कर्फ्यू से रोडवेज पर फिर गहराया घाटे का संकट, संचालन 50 फीसदी तक घटा, नहीं मिल रहे यात्री

कोरोना के संक्रमण के कारण रोडवेज को नुकसान हो रहा है। यात्रीभार 50 फीसदी तक कम हो गया है।

By: Lubhavan

Updated: 21 Apr 2021, 12:57 PM IST

अलवर. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लगाए गए कर्फ्यू से फिर राजस्थान रोडवेज पर घाटे का संकट गहरा गया है। कर्फ्यू के कारण 50 फीसदी बसों का ही संचालन हो पा रहा है तथा जिन रूटों पर बसों का संचालन किया जा रहा है वहां भी यात्रीभार काफी कम मिल रहा है। अलवर केन्द्रीय बस स्टैण्ड से पिछले तीन दिन से कर्फ्यू के कारण 50 फीसदी बसों का संचालन कम हो गया है। बस स्टैण्ड सूना पड़ा हुआ है तथा बसों में भी यात्रियों की संख्या काफी कम हो गई है।

मत्स्य नगर आगार के मुख्य प्रबंधक हेमंत शर्मा ने बताया कि कर्फ्यू के कारण रोडवेज बसों में यात्रीभार नहीं मिल पा रहा है। जिसके कारण 50 फीसदी बसों का ही संचालन किया जा रहा है। कर्फ्यू से पहले डिपो की रोजाना की आय करीब 13-14 लाख रुपए थी, जो कि कर्फ्यू के दौरान घटकर आधी से भी कम रह गई है। कर्फ्यू के कारण सोमवार को काफी 50 प्रतिशत रूटों पर बसों को नहीं चलाया गया।

वहीं, अलवर आगार के यातायात प्रबंधक दीपक गौड़ ने बताया किकर्फ्यू के कारण बसों में यात्रीभार काफी कम हो गया है। जिसके कारण बसों का संचालन भी प्रभावित हो रहा है। कर्फ्यू के कारण सोमवार को अलवर डिपो की करीब 32 गाडिय़ों का विभिन्न रूटों पर संचालन नहीं किया गया।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned