scriptडेयरी में घोटाला…कांटे को हैक कर बढ़ा देते थे दूध के टैंकर का वजन; राजस्थान के अलवर का मामला | A chip was installed in the fork in dairy plant of Alwar, Rajasthan | Patrika News
अलवर

डेयरी में घोटाला…कांटे को हैक कर बढ़ा देते थे दूध के टैंकर का वजन; राजस्थान के अलवर का मामला

Alwar News: डेयरी प्लांट में लगे कांटे में चिप लगा उसे हैक कर दूध टैंकर का वजन बढ़ाकर सैकड़ों लीटर दूध की गड़बड़ी की जा रही थी। एक्सपर्ट के अनुसार दूध का टैंकर लाने वालों के द्वारा रिमोट कंट्रोल के माध्यम से प्लांट के कांटे को हैक कर वजन बढ़ाया जा रहा था।

अलवरJun 29, 2024 / 03:46 pm

Suman Saurabh

A chip was installed in the fork in dairy plant of Alwar, Rajasthan

अलवर। सरस डेयरी अलवर में बड़ा घोटाला सामने आया है। डेयरी प्लांट में लगे कांटे में चिप लगा उसे हैक कर दूध टैंकर का वजन बढ़ाकर सैकड़ों लीटर दूध की गड़बड़ी की जा रही थी। डेयरी चेयरमैन विश्राम गुर्जर की शिकायत पर एमडी राकेश कुमार विजय ने एक टैंकर का दोबारा वजन कराया तो उसमें 480 लीटर दूध कम मिला। डेयरी प्रबंधन की ओर से टैंकर मालिक के खिलाफ अरावली विहार थाने में एफआईआर दर्ज कराई जा रही है।

विश्राम गुर्जर ने बताया कि शिकायत मिली थी कि डेयरी प्लांट में लगे कांटे में दूध टैंकर की तुलाई में गड़बड़ी की जा रही है। इस पर डेयरी प्लांट के कांटे पर दूध टैंकरों की तुलाई पर विजिलेंस टीम के माध्यम से विशेष निगरानी रखी गई। बुधवार को बहरोड़ से आए एक दूध का टैंकर का प्लांट के अंदर लगे कांटे पर 9540 किलोग्राम वजन आया। टैंकर को प्लांट के बाहर ले जाकर वजन कराया तो यह 9060 किलोग्राम मिला। टैंकर में 480 लीटर दूध कम पाया गया। यानि कि एक बार में ही डेयरी प्रबंधन को करीब 25 हजार रुपए की चपत लगाई जा रही थी। टैंकर मालिक बहरोड़ निवासी धर्मेन्द्र यादव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जा रही है। उधर, दूध में मिलावट का भी खेल चल रहा है।

यह भी पढ़ें

Rajasthan News : जुलाई से चुनिंदा 57 हजार परिवारों को होगी राशन की होम डिलीवरी

कांटे को चैक किया: दूध के टैंकर को डेयरी में खड़ा करा प्लांट में अंदर लगे कांटे को चैक कराने के लिए एक्सपर्ट की टीम बुलाई गई। टीम ने शुक्रवार को आकर कांटे को चैक किया तो अंदर चिप लगी मिली। एक्सपर्ट के अनुसार दूध का टैंकर लाने वालों के द्वारा रिमोट कंट्रोल के माध्यम से प्लांट के कांटे को हैक कर वजन बढ़ाया जा रहा था।

डेयरी कर्मचारियों की भी मिलीभगत!

अलवर सरस डेयरी प्लांट में दूध टैंकर की तुलाई में चल रही गड़बड़ी में कर्मचारियों की मिलीभगत की पूरी संभावना है। दरअसल, प्लांट के अंदर लगे कांटे में दूध टैंकर मालिक के द्वारा बिना किसी कर्मचारी की मिलीभगत के चिप लगाना संभव नहीं है। ऐसे में डेयरी प्रबंधन अपने कर्मचारियों की मिलीभगत के बारे में भी पड़ताल कर रहा है।

Hindi News/ Alwar / डेयरी में घोटाला…कांटे को हैक कर बढ़ा देते थे दूध के टैंकर का वजन; राजस्थान के अलवर का मामला

ट्रेंडिंग वीडियो