बड़ी खुशखबरी: मार्च में शुरू होगा उत्तर भारत का सबसे बड़ा मेडिकल कॉलेज, 900 करोड़ की लागत से बना, विश्वस्तरीय सुविधाएं होंगी

अलवर में स्थित राजस्थान और उत्तर भारत के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज के मार्च में शुरू होने की पूरी सम्भावना है।

By: Lubhavan

Published: 28 Jan 2021, 11:47 AM IST

अलवर. बरसों के लम्बे इंतजार के बाद अलवर में 330 बेड का इएसआइसी अस्पताल इस साल मार्च से शुरू होने जा रहा है। जिसमें आमजन के लिए इलाज पूरी तरह से मुफ्त होगा। वहीं, इस सत्र जुलाई से यहां 100 सीट का मेडिकल कॉलेज भी शुरू होने की पूरी उम्मीद है।

अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज को शुरू करने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए इएसआइसी मेडिकल कॉलेज फरीदाबाद की टीम डीन डॉ. असीम दास के नेतृत्व में यहां पहुंची। टीम ने मंगलवार और बुधवार को एमआइए स्थित अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज का दौरा कर बिल्डिंग, उपकरण, एक्स-रे लैब, ब्लड बैंक व ऑपरेशन थियेटर आदि की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। टीम में इएसआइसी मेडिकल कॉलेज फरीदाबाद के डिप्टी डीन डॉ. अनिल कुमार पांडे, डॉ. जसवंत और डॉ. जफर अब्बास तथा अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विवेक तिवाड़ी और उप चिकित्सा अधीक्षक डॉ. महावीर सैनी भी शामिल रहे।

Alwar ESIC Medical College Will Start From March 2021

करीब 900 करोड़ की लागत से बना है भवन

अलवर के एमआइए स्थित इएसआइसी मेडिकल कॉलेज का विशालकाय भवन करीब 900 करोड़ रुपए की लागत से बना है। करीब चार साल से यह भवन बंद पड़ा हुआ था। लोकसभा चुनाव हो या विधानसभा चुनाव सभी में मेडिकल कॉलेज चुनावी मुद्दा बना। बढ़ते दबाव को देखते हुए इएसआइसी ने मेडिकल कॉलेज में 50 बेड का अस्पताल शुरू किया, लेकिन उसका लाभ भी नहीं मिल रहा था। केंद्र सरकार की तरफ से लंबे इंतजार के बाद मेडिकल कॉलेज को हरी झंडी दे दी है। मेडिकल कॉलेज शुरू होने से अलवर के लोगों को रोजगार मिलेगा साथ ही यहां के युवाओं को मेडिकल की पढ़ाई के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा।

क्या है मेडिकल कॉलेज में खास

मेडिकल कॉलेज में 200 स्टाफ के रहने के लिए फ्लैट बने हुए हैं। इसके अलावा सभी अधिकारी स्तर के लोगों के लिए अलग से विला बने हुए हैं। साथ ही इनडोर स्टेडियम, इंडोर ऑडिटोरियम, मुर्दाघर, कैंटीन व लाइब्रेरी सहित तमाम सुविधाएं हैं। इसके अलावा पूरा मेडिकल कॉलेज सेंट्रलाइज एसी से लैस है। इसके अलावा मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए आने वाले सभी मरीजों के परिजनों के लिए भी रुकने की व्यवस्था है। मेडिकल कॉलेज में विदेशी व इंडियन तकनीक के ऑपरेशन थिएटर हैं। सभी विभाग के लिए अलग से प्रैक्टिस की व्यवस्था है।

इलाज व खाना सबकुछ मुफ्त मिलेगा

अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विवेक तिवाड़ी ने बताया कि इएसआइसी मुख्यालय दिल्ली ने 25 जनवरी को ही घोषणा की है कि अलवर में शुरू होने वाले 330 बेड के इएसआइसी अस्पताल आमजन के लिए पूरी तरह से नि:शुल्क रहेगा। यहां मरीजों को सभी प्रकर के उपचार, दवा, जांच व ऑपरेशन आदि की सुविधा मुफ्त मिलेगी। साथ ही मरीजों को खाना भी मुफ्त दिया जाएगा।

Alwar ESIC Medical College Will Start From March 2021

सभी चिकित्सा सुविधाएं मिलेगी : डीन

फरीदाबाद इएसआइसी मेडिकल कॉलेज के डीन तथा अलवर मेडिकल कॉलेज के कार्यवाहक डीन डॉ. असीम दास ने पत्रिका से बातचीत में बताया कि अलवर इएसआइसी अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज को शीघ्र चालू करने के लिए तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं। यहां टीचिंग फैकल्टी और सीनियर रेजीडेंट्स (एसआर) की भर्ती के पदों पर भर्ती के लिए देशभर के सभी इएसआइसी मेडिकल कॉलेज से आवेदन मांगे जा रहे हैं। जिनके 13 व 14 फरवरी को जयपुर स्थित इएसआइसी के रीजनल कार्यालय पर इंटरव्यू होंगे। नियुक्ति के तुरंत बाद स्टाफ यहां भेज दिया जाएगा और मार्च माह की सभी चिकित्सा सुविधाओं के साथ यहां 330 बेड का अस्पताल चालू कर दिया जाएगा। साथ ही 100 सीट का मेडिकल कॉलेज भी इसी सत्र से चालू करने के पूरे प्रयास हैं।

इन पदों पर होगी जल्द भर्ती

अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विवेक तिवाड़ी ने बताया कि एमआइए स्थित अलवर इएसआइसी मेडिकल कॉलेज भवन में फिलहाल 50 बेड का अस्पताल चल रहा है। यहां फिलहाल करीब 60 मेडिकल स्टाफ और 140 ठेके के सफाईकर्मी व सिक्योरिटी गार्ड आदि हैं। जल्द ही यहां के लिए 47 सीनियर रेजीडेंट्स, 30 जूनियर रेजीडेंट्स, 54 टीचिंग फैकल्टी, 247 स्टाफ नर्स तथा 300 पैरा मेडिकल व क्लेरिकल स्टाफ की भर्ती की जाएगी।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned