पाण्डुपोल जाने वाले दुपहिया-चौपहिया वाहनों के शुल्क में मिलेगी छूट-बिश्नोई

वन विभाग में वनकर्मियों की जल्द एक हजार भर्तियां निकाली जाएगी
मंत्री सुखराम बिश्नोई ने एक दिवसीय दौरे पर अलवर आए

By: Pradeep

Published: 17 Sep 2021, 02:11 AM IST

नारायणपुर (अलवर). प्रदेश के वन मंत्री सुखराम बिश्नोई ने कहा कि सरिस्का अभयारण्य क्षेत्र में स्थित धार्मिक स्थलों पर आने जाने के लिए लोगों को राहत प्रदान की जाएगी। मोटरसाइकिल का शुल्क न के बराबर होगा और चौपहिया वाहनों के लिए भी राहत दी जाएगी। इस संबंध में मुख्यमंत्री के समक्ष बात रखकर वाइड लाइफ से भी बातकर जितनी राहत दी जा सकेगी उतनी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वन विभाग में जल्द एक हजार भर्तियां निकाली जाएगी, ताकि अभयारण्य क्षेत्रों में वनकर्मियों की कमी नहीं रहे।
मंत्री बिश्नोई गुरुवार को एक दिवसीय दौरे पर अलवर आए थे। यहां सरिस्का अभयारण्य क्षेत्र में बसे गांवों को विस्थापित करने के मामले में ग्रामीणों व वन विभाग के बीच चल रहा आपसी विवाद को लेकर श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली, बानसूर विधायक शकुंतला रावत, थानागाजी विधायक कान्ति प्रसाद मीणा व विधयक मेवाराम के साथ ग्रामीणों की समस्या सुन रहे थे। ग्रामीणों ने वन मंत्री के समक्ष सरिस्का अभयारण्य क्षेत्र में स्थित पाण्डूपोल हनुमानजी महाराज के दर्शनों के लिए अलवर जिले के वाहनों मोटरसाइकिल व चौपहिया वाहनों का चार्ज नहीं लेने की बात रखी। इस पर मंत्री बिश्नोई ने कहा कि मोटरसाइकिल के लिए ना के बराबर तथा चौपहिया वाहनों के लिए कुछ राहत दी जाएगी। इस संबंध में उन्होंने दुपहिया व चौपहिया वाहनों पर लगाए जा रहे शुल्क को घटाकर न्यूनतम करने के प्रस्ताव बनाकर भिजवाने के निर्देश दिए।


पर्यटक स्थलों का होगा जीर्णोद्धार व विकास
सरिस्का अभयारण्य क्षेत्र में स्थित जितने भी पर्यटक स्थल हैं। जिनमें तालवृक्ष, भर्तृहरि, नीलकंठ महादेव उनके जीर्णोद्धार कर विकास किया जाएगा। पर्यटकों के लिए विकसित किया जाएगा जिससे राजस्व आय बढ़ेगी। पुरातत्व विभाग की ओर से बनाई गई छतरियों व भर्तृहरि नीलकंठ महादेव तथा राजोरगढ़ का पुराने आने जाने के रास्तों को नवीनीकरण किया जाएगा। इसके लिए शीघ्र मुख्यमंत्री के साथ बात की जाएगी, ताकि कोई विवाद नहीं हो। वन विभाग क्षेत्र में बसे गांवों की जमीन को रेगुलराइज करने पट्टा जारी करने सरिस्का रोड समाधान तथा विस्थापन में रही कमीयों सहित अन्य समस्याएं रखी जाएंगी।


वनकर्मियों की कमी होगी होगी
सरिस्का अभयारण्य क्षेत्र में वनकर्मियों की कमी को लेकर वन मंत्री सुखराम बिश्नोई ने कहा कि जल्द ही प्रदेश में वन विभाग में एक हजार भर्ती करने के लिए प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। इस मौके पर सरिस्का सीसीएफ,एसीएफ अरुण कुमार,फोरेस्टर जितेन्द्र चौधरी, पेमाराम सैनी सरपंच प्रतिनिधि, सीताराम सैनी सहित ग्रामीण मौजूद थे।

Pradeep Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned