scriptNo one is ready to speak, CCTV cameras exposed | कोई बोलने को तैयार नहीं, सीसीटीवी कैमरों ने खोली पोल | Patrika News

कोई बोलने को तैयार नहीं, सीसीटीवी कैमरों ने खोली पोल

-बसेड़ी में पंचायत भवन व विकास अधिकारी के आवास पर तोडफ़ोड़ का मामला, एसपी - कलक्टर पहुंचे

कस्बे के पंचायत भवन हंगमा और क्षेत्रीय विकास अधिकारी के सरकारी आवास में तोडफ़ोड़ व र्दुव्यवहार के मामले शुक्रवार को जिला पुलिस अधीक्षक व जिला कलक्टर ने बसेड़ी पहुंचे। इस दौरान दोनों अधिकारियों ने कार्मिकों से घटनाक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी जुटाई।

अजमेर

Published: August 14, 2021 12:57:00 am

बसेड़ी. कस्बे के पंचायत भवन हंगमा और क्षेत्रीय विकास अधिकारी के सरकारी आवास में तोडफ़ोड़ व र्दुव्यवहार के मामले शुक्रवार को जिला पुलिस अधीक्षक व जिला कलक्टर ने बसेड़ी पहुंचे। इस दौरान दोनों अधिकारियों ने कार्मिकों से घटनाक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी जुटाई। विकास अधिकारी के आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरे के जरिए घटनाक्रम के बारे में जानकारी जुटाते हुए आरोपियों को चिन्हित किया गया। वहीं, मामले में शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार आठ आरोपियों को शुक्रवार को एससीएसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया गया।
कोई बोलने को तैयार नहीं, सीसीटीवी कैमरों ने खोली पोल
कोई बोलने को तैयार नहीं, सीसीटीवी कैमरों ने खोली पोल
उल्लेखनीय है कि बसेड़ी क्षेत्र में संचालित होने वाली फर्जी पशुहाट को लेकर इसके संचालक गांव सलेमपुर निवासी ब्रजराज सिंह ने सोश्यल मीडिया के जरिए हाट फिर शुरू होने की बात कहते हुए यहां पशुपालकों को आने के लिए अपील की थी। सूचना मिलने स्थानीय पुलिस पहुंचने पर हाट संचालक व उसके समर्थकों ने इस बात का विरोध किया। इसी क्रम में हाट संचालक अपने समर्थकों के साथ जूलुस निकालते हुए पंचायत भवन पर पहुंच गए और यहां जमकर हंगामा किया। विकास अधिकारी के वहां नहीं होने पर संचालक समर्थकों के साथ उनके सरकारी आवास पर पहुंच गया। यहां दरवाजे को तोड़ दिया और घर पर जमकर हंगामा करते हुए विकास अधिकारी के पत्नी व बच्चों से र्दुव्यवहार किया। घटना के सीसीटीवी कैमरे में फुटेज भी है। इस संबंध में विकास अधिकारी ने थाना पुलिस को शिकायत दी है।
एसपी व डीएम पहुंचे बसेड़ी, कार्मिकों ने साधी चुप्पी

घटनाक्रम के संबंध में जानकारी जुटाने के लिए शुक्रवार को जिला पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत व जिला कलक्टर राकेश कुमार जायसवाल बसेड़ी पहुंचे। यहां दोनों अधिकारियों ने घटनाक्रम के बारे में पंचायत समिति कार्यालय के कार्मिकों से घटनाक्रम के बारे में जानकारी जुटाई, लेकिन कोई भी कार्मिक आरोपियों के संबंध में बोलने का तैयार नहीं हुआ। इसके बाद दोनों अधिकारी विकास अधिकारी के घर पहुंचे और यहां उसकी पत्नी व बच्चों से घटनाक्रम के बारे में जानकारी जुटाई। दोनों अधिकारियों ने विकास अधिकारी के घर पर लगे सीसीटीवी फुटेज देखते हुए आरोपियों के बारे में जानकारी जुटाई। दोनों अधिकारियों ने घटनाक्रम से जुड़े सभी आरोपियों को चिन्हित करने के निर्देश दिए गए। आरोपियों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया जाएगा।
मामले में आठ आरोपी गिरफ्तार

घटनाक्रम में संबंध में विकास अधिकारी ने थाना पुलिस को लिखित शिकायत दी है। इसमें घटनाक्रम के दौरान गांव सलेमपुर निवासी ब्रजराज सिंह व उसके पुत्र दीपक परमार, विवेक परमार, शिवचरण परमार निवासी रामफल का पुरा,रॉकी निवासी गांव नवलूपुरा, यश निवासी तुरसीपुरा, जगदीश निवासी हरजीपुरा, संदीप निवासी रामफल का पुर व अवधेश कुमार आदि की पहचान की है। पुलिस ने इसमें आठ आरोपियों को गुरूवार को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था, जिन्हें शुक्रवार को एससीएसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.