श्रावण मास : इस बार 29 दिन का ही रहेगा महीना

सात वर्ष बाद पांच रविवार का संयोग, भक्तों पर बरसेगी भोलेनाथ की कृपा

By: baljeet singh

Published: 23 Jul 2021, 12:09 AM IST

उत्तराषाढ़ा नक्षत्र व प्रीति योग में श्रावण मास की शुरुआत 25 जुलाई से होगी। रविवार से शुरुआत के साथ ही श्रावण का समापन भी रविवार 22 अगस्त को ही होगा। इस दौरान चार सोमवार के साथ ही हरियाली तीज सहित कई त्योहार व पर्व भी आएंगे। वहीं, सात वर्ष बाद पांच रविवार का भी संयोग रहेगा। हालांकि, कोरोना के चलते इस बार भी जलाभिषेक सहित अन्य अनुष्ठानों तथा कावड़ यात्राओं पर रोक रहेगी। ज्योतिषविदों के अनुसार श्रावण के पहले सोमवार को धनिष्ठा नक्षत्र और सौभाग्य योग रहेगा। वहीं, कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा व शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि के क्षय के साथ ही कृष्ण पक्ष में अष्टमी तिथि की वृद्धि के चलते यह महीना 29 दिनों का रहेगा। इस वर्ष महामृत्युंजय साधना सभी राशि के जातकों के लिए फलदायी रहने के साथ ही रोगों से लडऩे में कारगर रहेगा। कोरोना के चलते इस बार प्रमुख बड़े शिव मंदिरों में सीमित संख्या में भोलेनाथ के दर्शनों की व्यवस्था रहेगी। वहीं, समूचे माह मानसून भी प्रदेश में मेहरबान रहेगा।

यह रहेंगे त्योहार

27 जुलाई : संकष्ट चतुर्थी व्रत

28 : मरुस्थली नाग पंचमी
4 अगस्त : कामदा एकादशी

5 अगस्त : प्रदोष व्रत
6 अगस्त : मासिक शिवरात्रि

8 अगस्त : हरियाली अमावस्या
11 अगस्त : हरियाली तीज

15 अगस्त : स्वतंत्रता दिवस, तुलसी जयंती
18 अगस्त : पवित्रा एकादशी

20 अगस्त : प्रदोष व्रत
22 अगस्त : रक्षाबंधन

baljeet singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned