कोरोना के चलते इलाहाबाद युनिवर्सिटी के बाद ट्र्रिपल आईटी भी 18 अप्रैल तक बंद, हॉस्टल खाली करने को कहा गया

तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू के बाद इलाहाबाद युनिवर्सिटी और उससे संबंधित सभी काॅलेज 21 अप्रैल तक बंद (Allahabad University Close till 21 April) कर दिये गए हैं। सभी परीक्षाएं भी टाल दी गई हैं। इसके साथ ही ट्रिपल आईटी प्रयागराज भी 18 अप्रैल तक बंद (IIIT Allahabad Close till 18 April) कर दिया गया है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

प्रयागराज. कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते पाबंदियां एक बार फिर से लौट आई हैं। प्रयागराज में शुक्रवार को एक दिन में रिकाॅर्ड ज्यादा 1419 मरीज मिले। मरीजों की तेजी से बढ़ती तादाद को देखते हुए प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाया जा चुका है। अब इस कड़ी में इलाहाबाद युनिवर्सिटी को भी 21 अप्रैल (Allahabad University Close till 21 April) तक बंद कर दिया गया है। जबकि ट्रिपल आईटी को भी एहतियातन 18 अप्रैल तक बंद (IIIT Allahabad Close till 18 April) किया गया है। युनिवर्सिटी के साथ ही उससे संबंधित काॅलेज भ 21 तक बंद रहेंगे। कोरोना संकट के चलते 10 अप्रैल से होने वाली इलाहाबाद युनिवर्सिटी की विषय परीक्षाओं समेत सभी परीक्षाएं टाल (Allahabad University Exam Postponed due to Corona) दी गई हैं।

 

इसे भी पढ़ें- कोरोना के चलते इलाहाबाद विश्वविद्यालय 21 अप्रैल तक बंद
दोनों युनिवर्सिटियों छात्र-छात्राओं को हाॅस्टल खाली कर घर चले जाने को कह दिया गया है। इलाहाबाद युनिवर्सिटी के सभी स्टाफ को वैक्सीन लगगवाकर वैक्सीनेशन की सर्टिफिकेट रजिस्ट्रार को ईमेल करने का निर्देश दिया गया है। पीआरओ डाॅ. जया कपूर के मुताबिक बैठक में कोरोना को देखते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गए। युनवर्सिटी और कॉलेज 21 अप्रैल तक बंद करने के साथ ही ऑनलाइन मोड में चल रही सभी परीक्षाएं भी टाल दी गई हैं। इसके अलावा 12 अप्रैल को कला संकाय की फैकल्टी बोर्ड की बैठक भी टाल दी गई है। युनिवर्सिटी खुलने के बाद इन सबके लिये नई तिथियां जारी की जाएंगी। परीक्षा तिथियों की जानकारी छात्रों को युनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट के जरिये दी जाएगी। हालांकि इस दौरान टीचर्स घर से ऑनलाइन क्लास (Online Class) लेते रहेंगे। ट्रिपल आईटी में भी शिक्षण और प्रशासनिक कार्य ऑनलाइन मोड में चलते रहेंगे।


इलाहाबाद विश्वविद्यालय में बीते दिनों शिक्षक समेत 40 लोग कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। दूसरी तरफ शहर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले को देखते हुए युनिवर्सिटी प्रशासन ने बैठक कर ये निर्णय लिया। कुलपति प्रो. संगीता श्रीवास्तव ने सभी से महामारी के दौर में घर पर रहने और सुरक्षति रहने की अपील की है।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned