध में पानी की आवक लगातार बनी हुई है। बीते 36 घंटे में बांध में 63 सेंटीमीटर पानी की आवक हुई है। बुधवार शाम 6 बजे तक बांध का जलस्तर 309.98 आरएल मीटर हो गया है। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार इस मानसून सत्र के सात दिन में 10.5 टीएमसी पानी आया है। त्रिवेणी नदी अभी साढ़े चार मीटर के स्तर पर बह रही है और 4800 क्यूसेक पानी प्रति सैकंड फ्लो-रेट के हिसाब से बांध में आ रहा है।


सात दिन की बारिश में ही आधे भर गए बांध
प्रदेश में देरी से ही सक्रिय हुए मानसून ने रीते बांधों को सप्ताह भर में ही तर कर दिया है। बीते सात दिन की बारिश से ही प्रदेश के बांध अपनी कुल भराव क्षमता के आधे भर चुके हैं। जबकि बीते साल 4 अगस्त के मुकाबले इस बार बांधों में पानी की आवक 9 प्रतिशत से ज्यादा हो गई है। बुधवार को प्रदेश में ज्यादा या कम भराव क्षमता के 26 बांध पानी की अच्छी आवक होने से लबालब हो गए। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बारिश का दौर भले ही थमा गया है लेकिन अब भी पानी की आवक जारी है।

ज्यादा और कम भराव क्षमता के 272 बांध

जल संसाधन विभाग के अनुसार प्रदेश के ज्यादा और कम भराव क्षमता के 272 बांध हैं। इनकी कुल भराव क्षमता 12626.32 मिलियन क्यूबिक मीटर है। बीते सात दिन में बांधों में 6300 मिलियन क्यूबिक मीटर पानी आवक हुई है और बांधों में पानी आधी भराव क्षमता 6241.59 मिलियन क्यूबिक मीटर तक पहुंच गया है। जबकि बीते 20 जून को प्रदेश के बांधों में कुल भराव क्षमता के 4318.25 मिलिय क्यूबिक मीटर पानी था कुल भराव क्षमता का 34.20 प्रतिशत था। 4 अगस्त को प्रदेश के बांधों में कुल भराव क्षमता के 49.43 प्रतिशत पानी है। बीते 12 घंटे के दौरान प्रदेश के बांधों में 444.18 मिलियन क्यूबिक मीटर पानी की आवक हुई।

एक दिन में ही लबालब हुए 26 बांध
झमाझम बारिश के बाद बांधों में तेजी से पानी की आवक शुरू हो गई है। 3 अगस्त को प्रदेश के 727 बांधों में से पूर्ण भरे हुए बांध 57 थे। 4 अगस्त को इन पूर्ण भरे बांधों की संख्या 81 हो गई यानी एक दिन में ही 26 बांध लबालब हो गए। 20 जून को जहां प्रदेश में 537 बांध रिक्त थे वहीं अब 4 अगस्त को इनकी संख्या 287 ही रह गई है।

baljeet singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned