भाजपा के इस दिग्गज नेता के खिलाफ एमपी एमएलए कोर्ट ने जारी किया गैर जमानती वारंट , बढ़ी मुश्किल

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री है भाजपा नेता

प्रयागराज।उत्तर प्रदेश में भाजपा के दिग्गज नेता पूर्व मंत्री डॉक्टर नरेंद्र सिंह गौर के खिलाफ एमपी एमएलए की विशेष अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी किया है। पूर्व मंत्री पर आठ साल पहले सड़क जाम करने सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में उनके गैरहाजिर होने पर यह वारंट जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें -इलाहाबाद विश्वविद्यालय के दीक्षांत में बेटियों ने मारी बाजी ,जानिए कैसा हुआ 22 सालों बाद समारोह

बता दें कि प्रयागराज के दारागंज थाने के प्रभारी सुरेंद्र सिंह ने दारागंज थाना अंतर्गत 15 मार्च 2011 को मामला दर्ज किया जिसमें भाजपा के कद्दावर नेता नरेंद्र कुमार सिंह गौर उमेश द्विवेदी जॉर्ज टाउन और राजेश पाठक उर्फ लल्लू निवासी दारागंज अपने 50 कार्यकर्ताओं के साथ रात के 11:30 बजे अलोपी बाग के पास शास्त्री ब्रिज पर जाम लगाकर नारेबाजी की ।पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाए रखने को कहा तो उग्र प्रदर्शन करते हुए पुलिस के साथ से अभद्रता की पुलिस के कार्य में बाधा पहुंचाई। पुलिस के दर्ज मामले के अनुसार पुलिस के मना करने पर भी भाजपा नेता और उनके समर्थक नहीं माने और घंटों जाम लगाए रखा ।

इसे भी पढ़ें -मैथ में पीएचडी करने वाले निर्भय ने कहा,आईएएस नहीं शिक्षक बनने की तमन्ना,उर्दू की टॉपर अंशारह बानों ने कह दी बड़ी बात

बता दें कि डॉक्टर नरेंद्र कुमार सिंह और उत्तर प्रदेश के पूर्व शिक्षा मंत्री रहे हैं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर नरेंद्र कुमार सिंह गौर प्रयागराज के शहर उत्तरी से दो बार विधायक रहे हैं। नरेंद्र कुमार सिंह गौर भाजपा के कद्दावर नेताओं में गिनती होती है । 2012 के विधानसभा चुनाव में नरेंद्र सिंह गौर का टिकट कट गया और शहर उत्तरी से उदय भान करवरिया को उम्मीदवार बनाया था हालांकि 2012 में शहर उत्तरी की सीट भाजपा के हाथों से निकल गई थी। नरेंद्र सिंह भाजपा के सूबे में बड़े चेहरे माने जाते है ।

प्रसून पांडे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned