आंखों को रोशनी देने में अव्वल था अलवर सामान्य अस्पताल, कोरोना महामारी ने लगाया व्यवस्था में अड़ंगा, मरीज परेशान

अलवर सामान्य अस्पताल में कोरोना से पहले अधिक संख्या में आंखों के ऑपरेशन होते थे, लेकिन अब कोरोना के कारण मरीजों को परेशानी हो रही है

By: Lubhavan

Published: 28 Sep 2020, 09:17 AM IST

अलवर. कोरोना महामारी के चलते जिला अस्पताल की व्यवस्था बार-बार गड़बड़ाने लगी है। एक बार फिर से अस्पताल में अधिकतर ऑपरेशन बंद है लेकिन, आंखों के ऑपरेशन सुचारू हैं। हालांकि आखों के ऑपरेशन भी पहले से करीब 50 प्रतिशत ही हो पा रहे हैं। आंखों के ऑपरेशन के मामले में जयपुर के बाद जिला अस्पताल अलवर में सबसे अधिक ऑपरेशन होते रहे हैं। अब कोरोना के कारण पहले मरीजों की कोविड की जांच होती है। उसके बाद ही ऑपरेशन की तारीख दी जाती है। जब तक मरीज को इन्तजार करना पड़ता है। कई बार तो कोविड की जांच होने समय लग जाता है। बहुत बार जिला अस्पताल में चिकित्सक व स्टाफ इधर-उधर हो जाते हैं। जिसके कारण ऑपरेशन अटक जाते हैं।

पहले हर दिन 10 से अधिक ऑपरेशन

कोरोना महामारी से पहले जिला अस्पताल में औसतन हर दिन 10 मरीजों की आखों के ऑपरेशन होते रहे हैं। अब हालात ये हैं कि पिछले 10 दिनों से 30 से 40 ही ऑपरेशन हो सके हैं। मतलब आंखों की परेशानी झेल रही मरीजों के जीवन में रोशन के लिए महामारी का अड़ंगा कायम है। बड़ी संख्या में बुजुर्गों गांवों से जिला अस्पताल नहीं आ पा रहे हैं। उनके जीवन में बिन आंखों के अंधेरा छाया हुआ है।

आंखों के ऑपरेशन जारी

जिला अस्पताल में आंखों के ऑपरेशन जारी है। अब भी नियमित रूप से ऑपरेशन हो रहे हैं। बीच में स्टाफ को इधर उधर लगाना पड़ा। जिसके कारण दूसरे ऑपरेशन प्रभावित हुए हैं। जिनको भी जल्दी सुचारू कर रहे हैं।
डॉ. सुनील चौहान, पीएमओ, अलवर

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned