हनुमान बेनीवाल ने एनडीए से अलग होने का ऐलान किया, कृषि कानून के विरोध में तोड़ा गठबंधन

RLP Chief Hanuman Beniwal Quits NDA: ( Rashtriya Loktantrik Party ) राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक पार्टी के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल ने एनडीए से गठबंधन तोड़ने का एलान कर दिया है। उन्होंने राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर पर किसानों को सम्बोधित करते हुए यह एलान किया।

By: Lubhavan

Updated: 26 Dec 2020, 07:45 PM IST

अलवर. Hanuman Beniwal Quits NDA: राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक पार्टी के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल ने शनिवार को एनडीए से अलग होने का ऐलान कर दिया है। बेनीवाल ने राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर पर किसानों को सम्बोधित करते हुए एनडीए से नाता तोड़ने की बात कही। बेनीवाल ने मंच से ऐलान किया कि केंद्र सरकार किसान विरोधी बिल वापस नहीं ले रही है। इसलिए हनुमान बेनीवाल एनडीए में नहीं रहेंगे। मैंने एनडीए छोड़ दी है।

हनुमान बेनीवाल ने कहा कि वे कांग्रेस के साथ कोई भी गठबंधन नहीं करेंगे। बेनीवाल ने कहा कि शनिवार रात उनका पड़ाव शाहजहांपुर बॉर्डर पर ही रहेगा। अगली रणनीति बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसान निधि से किसानों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होगी, किसानों की स्थिति उसके माल 4 गुना कीमत पर मंडी में जाए और बिक्री हो। किसान के बेटों को रोजगार मिले। शनिवार को यहां राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के अध्यक्ष और नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल पहुंचे। उनके साथ 200 गाड़ियों में करीब 800 लोगों का काफिला भी बॉर्डर पर पहुंचा है।

बेनीवाल ने कहा कि भाजपा से गठबंधन समाप्त हो गया है। अगर जरुरत पड़ी तो संसद से इस्तीफ़ा दे दूंगा। अगर कानून लाते वक्त मैं संसद में होता तो यह बिल की प्रतियां
फाड़ देता। अकाली दल ने बिल का विरोध किया था, मैं भी उसी समय विरोध करता। लेकिन मेरी कोरोना की झूटी पॉजिटिव रिपोर्ट बताकर मुझे लोकसभा में एंट्री नहीं दी। मैं 12 तारीख को 10-15 हजार किसानों के साथ शाहजहांपुर बॉर्डर पर आया था, लेकिन गृह मंत्री ने कहा था कि थोड़ा समय दो, सरकार किसानों को लेकर चिंतित है। तब आंदोलन स्थगित किया था, लेकिन अब आर-पार की लड़ाई होगी।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned