रसोई के जायके से दूर हो रहा प्याज ...........

प्रतिदिन रसोई में उपयोग आने वाले प्याज के भावों में बेहताशा वृद्वि से प्याज रसोई से दूर होता जा रहा है।

Preeti Bhatt

December, 0610:00 AM

अजमेर/बिजयनगर. प्रतिदिन रसोई में उपयोग आने वाले प्याज के भावों में बेहताशा वृद्वि से प्याज रसोई से दूर होता जा रहा है। कस्बे में बुधवार को प्याज के भाव सौ रूपए प्रति किलो से भी अधिक होने के कारण प्याज की ब्रिकी प्रभावित हो रही है। जानकारी अनुसार विगत कुछ समय से प्याज के भावों में निरन्तर वृद्वि होती जा रही हे। निरन्तर भावों में तेजी के चलते बुधवार को कस्बे में प्याज सौ रूपए प्रति किलों के भाव से खरीद फरोक्त हुआ।

Read More: Cole weather: जाते साल में कड़ाके की ठंडक, कंपकंपाया सर्द हवा ने

प्याज के रिटेल विक्रेता विनोद माली ने बाजार में प्याज के भाव से सौ रूपए प्रति किलो पार होने के बाद बाजार में प्याज की ब्रिकी पर बुरा असर पड़ रहा हे। बिजयनगर कस्बे में प्रतिदिन रिटेल में पन्द्रह से बीस क्विटल तक प्याज की ब्रिकी होती थी जो भावों में वृद्वि होने के बाद घटकर मात्र 15 से बीस फीसदी प्याज की ब्रिकी रह गई है।

Read More: Notice: ड्यूटी से नदारद रहना पड़ा भारी- दो कर्मचारियों को नोटिस

कस्बे में प्रतिदिन 50 से भी अधिक छोटे व्यापारी प्याज लहसुन आलू आदि बेचकर दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करते है लेकिन इन छोटे व्यापारियों के चार पहिया थैलो पर प्याज को व्यापार प्रभावित होने पर उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। इसके अतिरिक्त कई प्याज विक्रेताओं ने प्याज की कमजोर ग्राहकी के चलते प्याज को छोडकर अन्य खाद्य सामग्री का व्यापार करना शुरू कर दिया हे।

Read More: पुष्कर में अब विदेशी पर्यटक कर रहे निश्चेतक का नशे में इस्तेमाल!

Preeti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned