search operation : दरगाह इलाके में हजारों मृत बिच्छू और दवाएं जब्त

दुकान पर कामकाज करने वाले व्यक्ति से बक्सा खुलवाया। इसमें भी कुछ मृत बिच्छू मिले। टीम में वन विभाग के जयसिंह, ओमप्रकाश, विशाल, सत्यनारायण और अन्य कार्मिक शामिल थे।

By: raktim tiwari

Published: 09 Aug 2019, 06:33 AM IST

अजमेर

शहर में वन्य जीव-जंतुओं का बेरोकटोक खरीद-फरोख्त क्रय-विक्रय जारी है। वन विभाग और दरगाह थाना की टीम ने आमबाव इलाके में एक दुकान और घर पर छापा मारा। दल ने दो जिंदा सहित हजारों मृत बिच्छू (scorpion) और इससे निर्मित तेल-दवाएं (medicine)बरामद की। दल ने दुकान पर कामकाज करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। उसे अदालत में पेश किया जाएगा।

दरगाह के आमबाव इलाके में बिच्छू बाबा की जड़ी-बूटियों, नगीनों और जीव-जंतुओं की दवा बेचने की दुकान है। वह लम्बे समय से मृत बिच्छुओं की दवा बनाकर बेचने का काम रहा है। जीव-जंतुओं के अवैध क्रय-विक्रय (sale) की सूचना मिलने पर उप वन संरक्षक सुदीप कौर ने संयुक्त दल का गठन किया।

read more: Triple divorce bill : महिलाओं को नहीं मिल रहा लाभ

मिले हजारों मृत बिच्छू
रेंजर मोहनलाल सामरिया और सुधीर माथुर के नेतृत्व में वन विभाग की टीम को बिच्छू बाबा के घर हजारों की तादाद में मरे हुए बिच्छू और इनके तेल से निर्मित दवाएं मिली। इस दौरान दो जिंदा बिच्छू भी बरामद किए गए। विभागीय टीम ने घर के चप्पे-चप्पे की तलाशी (search operation) ली। बिस्तर, बर्तन और अन्य सामान को खोलकर जांचा गया। इस दौरान एक लोहे के बक्सा (boe) भी नजर आया। दुकान पर कामकाज करने वाले व्यक्ति से बक्सा खुलवाया। इसमें भी कुछ मृत बिच्छू (dead scorpoin)मिले। टीम में वन विभाग के जयसिंह, ओमप्रकाश, विशाल, सत्यनारायण और अन्य कार्मिक शामिल थे।

read more: Crime in ajmer: पहले बनाई अश्लील वीडियो फिर किया बलात्कार का प्रयास

बंगाल गया है बाबा...
तलाशी के दौरान दुकानदार बिच्छू बाबा नहीं मिला। पूछताछ में दुकान पर कामकाज करने वाले नौकर ने उसके पश्चिम बंगाल (west bengal) में होना बताया। टीम ने तत्काल नौकर को वन्य जीव अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया। उसे अदालत में पेश किया जाएगा।

इलाके में संचालित है अवैध कारोबार
दरगाह को जोडऩे वाली तारागढ़ संपर्क सडक़, जालियान कब्रिस्तान और आमाबाव इलाके में मादक पदार्थों, जड़ी-बूटियों और शराब का अवैध कारोबार (illegal business) जारी है। पश्चिम बंगाल और अन्य राज्यों के लोगों ने आसपास के पहाड़ी क्षेत्र में कब्जे कर झौंपडिय़ां-मकान बना लिए हैं। इसके अलावा शहरी इलाके में जयपुर रोड, कायड़, रामगंज और अन्य इलाकों में टेंट लगाकर विभिन्न जड़ी-बूटियां और देशी दवाएं बेची जा रही हैं।

read more: student union election : 27 को होंगे छात्रसंघ चुनाव, मतगणना 28 को

दरगाह इलाके में एक घर-दुकान से दो जिंदा और हजारों मृत बिच्छू और उनसे निर्मित दवाएं मिली हैं। वन्य जीव अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। इसे अदालत में पेश किया जाएगा।
सुदीप कौर, उप वन संरक्षक वन विभाग

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned