scriptGovernment employees showing themselves defying the government | सरकार को ही ठेंगा दिखाते सरकार के ही कर्मचारी | Patrika News

सरकार को ही ठेंगा दिखाते सरकार के ही कर्मचारी

युवाओं ने किया प्रदर्शन

राज्य सरकार की योजनाओं को राज्य सरकार के ही कर्मचारी पलीता लगा रहे हैं। अधिकारी अपने तैनाती स्थल पर न पहुंचकर राज्य सरकार की योजनाओं को पूरा न करके जहां विकास को बाधित कर रहे हैं, आम नागरिकों के साथ भी छलावा कर रहे है।

अजमेर

Published: August 14, 2021 02:13:44 am

राजाखेड़ा. राज्य सरकार की योजनाओं को राज्य सरकार के ही कर्मचारी पलीता लगा रहे हैं। अधिकारी अपने तैनाती स्थल पर न पहुंचकर राज्य सरकार की योजनाओं को पूरा न करके जहां विकास को बाधित कर रहे हैं, आम नागरिकों के साथ भी छलावा कर रहे है। शुक्रवार को इन्हीं आरोपों के साथ मरेना में वन विभाग की नर्सरी में युवाओं ने प्रदर्शन कर यहां तैनात कर्मचारियों को जिला बदर करने की मांग की।
सरकार को ही ठेंगा दिखाते सरकार के ही कर्मचारी
सरकार को ही ठेंगा दिखाते सरकार के ही कर्मचारी
क्या था प्रकरण मरेना क्षेत्र के बिचपुरी, इन्द्राबली, फरासपुरा, मरैना इत्यादि गांव से हजारों युवा सेना भर्ती की तैयारी कर रहे हैं, जो दिनभर पसीना बहाते हैं। इनमे से दर्जनों युवा मानसून के मौसम में सड़कों के किनारे पौधारोपण करने पौधरोपण करना चाहते हैं। जिससे सेना भर्ती की तैयारी के साथ इनका पालन पोषन भी किया जा सके। इसके लिए नए पौधे लेने के लिए वे दोपहर को वन विभाग मरैना की नर्सरी पहुंचे।
इन्द्राबली मार्ग स्थित वन विभाग की नर्सरी पर उन्हें विभाग का एक भी कार्मिक मौजूद नहीं मिला, जो उन्हें पौधे उपलब्ध करा सके। ना ही किसी भी प्रकार की क्यारियां व पौधे दिखे। युवाओं ने पूरे नर्सरी परिसर को भलिभांति से इधर उधर देखा तो उन्हें वहां सिर्फ देसी शराब के पव्वे, नमकीन के रैपर व प्लास्टिक के ग्लास का ढ़ेर सारा कचरा नजर आया। ऐसे हालात देखकर पौधे लेने आए युवाओं में आक्रोश फैल गया।
नर्सरी कार्यालय के भवन के सामने वन विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी व प्रदर्शन किया। उनका आरोप था कि सरकार करोड़ों रुपए खर्च करके सघन पौधरोपण करवाना चाहती है और विभाग के कर्मचारी कागजों में नौकरी करके ही वेतन ले रहे हैं।
राजाखेड़ा नर्सरी में भी यही हाल
वहीं राजाखेड़ा उपखण्ड मुख्यालय पर स्थापित नर्सरी में भी यही हालत है। व्यापारी नेता लक्ष्मीकांत गुप्ता ने इस सम्बंध में एक ज्ञापन विभाग के सीसीएफ सी आर मीणा को भेजकर स्थानीय कर्मचारियों पर लापरवाही और घरों से नौकरी करने का आरोप लगा कर कार्यवाही की मांग उठाई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश

बड़ी खबरें

RRB-NTPC Results: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले रेल मंत्री, रेलवे आपकी संपत्ति है, इसको संभालकर रखेंRepublic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवानहीं चाहिए अवार्ड! इन्होंने ठुकरा दिया पद्म सम्मान, जानिए क्या है वजहजिनका नाम सुनते ही थर-थर कांपते थे आतंकी, जानें कौन थे शहीद ASI बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रRepublic Day 2022: 'अमृत महोत्सव' के आलोक में सशक्त बने भारतीय गणतंत्रUP Election 2022: यूपी में सात चरणों में कब-कब और कहाँ-कहाँ होने हैं चुनाव, देखिये पूरी लिस्टकोरोना ने राजस्थान में 21 लोगों की जान ली, 13 हजार नए रोगी मिलेUP Election 2022: यूपी में 3 मार्च को है छठवें चरण का चुनाव, 10 जिलों की 58 सीटों पर होगा मतदान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.