गुड़, चना दाल के बाद अब जीरे में तेजी

एक्सपोर्ट बढऩे से जीरे में तेजी
2.10 लाख टन का निर्यात

By: Amit

Published: 24 Aug 2020, 11:30 PM IST

जयपुर/अजमेर. एक्सपोर्ट बढऩे की खबरें आने से जीरा में तेजी आ रही है। स्पाइस बोर्ड ऑफ इंडिया द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2019-20 के दौरान देश से 2.10 लाख टन जीरे का निर्यात हुआ है, जो कि पिछले साल की तुलना में करीब 50 हजार टन अधिक है। गुजरात के कारोबारी अश्विन नायक ने बताया कि बिजाई से पहले जीरे में तेजी के संकेत हैं। हालांकि जयपुर मंडी में वर्तमान में जीरे के भाव पिछले एक माह से लगभग स्थिर बने हुए हैं। होलसेल में मशीनक्लीन मीडियम जीरा 140 रुपए तथा बेस्ट मशीनक्लीन जीरा 164 रुपए प्रति किलो बेचा जा रहा है। कोरोना को देखते हुए जीरे की उपभोक्ता मांग भी बढ़ी है। जानकारों का कहना है कि सितंबर के पहले सप्ताह में जीरे की खपत बढऩे के बाद इसमें 200 से 300 रुपए प्रति क्विंटल की तेजी बन सकती है। उधर ऊंझा मंडी में जीरे की दैनिक आवक बारिश के दिनों को छोड़कर 12 हजार बोरी बताई जा रही है। गौरतलब है कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा जीरा उत्पादक एवं निर्यातक देश है।

कोल्ड स्टोर्स में गुड़ का स्टॉक कम, 200 रुपए की तेजी

Mandi Update: 400 रुपए क्विंटल उछला चना

Show More
Amit Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned