भतीजे के चाची से थे सम्बन्ध, चाचा को पता चला तो दोनों ने वैलेंटाइन डे पर गला घोंटकर कर दी हत्या

पुलिस ने लम्बा अनुसन्धान कर आरोपी युवक मदनमोहन और गिरफ्तार कर लिया है।

By: Lubhavan

Published: 22 Feb 2021, 11:31 AM IST

अलवर जिले के भिवाड़ी में हुए ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी यूआईटी थाना पुलिस ने सुलझा ली है। जिसमें पत्नी ने भतीजे के साथ मिलकर अपने पति कमलसिंह की हत्या करना सामने आया है। पुलिस ने पति की हत्या की आरोपी पत्नी व युवक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी जमना देवी उर्फ लक्ष्मी पत्नी कमलसिंह जादोन निवासी उमराया थाना छाता जिला मथुरा यूपी हाल किरायेदार प्रधान कॉलोनी सेक्टर 2 थाना भिवाड़ी यूआईटी व आरोपी युवक मदनमोहन (19) पुत्र श्रीचंद जादोन निवासी सांखी थाना छाता जिला मथुरा यूपी है।

यूआईटी थानाधिकारी सुरेंद्रकुमार ने बताया कि 15 फरवरी 2021 को सुबह करीब 7.30 बजे सूचना मिली थी कि यूआईटी भिवाड़ी थाना क्षेत्र के सेक्टर पांच में खाली प्लाट के सामने सडक़ किनारे मृतावस्था में एक व्यक्ति उलटा पड़ा है। सूचना पर एसपी राममूर्ति जोशी के निर्देशन में एएसपी अरूण माच्या व पुलिस उपाधीक्षक हरिराम कुमावत के सुपरविजन में यूआईटी थानाधिकारी के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन कर घटना के संबंध में गहनता से अनुसंधान प्रारम्भ किया। टीम ने घटना स्थल पहुंच कर आसपास के लोगों से मृतक के बारे में जानकारी की। आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। सीसीटीवी फुटेज में 14 फरवरी की रात करीब सवा एक बजे घटना स्थल की तरफ एक बाइक पर चालक, एक युवक व महिला सवार नजर आए। शव की शिनाख्त के लिए इश्तहार भी जारी कर घटना स्थल के आसपास सेक्टर 5, 6, 3, 2 व आलमपुर में डोर टू डोर पहुंच के परिजनों की तलाश की गई। आलमपुर सेक्टर 2 प्रधान कॉलोनी में मृतक का फोटो दिखाने पर जानकारी में आया कि मृतक का नाम कमल सिंह है और प्रधान कॉलोनी में पत्नी जमना देवी सहित किराए पर रहता है। मृतक का भाई भी अपनी पत्नी सहित पास में ही रामनिवास कॉलोनी में रहता है।

फूट-फूट कर रोने का किया पहले नाटक

पुलिस के अनुसार मृतक की पत्नी जमनादेवी से पूछताछ की तो प्रथम बार में तो वह फूट-फूट कर रोने का नाटक करती रहीं। पुलिस को भ्रमित भी किया कि उसका पति एटीएम से पैसे निकलवाने गया था। इसके बाद मृतक के बड़े भाई भीमसिंह से पुलिस ने पूछताछ की तो सामने आया कि मृतक कमल सिंह उसका सगा भाई है और वे उमराया थाना छाता जिला मथुरा यूपी के मूल निवासी हैं। कमलसिंह अपनी पत्नी के साथ सेक्टर 2 में प्रधान कॉलोनी में किराए के मकान में तथा वह स्वयं अपनी पत्नी के साथ आलमपुर में रामनिवास कॉलोनी में किराए के मकान में रहता हैं। दोनों भाई माश मेटल कंपनी चौक में काम करते थे। दोनों ही साथ-साथ कंपनी में काम करने जाते थे।

लंबी पूछताछ में उगला राज

मृतक की शिनाख्त के बाद पुलिस को मृतक की पत्नी जमना पर ही संदेह होने पर फिर से उससे पूछताछ की गई। लंबी पूछताछ में जानकारी में आया कि करीब एक साल पहले आरोपी पत्नी अपनी बुआ सास के पौते की शादी में सांखी, मथुरा गई थी। वहां रुकने के दौरान दूल्हे के छोटे भाई मदनमोहन से लगाव हो गया। दोनों ने टेलफोन से बात करना शुरू किया जो आगे चलकर प्रेम संबंध में तब्दील हो गया। मृतक कमल सिंह ने लगभग 6 महीने पहले पत्नी को उससे टेलीफोन पर बात करते पकड़ लिया था। समझाने पर तब पत्नी ने माफी मांग उससे बात नहीं करने की सौगंध खाई थी, लेकिन दो महीने बाद ही फिर आरोपी से बात करते पकड़े गई। इस पर पति ने उसके साथ मारपीट की तथा आरोपी युवक को फोन कर बताया कि पत्नी से बलात्कार का उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराऊंगा।

14 फरवरी 2021 को कमल सिंह के बुलाने पर आरोपी मदनमोहन शाम 5 बजे उसके घर आने पर दोनों ने शराब पी। कमल ने पूरी कॉलोनी को एकत्रित कर तथा रिश्तेदारों को फोन कर उसकी पत्नी के साथ मदन को गलत काम करते पकडऩे की बात बताने की आरोपी से कही। इस पर पत्नी ने ऐसा नहीं करने के लिए पति को मना किया, लेकिन नहीं मानने पर आरोपी युवक मदन ने कमल को पकड़ लिया और जमना ने अपनी चुन्नी को पति के गले में डालकर जोर से गला घोंट दिया। जिससे उसकी मृत्यु हो गई। आरोपी पत्नी व युवक दोनों ने शव को ठिकाने लगाने के लिए योजना बनाई। जिसके तहत जमना अपनी बहन के घर बाइक की चाबी लेने गई और बहन को बताया को पति एटीएम से पैसे निकालकर बल्लभगढ़ देने की कह गया है। फिर दोनों आरोपियों ने मृतक को बाइक पर बीच में इस तरह बैठाया कि कोई बीमार को हॉस्पिटल दिखाने ले जा रहे हो। दोनों शव को बाबा मोहनराम के जंगलों में डालने के लिए रवाना हुए, लेकिन पीछे की तरफ से पुलिस गश्त की मोटरसाइकिल देखकर हेतराम चौक से सेक्टर 5 को तरफ घूम गए। सेक्टर 5 व 6 वाले रोड पर बस की लाइट दिखाई देने पर दोनों आरोपियों ने शव को सेक्टर 5 में खाली प्लाट के सामने सडक़ किनारे पटक वापस घर प्रधान कॉलोनी आ गए। मोटरसाइकिल पर मृतक कमल के पैर जमीन पर लटकने के कारण दोनों पैरों के अंगूठे आगे से छिल गए
थे। उसके बाद आरोपी मदन फरीदाबाद चला गया था, जिसे तलाश कर गिरफ्तार कर लिया।

Show More
Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned