थाने के पास ही करवा रहा था नशे का अवैध कारोबार, पुलिस अधीक्षक ने SHO को सस्पेंड किया

पुलिस की शह पर बड़े स्तर पर नशे, सट्टे और जुए का अवैध कारोबार चल रहा था। जिसकी जांच सही पाए जाने पर पुलिस ने थानाधिकारी को सस्पेंड कर दिया।

By: Lubhavan

Published: 26 Feb 2021, 08:40 AM IST

अलवर. अलवर जिले के खैरथल कस्बे में जुआ-सट्टा और नशे के अवैध कारोबार सहित अन्य गतिविधियों के चलते भिवाड़ी पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने गुरुवार को दारासिंह मीणा को निलंबित कर दिया। उनकी जगह शेरसिंह चौधरी को खैरथल थानाधिकारी लगाया गया है।

पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने बताया कि खैरथल थानाधिकारी दारासिंह के खिलाफ लम्बे समय से कस्बे अवैध गतिविधियों को शह देने की शिकायतें मिल रही थी। खैरथल थाने के 500 मीटर के दायरे में ही कुछ होटल-ढाबों पर अवैध शराब बेची जा रही थी। जिनकी किशनगढ़बास डीएसपी से गोपनीय जांच कराई गई, जिसमें शिकायतें सही पाई गई। जिस पर खैरथल थानाधिकारी दारासिंह को निलंबित किया गया।

कस्बे के लोगों ने एसपी को दिया धन्यवाद

पुलिस अधीक्षक को कस्बे के कई लोगों ने अवैध गतिविधियों की शिकायत की थी। कस्बे में पुलिस की शह पर अवैध गतिविधियां इस कदर बढ़ गई थी कि थानाधिकारी के निलंबन के बाद कस्बे के कई लोगों ने भिवाड़ी पुलिस अधीक्षक को फोन कर व मैसेज भेजकर इस कार्रवाई के लिए धन्यवाद दिया।

कस्बे पुलिस और अवैध कारोबारियों का गठजोड़

खैरथल कस्बे में पुलिस और अवैध कारोबारियों के बीच तगड़ा गठजोड़ रहा है। ऐसे में यहां बेखौफ होकर खुलेआम चरस, गांजा, डोडा पोस्त और अवैध शराब बेची जा रही है। जुलाई 2019 में तत्कालीन थानाधिकारी संजय पूनिया को गांजा छिपाकर मुल्जिमों को छोडऩे पर थाने से हटाकर जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय की अपराध शाखा में अटैच कर दिया था।

रात आठ बजे बाद भी खुलेआम बिकती है शराब

कस्बे के मुख्य फाटक के समीप होटलों व बाहर सडक़ पर रात आठ बजे के बाद खुलेआम शराब बेची और परोसी जा रही है। खैरथल थानाधिकारी व पुलिस रात को अक्सर फाटक के समीप गश्त पर रहते थे। वहां से 20 मीटर की दूरी पर ही गांजा व अन्य मादक पदार्थ अवैध रूप से बेचे जाते हैं।

खाकी की साख पर दाग लगा रहे पुलिस अधिकारी

अलवर व भिवाड़ी पुलिस जिले के कई पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मी खाकी की साख पर दाग लगा रहे हैं। गत वर्ष भिवाड़ी एसपी ने शाहजहांपुर के तत्कालीन थानाधिकारी सुरेंद्र मालिक को जुआरियों से मिलीभगत चलते निलंबित किया था। इसके बाद तत्कालीन नीमराणा थानाधिकारी हरदयाल सिंह को निलंबित किया था। अलवर एसपी ने बड़ौदामेव थानाधिकारी रामकिशन यादव और एएसआई पप्पूराम मीणा को निलंबित किया था। हाल ही में मालाखेड़ा थानाधिकारी सज्जन कुमार व थानागाजी एसएचओ सुरेश कुमार को जयपुर रेंज आइजी ने लाइन हाजिर किया है। वहीं, डीएसपी सपात खान को एसीबी ने रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned